15 किंकी चीज़ें जिसके बारे में हर पुरूष कल्पना करता है

by Team Bonobology
kinki-couple

2011 में ओहियो विश्वविद्यालय में किए गए एक शोध में यह निष्कर्ष निकला कि पुरूष दिन में लगभग 19 बार सेक्स के बारे में सोचते हैं, स्त्रियों से 9 गुना अधिक बार। साथ ही, जहां स्त्रियां रोमांस की कल्पना करती हैं, पुरूष किंकी और प्रयोगात्मक चीज़ों की कल्पना करते हैं -2012 में ग्रनाडा विश्वविद्यालय में किया गया एक शोध कहता है। और पुरूष कल्पना करें भी क्यों नहीं? कल्पना करना हमारे दैनिक सांसारिक जीवन से एक ब्रेक देता है और आम यौन सीमाओं के परे हमारे किंकी पक्ष का अन्वेशण करने के लिए प्रेरित करता है।

पुरूषों की किंकी और यौन फंतासियां होती हैं – और यहां हम उन्हें उजागर कर रहे हैं

यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है, है ना? हम, स्त्रियों की भी अपनी फंतासियां होती हैं। पुरूष स्त्रियों से इतने भी अलग नहीं हैं। आपको बता दें कि शरीर में सबसे ज़्यादा कामुक अंग मस्तिष्क है और वहीं से सब कामुक विचार आते हैं। कल्पनाएं पुरूषों को सामान्य अंतरंग संबंधों में बहुत आवश्यक उत्तेजना प्रदान करती हैं, और जहां वे इस बारे में बात नहीं करते, सेक्स के बारे में कल्पना करना और थोड़ा प्रयोगात्मक होना सामान्य है। उसके मन में, वह आपके प्रति बहुत उनमुक्त और पागल हो सकता है और हो सकता है वह कभी यह बताना ना चाहे, लेकिन उसके पास कामुक कल्पनाओं की भरमार है। जब आप उसे उपकृत कर देंगी, तो वह आपका शुक्रिया अदा करते नहीं थकेगा। हो सकता है आप उसके सपनों की रानी बन जाएं।
[restrict]
उनका दिमाग किंकी विचारों से भरा होता है, जो उपयोग किए जाने पर आपके दिमाग को भी अजीब विचारों से भर देंगे। हम सुझाव देते हैं कि आप आज इन्हें आज़माएं!

1. पुरूष पर हावी दानवी

पहल करने वाली स्त्रियां पुरूषों को बहुत ज़्यादा उत्साहित करती हैं। और लुभाने और उत्तेजित करने का काम हमेशा पुरूष ही क्यों करें? सबसे बड़ा किंक जिसके बारे में पुरूष कल्पना करते हैं वह है घुटने तक लंबी स्टिलेटोज़, नेट वाली स्टॉकिंग और रेड ब्रा पहनी हुई स्त्री, जिसने खुद को केवल इतना ढंका हो जिसे देखकर उसका मन उत्तेजित हो जाए। और एक चाबुक (संभवतः?)। मेरा मतलब है कि एक चाबुक के बिना आप हावी स्त्री कैसे हो सकती हैं लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि चाबुक का उपयोग कम से कम रखें।

2. हर तरह का सेक्स

मतलब हर तरह का सेक्स। बगैर किसी आलोचना के सभी विचित्र मुद्राओं का प्रयोग करना। उनके लिए कुछ भी विचित्र नहीं है। आखिरकार यह सेक्स है।

3. उस पर धार मारना (स्क्वर्ट करना)

स्त्रियां इसके बारे में बहुत ज़्यादा सचेत हैं। धार मारना सभी तरह के संकोचों को छोड़ना है लेकिन पुरूषों के लिए एक बहुत बड़ा किंक है। एक पुरूष के लिए यह एक उपलब्धि है।

4. ‘डैडी’ होना

कुछ पुरूषों को सेक्स के दौरान डैडी कहा जाना पसंद होता है। वे कभी भी अपनी गर्लफ्रैंड को नहीं कहेंगे कि उन्हें डैडी बुलाएं लेकिन निश्चित रूप से उन्हें यह बहुत पसंद आता है।

5. शोर करना, सार्वजनिक स्थान पर करना

ऊंची आवाज़ में आंहे, चीखें, ज़ोर से खींचना। जितनी ज़्यादा ऊंची आवाज़ में उन्हें प्रोत्साहन मिलता है, उतना ही बेहतर होता है।

6. एक थ्रीसम

हर कोई इसे चाहता है। सभी पुरूषों दो लड़कियों और एक लड़के का थ्रीसम चाहते हैं। स्त्रियां कितनी भी हो उसे अच्छी ही लगती हैं। जब वह तैयार हो रहा हो, तब उसके सामने दो लड़कियों की प्रेम क्रिया, हर पुरूष की जीती जागती फंतासी है।

7. अधिक ओरल सेक्स

क्योंकि जिस स्त्री से आप प्यार करते हैं उसके द्वारा यह चीज़ सबसे ज़्यादा आनंददायक है।

8. दृश्यरतिक आनंद

दूसरे जोड़े को सेक्स करते हुए देखना एक ग्लानि प्रदान करने वाला किंकी आनंद है।

9. कामक्रीड़ा की फिल्म उतारना

शायद शुद्ध भावनात्मक मूल्य के लिए, या शोध के उद्देश्य के लिए लेकिन एक सेक्स टेप बनाना अपने आप में एक किंकी वस्तु है और पुरूषों को यह बेहद पसंद है।

10. पोर्न में देखी गई चीज़ें आज़माना

पुरूष वे सभी विचित्र चीज़ें चाहते हैं जो केवल पोर्न में देखी गई हैं। या कम से कम वह इसे एक बार आज़माना ज़रूर चाहेगा। क्योंकि अगर आप उस से कुछ सीखें नहीं, तो पोर्न किस काम का?

11. उसके चेहरे पर बैठना

धार मारने की ही तरह, अपने बॉयफ्रैंड के चेहरे पर बैठना आपको अपने निचले क्षेत्र के प्रति बहुत सचेत कर देगा। हो सकता है यह गंदा हो, लेकिन पुरूषों के लिए यह बेहद कामुक है।

12. थोड़ा अन्वेशष करना

यह ऐसा है कि एक स्त्री अपने आनंद के लिए भी ज़िम्मेदारी ले रही है। जब वह आपके साथ संभोग कर रहा हो तब स्वयं को छूना किंकी है। अपने कामोत्तेजक क्षेत्र के साथ खेलें और उसे भी उसका स्वाद चखने दें। उनके दिमाग में, यह वास्तविक से भी ज़्यादा कामुक है।

13. कांच की खिड़की से सटकर

या फिर दिवार, या कांच की लिफ्ट, पकड़े जाने या देखे जाने के जोखिम के साथ। इसकी जल्दबाज़ी किंकी है और आनंद गहरा है।

14. कामुक बातें

मौखिक रूप से अधिक स्पष्ट। जब आप अपने मुंह से यह बोलती हैं तो पुरूषों को पसंद आता है। उन्हें क्या पसंद आ रहा है, इसके अलावा वे क्या पसंद करेंगी; मूल रूप से यह जितना स्पष्ट और तेज़ आवाज़ में होगा, उतना बेहतर होगा। इसलिए, ‘‘मेरे बाल खींचो’’ और ‘‘मेरा गला दबा दो’’ इसमें और अधिक किंक जोड़ देगा।

15. अधिक शारीरिक कार्यवाही

अगर यह संभव हो तो।
[/restrict]

Leave a Comment

Related Articles