अपने साथी के साथ ये 8 चीज़ें साझा नहीं करनी चाहिए

जब रिश्ते में कुछ साझा करने की बात आती है, तो कई चीज़ों को ध्यान में रखना ज़रूरी है।

एक ईमानदार और भरोसेमंद रिश्ता परदर्शिता रखकर, आपकी भावनाओं, विचारों और चीज़ों को साझा करके बनाया जा सकता है। एक स्टीमी बबल बाथ या फिर वाइन की बोतल साझा करना रोमांटिक है, लेकिन टूथब्रश साझा करना? छी!

यहां ऐसी चीज़ों की सूची दी गई है जिन्हें आप अपने पति के साथ साझा करने से बच सकती हैं

1.आपका पासवर्ड

हम सभी उस क्षण से गुज़र चुके हैं जब आपका साथी आपके लैपटॉप/ फोन का उपयोग करना चाहता है और उसका पासवर्ड सुरक्षित है। उसपर आपका अंधविश्वास जताने के लिए उसे पासवर्ड बताने की कोई ज़रूरत नहीं है। इसे गुप्त रखने में कोई बुराई नहीं है।

ये भी पढ़े: पता लगाएं कि आपकी जन्मतिथि के अनुसार आप किस तरह के प्रेमी हैं

2. आपकी सुंदरता की देखभाल

आपको उसे हर विवरण बताने की ज़रूरत नहीं है कि पार्लर या स्पा या बाथरूम में आपने क्या किया। जब तक कि वह आपसे पूछे नहीं तब तक उसे विवरण ना बताएं और रहस्य बना रहने दें।

Woman taking care of her skin
आपकी सुंदरता की देखभाल

ये भी पढ़े: जब किसी स्त्री का पति एक हॉट लड़की से बात करता है तो उसके मन में ये विचार आते हैं

3. सेक्स में आपकी जीत/हार

आपके पति के आपके जीवन में आने से पहले के सेक्स जीवन के बारे में नहीं बताना ही सबसे अच्छा है। किसी भी प्रकार का विवारण बताने से उसे जलन होगी, वह घबराएगा या फिर डर जाएगा, अगर आप एक दूसरे को अच्छे से जानते हों तब भी। इस स्थिति में अनदेखा करना ही सबसे उपयुक्त है।

4.आपकी सहेलियों की कहानियां

जब आप साथ होते हैं, वह समय कीमती और पवित्र होता है। वह समय उसे अपनी सहेलियों के बारे में कहानियाँ सुनाते हुए ना बिताएं -उसका दिल कैसे टूटा; अपने बॉयफ्रैंड के साथ उसने कितना बुरा व्यवहार किया; उसके खाने के अजीब शौक; आदि इत्यादि। आपकी सहेली का व्यवहार आपके व्यवहार का भी मानदंड है। यह याद रखें। वह आपकी सहेली की मूर्खता के बारे में जितना कम जाने उतना अच्छा है।

ये भी पढ़े: यह कैसे सुनिश्चित करें कि प्यार में आपकी कोशिशें समझी जाएं

5. आपकी शॉपिंग लिस्ट और बैंक स्टेटमैंट

आपकी शॉपिंग लिस्ट और बैंक स्टेटमैंट
उसे यह बताने से बचें कि आपने कितना खर्च किया और किस पर खर्च किया।

कोई भी पुरूष यह नहीं सुनना चाहता (अगर उसे खरीदारी का शौक हो तो अलग बात है) कि आप बिना रूकें उसे बताती जाएं कि आपने क्या खरीदा, कहां से खरीदा जैसे की यह कोई प्रोजेक्ट हो। और शॉपिंग करने के बाद, उसे यह बताने से बचें कि आपने कितना खर्च किया और किस पर खर्च किया। ऐसा नहीं है कि आप अपनी मेहनत की कमाई उन सेक्सी जूतों पर खर्च नहीं कर सकती हैं, लेकिन वह नहीं समझ पाएगा कि आपने अपनी नवीं लाल हील्स पर इतने रूपए क्यों खर्च किए जितने में आप दुबई की प्लेन की टिकट बुक कर सकती थीं। उसे रसीद दिखाने से बचें।

6. उसकी माँ के बारे में आपकी भावनाएं

माँ और पुत्र के बीच की जगह पवित्र है और उसमें अपने जोखिम पर ही कदम रखें।

7.आपका वज़न

जब भी आपमें से कोई कुछ खा रहा हो उस समय अपने वज़न के बारे में चिंता करना या फिर कैलोरी गिनना बिल्कुल उचित नहीं है। जब आप उसे बताएंगी कि आपका वज़न कितना बढ़ा है और कितना घटा है या फिर जो बर्गर उसने अभी खाया है उसमें कितनी कैलोरी हैं; तो हो सकता है वह इतना उत्साह नहीं दिखाए। टिप्पणी तो दूर की बात है, अगर आपने गलती से उसे घूर कर भी देख लिया तो उसे यह पसंद नहीं आएगा। तो आप दोनों की खातिर, कैलारी और वज़न की बातों को बाहर ही मत आने दो।

आपका वज़न
आप दोनों की खातिर, कैलारी और वज़न की बातों को बाहर ही मत आने दो।

ये भी पढ़े: अकेली और अविवाहित होने की वजह से मैं अवसादग्रस्त हूँ

8.आपके शारीरिक कार्य

अपने पति के साथ अपने पीरियड्स या फिर पेट के फ्लू के विवरण साझा नहीं करना ही ठीक है। हर कोई पादता है, पौटी करता है और डकार लेता है, लेकिन इन सब को स्पष्ट करने की कोई ज़रूरत नहीं है। ऐसा करेंगी तो थोड़े ही दिन बाद आप देखेंगी कि जब आप बाथरूम का इस्तेमाल कर रही होंगी, वह आपके सामने खड़ा होकर दांत ब्रश कर रहा होगा, और इसी जगह रेखा खींची जानी चाहिए। बाकी सब कुछ पवित्र है।

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.