Indira Nityanandam

Reader, writer, translator, reviewer, teacher, mentor, guide, Indira Nityanandam loves speaking the best. Passionate about everything she does, she has been in the world of academics for more than 4 decades. Mother of two daughters, it is women's empowerment which, she believes, is the need of the hour and to this end she strives to encourage women-bonding.

Mom and child

माँ बनने के बाद पत्नी ने डिप्रेशन में अपनी जान दे दी

(जैसा इंदिरा नित्यानन्दम को बताया गया) कॉलेज में शुरू हुए प्यार के बाद हम पति पत्नी बन गए अनाहिता सो रही थी. जब मैंने उसके गालों को प्यार से छुआ, तो वो मासूम अपनी नींद में ही मुस्कुराने लगी. गहना मुझे ये अनमोल तोहफा देकर हमारी ज़िन्दगी से चली गई थी और मैं आज तक …

माँ बनने के बाद पत्नी ने डिप्रेशन में अपनी जान दे दी Read More »

Spread the love

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.