आज 90 प्रतिशत युवा अपने एक्स के साथ जुड़े हुए हैं

जब एक पति/ पत्नी अपने एक्स के साथ मिल कर हत्या की योजना बनाता है

वर्ष 2016 में सूरत में पच्चीस वर्षीय दिलशित ज़रीवाला की हत्या ने कई लोगों को चौंका दिया। मामला, जो शुरू में लूटपाट-हत्या का मामला प्रतीत होता था, एक योजनाबद्ध हत्या निकली जहां उसकी पत्नी ने अपने एक्स के साथ मिल कर उसे मार डाला।

आगे की जांच से पता चला कि दिलशित की पत्नी वेल्सी और उसका एक्स सुकेतू एक सीरियस संबंध में थे और सामाजिक समस्याओं की वजह से शादी नहीं कर पाए। दोनों अलग हो गए लेकिन सोशल मीडिया द्वारा एक-दूसरे के संपर्क में रहे। जल्द ही उन दोनों ने जान लिया की वे दोनों ही दुखी विवाह में फंसे हुए थे। तलाक का चयन करने की बजाए, उन्होंने पहले दिलशित और फिर सुकेतू की पत्नी की हत्या की योजना बनाई। हालांकि, जीवन की कुछ और ही योजनाएं थीं और वे रंगे हाथों पकड़े गए।

यह सूरत मर्डरकेस उन कई मामलों में से एक है जिसमें एक्स अपने मंगेतर या साथियों को मारने के लिए साथ में शामिल हो जाते हैं। कोलकाता स्थित मनोवैज्ञानिक पारोमिता मित्र भौमिक के अनुसार, ‘‘अगर आप और आपका एक्स दोस्त हैं तो संभावना है कि आप कभी प्यार में थे ही नहीं या फिर दोस्ती के आवरण में अब भी एक दूसरे से प्यार करते हैं।

ब्रेकअप मुश्किल क्यों हैं?

young people smiling and looking at you while doing the jigsaw puzzle
Young couple in home paling board game

जयपुर स्थित मनोचिकित्सक डॉ अनामिका पापरीवाल के मुताबिक, ‘‘प्रतिबद्ध रिश्तों में ब्रेकअप मुश्किल होते हैं, जब साथी एक दूसरे के साथ इतने ज़्यादा शामिल होते हैं कि एक की मौजूदगी दूसरे को सुकून देती है, लेकिन उन्हें अलग होना पड़ता है, जैसा कि इस मामले में हुआ। पिछले संबंध से अधूरा प्यार और उचित क्लोज़र की कमी लोगों के लिए आगे बढ़ने को कठिन बनाती है। इसलिए, बाद में जब जीवन में उनके रास्ते मिलते हैं, वे अपनी प्रेम कहानियों को फिर से उत्तेजित करते हैं।

उन्होंने आगे कहा, ‘‘दरअसल, आज का प्रेम संबंध इतना गहरा नहीं है। ब्रेकअप और पैच-अप आज एक समान्य चीज़ हैं। इसलिए, बीते समय में जहां ब्रेकअप का मतलब क्लोज़र हुआ करता था, उसके विपरीत, आज लोगों की अपने एक्स की और लौटने की एक प्रवृत्ति है।

अधिकांश मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि यह तथ्य कि आज युवा अपने एक्स के साथ संपर्क समाप्त करने से बचते हैं, लोगों को वापस अपने एक्स की ओर ले जाता है जब उनके वर्तमान संबंध में चीज़ें उतनी अच्छी नहीं रहतीं। ‘‘और वे इसी चक्र में फंसे रहते हैं और अक्सर ऐसा काम कर बैठते हैं जिसके लिए बाद में वे ही पछताते हैं, जैसा कि सूरत मर्डर केस में हुआ,’’ डॉ पापरीवाल ने कहा।

परामर्श और मनोचिकित्सा कुंजी है।

Couple on a bed with hands over their knees and looking serious after a conflict
Couple after fight

अधिकांश मनोचिकित्सक यह मानते हैं कि जब कोई व्यक्ति किसी अन्य रिश्ते में कदम रखता है या एक संबंध के खत्म होने पर जीवन नए सिरे से शुरू करता है, तो उन्हें परामर्श या मनोचिकित्सा से गुज़रने की ज़रूरत होती है। ‘‘आज 90 प्रतिशत युवा अपने एक्स के साथ शामिल हैं। दूसरे दरवाज़े में जाने के लिए पहले एक दरवाज़ा बंद करने के लिए, माता-पिता को अपने बच्चों को प्रोत्साहित करना चाहिए कि वे परामर्श सत्र लें, जहां उन्हें अपने एक्स के दूर होने और नए रिश्ते में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के तरीकों के बारे में सिखाया जा सके।” डॉ पापरीवाल ने कहा।

उन्होंने कहा कि जब पूर्ण आत्म निरीक्षण के बाद एक रिश्ता समाप्त हो जाता है, तो वापस जाने की संभावना कम होती है। ‘‘भारत में ज़्यादातर, जोड़ों को अलग होने के लिए मजबूर किया जाता है या फिर वे खुद ही क्रोध में आकर संबंध समाप्त कर देते हैं, और बाद में अफसोस करते हैं। यह अफसोस, अपने पूर्व प्रियजन को खोने की भावना ही आपको वापस जाने के लिए प्रेरित करती है। उचित परामर्श बहुत ज़्यादा मदद करता है,’’ उसने आगे कहा।

एक नए रिश्ते से पहले क्या करें

ब्रेकअप के बाद शादी करने वाले लड़के और लड़कियों के लिए डॉ पापरीवाल के पास कुछ संकेतक हैं:

happy friends point fingers at you, gesture indoor, make choice, have positive expressions
Indian young happy couple
  • अपने साथी के साथ अच्छा संचार बनाए रखें। ईमानदार रहें। अगर आपका कोई संबंध था जिसे आपने खत्म कर दिया, अपने साथी को उसके बारे में बताएं। यह आपके रिश्ते को मजबूत करने में मदद करता है। छुपाना हमेशा झूठ बोलने की ओर ले जाएगा।
  • अपने अतीत के संबंध के बारे में खुले रहें। हमेशा अपने नए साथी के साथ विवरण साझा करें। अगर आप अपने एक्स के साथ शारीरिक संबंध में संलग्न थे, अपने साथी को बताएं। उन्हें सच जानने की ज़रूरत है।
  • अगर आप दबाव में किसी से शादी कर रहे हैं, तो आपको प्री-वैवाहिक परामर्श या मनोचिकित्सकीय परामर्श के लिए जाना चाहिए। यह आपको उस दरवाज़े को बंद करने में मदद करेगा जो आपको अपने पिछले संबंध में ले जा सकता है।
  • वे माता-पिता जो इस तथ्य से अवगत हैं कि विवाह से पहले उनके बच्चे रिश्ते में थे, उन्हें भी परामर्श सत्र के लिए जाने की ज़रूरत है।
  • जब आपका झगड़ा हो, तब अपने वर्तमान साथी की तुलना कभी भी अपने एक्स से ना करें। किसी को याद करना मानवीय भावना ही है। ऐसी तुलनाएं सिर्फ आपकी स्थिति को और खराब ही करेगी और आपको उस व्यक्ति के पास वापस ले आएगी जिसके साथ आपने संबंध तोड़ दिया था।
  • अपने पूर्व के साथ संबंधों को खत्म कर दें। सुनिश्चित करें कि आप सोशल मीडिया या फेसबुक पर भी उनके संपर्क में नहीं हैं। उनकी प्रोफाइल, अपडेट्स और फोटो को देखते रहना आपको दुख और अफसोस ही देगा। बदले में यह, आपको अपने एक्स के पास वापस जाने के लिए प्रेरित करेगा।
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.