15 संकेत की आपका हनीमून पीरियड खत्म हो चुका है

हम सब संबंधों की शुरूआत से प्यार करते हैं जब हम एक दूसरे को छूए बिना नहीं रह सकते। सबकुछ अच्छा लगता है। यहां तक की जिन चीज़ों से हम आमतौर पर नफरत करते हैं, वे चीज़ें अब हमें परेशान नहीं करती हैं। हर तरफ प्यार दिखता है और आप ऐसे व्यक्ति को पाकर खुश रहते हैं जो आपसे प्यार करता है। आपको लगता है कि आपका जीवन अब इससे बेहतर हो ही नहीं सकता।

हम हनीमून पीरियड की बात कर रहे हैं।

संबंध में हनीमून पीरियड क्या है?

Table of Contents

हनीमून पीरियड संबंधों का प्रारंभिक चरण होता है जब आप एक दूसरे को जानना शुरू करते हैं। आप प्यार में होते हैं और सबकुछ एक सपने की तरह लगता है। आप दुनिया के सबसे खुश व्यक्ति होते हैं और सोचते हैं कि आपका साथी परफेक्ट है। यहां तक की आपको अपने साथी की संभावित इरिटेटिंग आदतें भी प्यारी लगती हैं। आप उसके चुटकुलो पर हंसती हैं भले ही वे बकवास हों। आप दोनों एक-दूसरे के ख्यालों में खोए रहते हैं। आप पूरी तरह से प्यार में डूबे होते हैं।

ये भी पढ़े: मेरे पार्टनर ने मुझे धोखा दिया और हमारा संबंध सुधारने में आध्यात्मिकता ने मेरी मदद की

यह स्वाभाविक रूप से वह अवधि है जब आप अपना सर्वश्रेष्ठ दिखते हैं और महसूस करते हैं। आप और आपका साथी एक ही चीज़ पसंद करते हैं और हर बात पर सहमत हो जाते हैं। आप दिन में एक दूसरे को कई बार मैसेज भेजना पसंद करते हैं और कभी भी एक दूसरे को उपहारों के साथ सरप्राइज़ करना नहीं भूलते। जीवन कितना आनंदमय होता है!

कुछ समय बाद, आप एक दूसरे के साथ सहज महसूस करने लगते हैं और सभी लवी-डवी चीज़ें कम महत्त्वपूर्ण हो जाती हैं। आप अक्सर बिना मेकअप के दिखाई देती हैं और वह हर जगह अपने बॉक्सर्स में घूमता हुआ नज़र आता है।

15 संकेत की आपका हनीमून पीरियड खत्म हो गया है और आपको वास्तविक होने की ज़रूरत है

हनीमून अवधि आमतौर पर रिश्ते के आधार पर छह महीने से डेढ़ साल तक होती है। फिर एक ऐसा समय आता है जब आप महसूस करते हैं कि आप अपने साथी के साथ सबकुछ कर चुके हैं और अब कुछ नया नहीं बचा है। आप ऊब जाते हैं, और आपको यह भी लगता है कि आप अपने साथी को पूरी तरह से जानते हैं और उसके साथ समय बिताने की कोई जल्दी नहीं है क्योंकि वह हर समय साथ रहता/रहती है। तो आपको अब अहसास होता है कि आपका हनीमून पीरियड खत्म हो चुका है? आपकी परिकथा भंग करने के लिए वास्तविकता कब सामने आती है? यहां 15 संकेत हैं जो आपको बताते हैं कि आपका हनीमून पीरियड अब खत्म हो गया है।

1. आप एक दूसरे को इतना ज़्यादा कॉल नहीं कर सकते

एक समय था जब आप एक दूसरे से बात किए बिना रह नहीं सकते थे। भले ही आपके पास बात करने के लिए कुछ नहीं होता था, लेकिन फोन पर उसका होना ही पर्याप्त था। कई बार, देर रात को फोन पर बात करते हुए आपको नींद भी आ जाती थीं उन कॉल्स की आवृत्ति अब काफी कम हो गई है। आप दोनों घंटों तक एक दूसरे से बात किए बिना रहते हैं और आप दोनों में से किसी को भी इस बात से कोई समस्या नहीं हैं

एक समय था जब आप एक दूसरे से बात किए बिना रह नहीं सकते थे।
आप दोनों घंटों तक एक दूसरे से बात किए बिना रहते हैं

ये भी पढ़े: अफेयर की वजह से मुझे महसूस हुआ कि मुझे धोखा दिया गया है, इस्तेमाल किया गया है और मैं असहाय हूँ

2. उत्साह जा चुका है

आपके पेट में जो तितलियां उड़ती थीं वे अब गायब हो चुकी हैं। रोमांच, उत्तेजना और घबराहट का संयोजन जो आप पहले महसूस करते थे वह अब नहीं है। जब आप उसे देखते हैं, तो आप निश्चित रूप से खुश महसूस करते हैं लेकिन यह अब पहले जैसा महसूस नहीं होता। उसे देखना अब आपकी दिनचर्या का सामान्य हिस्सा बन चुका है।

3. आप साथ में ज़्यादा समय नहीं बिताते हैं

पहले कुछ महीनों में, हमेशा दुबारा मिलने की लालसा और उत्सुकता होती थी। आप दोनों अगले दिन एक दूसरे से मिलने का इंतज़ार करते रहते थे। आप हर काम साथ में करते थे ताकि आप एक दूसरे के साथ अधिकतम समय बिता सकें। अब जब चीज़ें सामान्य हो गई हैं, आप अपने व्यक्तिगत जीवन में वापस चले गए हैं और अपने साथी के साथ अपनी दिनचर्या बनाने में सक्षम हुए हैं। अब हर दिन मिलना ज़रूरी नहीं रह गया है। अब आप तब मिलने की योजना बनाते हैं जब आप दोनों के पास खाली समय हो।

ये भी पढ़े: उसे अविवाहित होने का कोई भी पछतावा नहीं है|

4. आप एक दूसरे के सामने अपने वास्तविक रूप में हो सकते हैं

वे दिन जा चुके हैं जब आप उन्हें इंप्रेस करने के लिए तैयार होते थे। आप उनके सामने पजामा पहन कर आराम से घूमते हैं। बिना मेकअप वाले दिन बढ़ते जाते हैं। वह आपका बदसूरत रूप देखता है और फिर भी उसके चेहरे पर मुस्कान होती है। आप दोनों एक दूसरे के सामने शर्मनाक चीज़ें करने की परवाह नहीं करते हैं। आपके साथी को आपकी बुरी आदतों और फेटिश का पता चल जाता है और जब वे उसे पता चलती है तो आप शर्म से लाल नहीं होते हैं। तब आप एक दूसरे के वास्तविक रूप से प्यार करने लगते हैं ना कि पहले इंप्रेशन्स से।

पके साथी को आपकी बुरी आदतों और फेटिश का पता चल जाता है और जब वे उसे पता चलती है तो आप शर्म से लाल नहीं होते हैं।
आप उनके सामने पजामा पहन कर आराम से घूमते हैं।

5. आप अपना पहला झगड़ा कर चुके हैं

सब कुछ ठीक चल रहा होता है और फिर आपका पहला झगड़ा सबकुछ खराब कर देता है। वास्तविकता आपके रिश्ते के दरवाज़े पर दस्तक देकर कहती है कि आपका हनीमून पीरियड खत्म हो चुका है। आप दोनों अपने अहं के टकरावों के साथ गर्मागर्म बहस में शामिल हो जाते हैं। आपके रिश्ते में अन्य भावनाएं आने लगती हैं, और वे भी आपके लिए महत्त्वपूर्ण है ताकि आप दोनों उनसे निपटना सीख सकें।

6. वे प्यारी आदतें अब खीझ पैदा करती हैं

ऐसी आदतें जो आपको शुरू में पसंद आती हों या प्यार लगती हों अब आपको परेशान करती हैं। वे बढ़ी हुई भावनाएं अब खत्म हो चुकी हैं और आप चीज़ों को और ज़्यादा स्पष्ट रूप से देखते हैं। वे बकवास चुटकुले अब आपको हंसाते नहीं हैं। बल्कि आप अब अपने साथी को बताते हैं कि वे चुटकुले फालतू हैं। आप उसकी बुरी आदतों पर गौर करने लगते हैं और उसके बारे में अपनी राय पर संदेह करने लगते हैं।

वे बढ़ी हुई भावनाएं अब खत्म हो चुकी हैं और आप चीज़ों को और ज़्यादा स्पष्ट रूप से देखते हैं।
आप अब अपने साथी को बताते हैं कि वे चुटकुले फालतू हैं।

ये भी पढ़े: अगर आपका साथी एक कंट्रोल फ्रीक है तो उसका समाना कैसे करें?

7. आपका रिश्ता अपना जोश खो चुका है

आपके और आपके साथी के बीच चीज़ें अब ठंडी हो चुकी हैं। आपका स्पार्क अब खत्म हो चुका है। सारा यौन तनाव जो आपको चुंबक की तरह खींच रहा था, अब छूमंतर हो चुका है। आप एक विवाहित जोड़े की तरह रहने लगते हैं जो सेक्स नहीं करता है। नए जोड़े को आपस में कडल करते हुए देखने से आपको जलन होती है। आप वह गर्लफ्रैंड बन चुकी हैं जो दूसरे सुखी जोड़ों को देखती है।

8. फैंसी डेट्स अब कम हो चुकी हैं

फैंसी रेस्त्रां में डेट्स की संख्या अब कम हो चुकी है। आप दोनों एक दूसरे के आसपास रहने में सहज हो गए हैं और साथ रूकने और फिल्म देखने में आपको कोई समस्या नहीं है। यह इसलिए है क्योंकि अब आपको एक दूसरे के बारे में अपनी धारणा बनाए रखने के बारे में परेशान होने की ज़रूरत नहीं है। घर पर रूकना भी एक फैंसी रेस्त्रां में जाने जितना ही अच्छा लगता है। आप एक ऐसे बिंदु पर पहुंच चुके हैं जहां स्थान नहीं बल्कि व्यक्ति मायने रखता है।

आप एक ऐसे बिंदु पर पहुंच चुके हैं जहां स्थान नहीं बल्कि व्यक्ति मायने रखता है।
घर पर रूकना भी एक फैंसी रेस्त्रां में जाने जितना ही अच्छा लगता है।

ये भी पढ़े: मेरे पति के साथ रहना कुछ इस तरह का लगता है

9. कभी-कभी आप ऊब जाते हैं

आपका साथी अब दिलचस्प नहीं लगता है। अब आपके पास करने के लिए कोई दिलचस्प चीज़ भी नहीं बची। अब जब आप एक दूसरे को पूरी तरह से जान चुके हैं, तो आपके पास बात करने के लिए भी कोई बात नहीं बची। आप जबरन वार्तालाप जारी रखने की कोशिश करते हैं, तब भी जब बात करने के लिए कुछ नहीं होता। उनकी उपस्थिति अब आपको उत्साहित नहीं करती है और आपको लगता है कि आपको दूसरे लोगों के साथ भी समय बिताना चाहिए।

10. आपका प्यार का सार्वजनिक प्रदर्शन (पीडीए) कम हो जाता है

आपका प्यार का सार्वजनिक प्रदर्शन भी कम हो जाता है। आप पहले जितना एक दूसरे को किस या हग नहीं करते हैं। आप दोनों, जिन्हें पूरे समय हाथ थामना बहुत पसंद था, अब ऐसा ज़्यादा नहीं करते। ऐसा इसलिए है क्योंकि आप दोनों एक दूसरे की मौजूदगी और स्पर्श के आदी हो चुके हैं। आप दोनों उन चीज़ों पर ध्यान केंद्रित करने लगे हैं जो आपके रिश्ते के शारीरिक पहलुओं से परे हैं।

11. छोटी चीज़ें अब बंद हो चुकी हैं

आप अपने साथी को जो छोटे सरप्राइज़ देते थे वो अब बंद हो चुके हैं। अब आप कोई विचारशील संकेत नहीं दिखाते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि आपका एक हिस्सा यह महसूस करता है कि चूंकि अब आपको अपने साथी को इंप्रेस करने की आवश्यकता नहीं रह गई है, तो आपको वे छोटी-छोटी चीज़ें करने की ज़रूरत नहीं है। छोटी चीज़ें हमेशा मायने रखती हैं भले ही आपका रिश्ता किसी भी स्तर पर हो। उन्हें करना बंद ना करें।

12. सेक्स अब नियमित हो गया है

आपके रिश्ते की गर्मी अब ठंडी पड़ चुकी है और आपका सेक्स जीवन भी। वे दिन जा चुके हैं जब आप दोनों बिस्तर पर से उठते ही नहीं थे। अब आप नई चीज़ें आज़माने या नई तकनीकें अपनाने की ज़रूरत महसूस नहीं करते हैं। आपका यौन जीवन भी उतना सक्रिय नहीं रहा है जितना पहले था। नियमित सेक्स पर्याप्त है और आपको उसके साथ प्रयोग करने की आवश्यकता महसूस नहीं होती है। सेक्स भावनात्मक अंतरंगता का द्वार है। हमेशा इसे गर्म रखें।

नियमित सेक्स पर्याप्त है और आपको उसके साथ प्रयोग करने की आवश्यकता महसूस नहीं होती है। सेक्स भावनात्मक अंतरंगता का द्वार है। हमेशा इसे गर्म रखें।
वे दिन जा चुके हैं जब आप दोनों बिस्तर पर से उठते ही नहीं थे।

ये भी पढ़े: मैं एक बॉयफ्रैंड पाने के लिए बेताब थी, फिर मुझे सदबुद्धि मिल गई!

13. अब आपको दिखावा करने की ज़रूरत नहीं है

अब आपको कोई और व्यक्ति होने का नाटक करने की ज़रूरत नहीं है। आप दोनों स्वयं जैसा बर्ताव करते हैं यह सोचकर डरे बिना कि सामने वाला क्या सोचेगा। आप हल्का महसूस करते हैं कि आपको अपने साथी के सामने अन्य पसंद करने योग्य व्यक्ति बनने की ज़रूरत नहीं है। आप अपनी पसंद, नापसंद और डर के बारे में खुल कर बता सकते हैं, साथी द्वारा जज किए जाने के डर के बिना। अंततः आप एक वास्तविक संबंध में हैं।

14. आपका भावनात्मक बोझ अब खोला जा सकता है

हर किसी का भावनात्मक बोझ होता है। आप अपना भावनात्मक बोझ अपने साथी के सामने बहुत जल्द खाली नहीं करना चाहते क्योंकि यह शायद उसे डरा सकता है। जब आप अपना आंतरिक रूप उसके सामने प्रकट करने लगते हैं और अपनी सच्चाईयां बताने लगते हैं, तब आप वास्तव में उसे यह दर्शाने के लिए तैयार होते हैं कि आप वास्तव में कौन हैं। अब आप उसके सामने अपनी भावनाएं व्यक्त करने से डरते नहीं हैं।

हर किसी का भावनात्मक बोझ होता है। आप अपना भावनात्मक बोझ अपने साथी के सामने बहुत जल्द खाली नहीं करना चाहते क्योंकि यह शायद उसे डरा सकता है
अब आप उसके सामने अपनी भावनाएं व्यक्त करने से डरते नहीं हैं।

15. आपको अपने एकांत समय की कमी खलती है

भले ही आपका बॉयफ्रैंड कितना भी अद्भुत हो, उसके साथ बहुत ज़्यादा समय बिताना आपको थका देगा। एक साथ कई सारी चीज़ें करने से आपको अपने एकांत समय की याद आएगी। आपको याद आएगा कि सिंगल होना कैसा था और आप अपने शौक और खुद पर ज़्यादा समय देना चाहेंगे। आपका बॉयफ्रैंड भी कभी-कभी बीयर के लिए अपने दोस्तों के साथ गेट टुगेदर करना चाहेगा।

अगर आपका हनीमून पीरियड समाप्त हो गया है तो डरने की कोई ज़रूरत नहीं है। हनीमून पीरियड एक फंतासी है। यह खत्म होने पर ही आपको पता चलता है कि एक वास्तविक संबंध क्या होता है। आपके रिश्ते को कई बार परीक्षा से गुज़रना पड़ता है, लेकिन महत्त्वपूर्ण यह है कि आप उससे कैसे निपटते हैं। अब जब आपका हनीमून पीरियड खत्म हो चुका है, तो आप पाएंगे कि आपका रिश्ता पहले जितना रोमांचक नहीं है। भले ही उत्साह और उत्तेजना ना हों, लेकिन वासना पर हावी होता प्यार ज़रूर है।

उत्तेजना और केमिस्ट्री को हमेशा पुनर्जीवित किया जा सकता है, लेकिन प्यार, देखभाल और समझ एक रिश्ते की नींव है जो हनीमून पीरियड से ज़्यादा समय तक चलती है।

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.