अपनी गर्लफ्रेंड को भूल नहीं पा रहा और मैं किसी और से शादी भी नहीं करना चाहता

cant-forget-my-girlfriend-cant-marry-anyone-else-i-just-want-to-be-left-alone

प्रिय मैम

मेरे माता पिता मेरे लिए लड़की देख रहे हैं. मगर मुश्किल ये है की मैं किसी भी तरह से अपनी गर्लफ्रेंड को भूल नहीं पा रहा हूँ. जब भी किसी लड़की से रिश्ते की बात चलती है और मैं उसे देखता हूँ, मेरे मन में बार बार अपनी गर्लफ्रेंड का चेहरा आ जाता है और मैं ना चाहते हुए भी उस लड़की की तुलना अपनी गर्लफ्रेंड से करने लगता हूँ. मैं दोनों के बीच समानताएं ढूंढने लगता हूँ और अगर मुझे कुछ भी एक जैसा नहीं लगता, मैं उस लड़की में दिलचस्पी खो देता हूँ. मेरे माता पिता को इस बारे में कुछ भी नहीं पता है. हमें पता था की हमारे परिवार वाले हमारे रिश्ते को कभी स्वीकार नहीं करेंगे इसलिए हमने उन्हें कुछ नहीं बताया था. हम दोनों ही अलग अलग जाती के थे और इसलिए हमारी शादी नामुमकिन थी.

ये भी पढ़े: क्यों मुझे क्लोज़र नहीं मिला?

मेरी गर्लफ्रेंड मुझ से कहती है की पहले मैं शादी करूंगा तब ही वो भी शादी करेगी. हमने एक दुसरे से ये वादा किया है की जब भी ज़रुरत होगी हम एक दुसरे के लिए हमेशा खड़े रहेंगे.

अब मैं कन्फ्यूज्ड हूँ की जब मैं किसी लड़की से मिलता हूँ, क्या मुझे उसे अपना अतीत बता देना चाहिए. अगर मैंने उससे शादी कर ली तो मुझे लगेगा की मैं दोनों ही को धोखा दे रहा हूँ. अपनी गर्लफ्रेंड को इसलिए क्योंकि मैं उसे छोड़कर किसी और लड़की से शादी कर रहा हूँ और उस दूसरी लड़की से क्योंकि मैं प्यार तो अपनी गर्लफ्रेंड से ही करता हूँ. हां हमें इस बात का तो यकीन है की हम दोनों ही शादी के बाद कभी अपने साथियों को धोखा नहीं देंगे.

मैंने अपनी ज़िन्दगी से सारी उमीदें छोड़ दी है. मैं बस अकेले रहना चाहता हूँ. घर के बाहर तक जाने का मन करता है. उसके बिना ज़िन्दगी बिलकुल बेजान लगती है. मैं बिलकुल टूट गया हूँ.

ये भी पढ़े: सोशल मीडिया पर अपने एक्स को देख रहे हैं? क्या इसका कोई तुक बनता है?

स्निग्धा मिश्रा कहती हैं:

आपने ये तय कर लिया है की आप अपनी गर्लफ्रेंड से शादी नहीं करेंगे.

उस रिश्ते से आपको वापस आना होगा

क्या आप दोनों अभी भी एक दुसरे से मिलते हो? अगर हाँ, तो आप दोनों की बेहतरी इसी में है की आप मिलना बंद कर दो. ऐसा इसलिए क्योंकि अगर आप दोनों को अपनी अपनी अलग ज़िन्दगी बितानी है तो आपको इस रिश्ते से वापस मुड़ना होगा।

अपने परिवार से बात करो

वैसे तो मुझे आश्चर्य होता है की क्यों नहीं आप दोनों ने अपने परिवार से इस बारे में कोई भी बात की है. क्या पता अगर आप बात करते तो आप दोनों की ख़ुशी के लिए आपके परिवारवाले इस रिश्ते के लिए हामी भर देते. आपको नहीं लगता की कम से कम आप दोनों को एक कोशिश तो करनी ही चाहिए इस रिश्ते को बचाने की और इसके लिए अगर परिवार से थोड़ी लड़ाई करनी भी पड़े तो करने में हर्ज़ ही क्या है. खैर वो आप दोनों का फैसला है की आप इस बारे में परिवार को बताएं या नहीं.

आपकी वर्तमान समस्या

अगर आप सच में आगे बढ़ना चाहते हैं और दूसरी लड़कियों को शादी के लिए देख रहे हैं तो ज़रूरी है की आप अपनी गर्लफ्रेंड से सारे रिश्ते ख़त्म कर दें. अगर आप किसी और से शादी करते हैं तो मैं मान रही हूँ की आप अपनी गर्लफ्रेंड से मिलना जुलना बंद कर देंगे. क्योंकि आप ऐसा करेंगे, आप किसी को धोखा नहीं देंगे. अपने ऊपर से किसी भी तरह का भावनात्मक बोझ हटाने के लिए ज़रूरी है की आप पहले वाले पॉइंट पर अमल करें

अपनी मंज़िल के हिसाब से अपना रास्ता चुनिए

ये भी पढ़े: तलाक के बाद मैं अपने नए घर को बनाने में मग्न हूँ

काउंसलिंग करिये

अगर आपको फिर भी कोई रास्ता नहीं सूझ रहा है तो मैं आपको सलाह दूँगी की आप किसी कौंसलर से मिलें. एक ऑनलाइन मदद भी आपकी सहायता कर सकती है. हमें फिर लिखें अगर आपको मदद चाहिए.

शुभेक्षा
स्निग्धा

मैने पति के बदले दूसरे को चुना

तलाक मेरी मर्ज़ी नहीं, मजबूरी थी

तुमने वादा किया था कि जीवनभर मेरे साथ रहोगे

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.