मेरे प्रेमी की प्रिय पत्नी

तुम पिछले 15 वर्षों से उसके साथ विवाहित हो, जबकि मैं....

Tuli Banerjee | Posted on 30 Mar 2017
मेरे प्रेमी की प्रिय पत्नी

उसने उसका जन्मदिन मनाने का स्टेटस पोस्ट किया और उस पोस्ट में तुम्हें टैग किया। मैं तुम्हारे चित्र को बार-बार देखने से स्वयं को रोक ही नहीं पा रही हूँ। ये रहे तुम दोनों, एक मित्र के घर पर एक साथ हंसते हुए, उसके, तुम्हारे और तुम्हारे पालतू खरगोश के चित्र। उसने कहा था कि एक समय ऐसा था जब तुम दोनों खरगोशों की तरह प्रेमालाप करते थे। मैं तुम्हारे जीवन के बारे में कितना कुछ जानती हूँ।

तुम दोनों 15 वर्ष से विवाहित हो, और मैं 6 महीनों से तुम्हारे पति की प्रेमिका हूँ। तुम कई स्थानों पर साथ में घूमे हो, तुमने अपना घर बसाया है और साथ में एक बेटे को पाल रहे हो। मैं तुम्हारे व्यक्तिगत विवरणों पर तुम्हारी तवज्जो की सराहना करती हूँ -तुम्हारी नौकरी, तुम्हारी शरीर के आकार के लिए जागरूकता एवं सुंदरता संवर्धन। तुम स्वच्छता को लकर काफी उत्साहित रहती हो, धुली हुई प्लेट्स को दराज के भीतर रखने की बजाए प्लेटफार्म के दाईं ओर रखने के लिए नौकरानी और सास को बार-बार कहती हो। मैं ये बातें कैसे जानती हूँ?

क्योंकि मैं तुम्हारे पति की रखैल हूँ, वह जिससे तुम्हारा पति बातें करता है - जब वह तुम्हारे बारे में बात करता हुआ मुझे एक गिलास में ग्रे गूस डालकर देता है, मैं सिर हिला कर इशारा करती जाती हूँ और मुस्कुराती हूँ। मैं वह हूँ जो उत्साहपूर्वक तुम्हारे पति से प्रेम करती है।

तुम्हारा पति, वह व्यक्ति जो खरीदारी करता है, तुम्हारे टायर का पंचर ठीक करता है, जो तुम्हारे बिमार पिता के लिए आवश्यक दवाइयां भेजता है, और वह जो मुझे भी उत्साहपूर्वक प्रेम करता है। अधिक मज़बूत क्या है, 15 वर्षों का साथ या जोशीले जुनून के छह महीने?

क्या तुम कभी उसे उसी जुनून के साथ देखती हो जैसे मैं देखती हूँ? क्या तुम्हें देर रात की, नींद में लिप्त हमारी कामुक बातचात के बारे में ज़रा सा भी अंदाज़ा है, जो हम अपने-अपने बिस्तर से करते हैं? वह कहता है ‘‘मैं तुमसे प्यार करता हूँ और तुम्हें बुरी तरह चाहता हूँ।” जिस तरह मैं अपने बालों को प्राकृतिक रूप से लहरदार रखती हूँ, उसे वह प्यार करता है। उसे बहुत पसंद है कि मैं, उस जिम से जहाँ तुम जाती हो, उस आहार से जिसका तुम पालन करती हो और जो ऑब्सेसिव कम्पलसिव डिसआर्डर तुमको है, से स्वयं को दूर रखती हूँ। उसका इरादा तुलना करने का नहीं है, लेकिन स्वयं को फिट और आकर्षक रखने का तुम्हारा जुनून और इसके लिए उन उन्मादी तरीकों को अनदेखा करना जिनमें वह अंतरंग होना चाहता है-उसे पूरी तरह उचाट कर देता है। मेरा मुक्त स्वभाव और उसके लव बाइट्स के लिए मरना, उसे कामना और वासना सहित जीवित महसूस करवाता है। क्या तुम्हें चुम्बनों का वह हार याद है जो तुमने फिल्म के प्रिमियर पर मेरे गले में देखा था? हाँ, वह वही था, जिसने अपनी लव बाइट्स से मुझे सजाया था...ओह नहीं वह कहता है कि यह उसके द्वारा मुझे लिखे गए प्रेम पत्र हैं।

लेकिन प्रिय सखी, अगर कभी भी तुम्हें हमारे बारे में पता चले तो मुझे माफ कर देना।

मैं तुम्हारे पति के साथ ऐसा कुछ नहीं कर रहीं हूँ जो तुम उसके साथ करना चाहती हो। मैं केवल वही कर रही हूँ जो तुम नहीं करना चाहती हो; तुम अपने पति के साथ सोना नहीं चाहती हो। मैं चाहती हूँ। तुम्हारा पति कामुकता, संयम और प्रेम का भूखा है। तुम उनमें से कुछ भी करना नहीं चाहती हो। मैं चाहती हूँ।

गहरी आपसी समझ जो हम साझा करते हैं, बेहिचक हंसी, आम रूचियाँ - तुमने आखरी बार इसमें से किसी का अनुभव कब किया था? अगर तुम इनमें से किसी भी अहसास को याद नहीं कर सकती, तो तुम्हें निश्चित ही मुझे माफ कर देना चाहिए।

लेकिन क्या तुमको लगता है कि मेरे पास सब कुछ है? नहीं, मैं बहुत अधिक चाहती हूँ। मुझे तुमसे बहुत ईर्ष्या होती है - इसलिए नहीं क्योंकि वह तुम्हारे साथ हर रात एक ही बिस्तर पर सोता है। बल्कि इसलिए क्योंकि मैं उसके साथ दैनिक काम करना चाहती हूँ - जैसे उसके कपड़े धोने के लिए पटकने से पहले उसके शरीर की गंध सूंघना, किसी सामाजिक समारोह में उसका हाथ पकड़ना, सप्ताह के अंत में उसके लिए खाना पकाना, उसे उसकी बाइक साफ करते समय पसीने में लथपथ देखना....वे वस्तुएं जिनका महत्त्व तुम नहीं समझती हो। मैं इस तथ्य को स्वीकार करने के लिए संघर्ष करती हूँ कि वह मुझसे दूरी बनाए रखने के लिए कड़े प्रयास करता है और मेरे प्रति उसकी भावनाओं से लड़ता है।

तुम शायद कहोगी कि मुझे आगे बढ़ जाना चाहिए। मुझे दर्द निगलते हुए कहीं और प्रेम ढूंढना चाहिए। लेकिन क्या मैं कर सकती हूँ? क्या मैं करूंगी? नहीं, मैं बहुत अधिक भूखी हूँ, मैं एक विवाहित पुरूष से प्रेम करती हूँ।

मुझे खुशी है कि तुम इस पत्र को कभी नहीं देख पाओगी। तुम्हें यह जानने की ज़रूरत नहीं है कि वह सुबह सबसे पहले मुझे मैसेज करता है और रात को सोने से पहले आखरी बात भी मुझसे ही करता है। ये उसके छोटे-छोटे टुकडे़ हैं जो मेरे पास है और मैंने उनके साथ रहना सीख लिया है।

लेकिन मैं वादा करती हूँ, मैं उसे तुमसे छीन नहीं लूंगी- क्योंकि अपने दिल की गहराईयों में, मैं जानती हूँ कि वह तुमसे प्रेम करता है, वह तुम्हारा सम्मान करता है.....शायद मुझसे भी ज़्यादा।

और हाँ, मैं बता देती हूँ, मैं तुमसे प्यार करती हूँ -क्योंकि तुम्हारा और मेरा एक संपर्क है, हम दोनों एक ही पुरूष के लिए पागल हैं....केवल अलग तरह से। मैं तुम्हारी दूर की सहेली हूँ, एक रखैल।

(जैसा तूली बैनर्जी को बताया गया)

Views:305
Comments : 0

Comments

Default User  

Facebook Comments

Trending Stories

Related Stories

Disclaimer: The information, views, and opinions expressed here are those of the author and do not necessarily reflect the views and opinions of Bonobology.

Copyright © 2017 - www.bonobology.com All Rights Reserved Sitemap