Priya Chaphekar

An unapologetic writer, Priya Chaphekar likes to undress with her words, make a dark drink with them, free them from the heart, like birds from a cage and squeeze them in her palms, only to watch them flow away like sand. When she’s not writing, she’s just another girl, a wild one, exploring the unexplored. She seeks pleasure in the little things of life: she feels happy when she manages to wake up early in the morning and do yoga, nibble on fresh fruit, lie on her grandmother’s lap, make someone smile, finish a good book or climb a mountain.

विवाह के बाद पोर्न देखना ठीक क्यों है

‘साहित्य में लिंग’ के विद्यार्थी होने के नाते, नारीवाद की तीसरी लहर पर हिलोरे मार रही, हमारी आश्चर्यजनक रूप से नारीवादी (फेमिनिस्ट) प्रोफेसर ने हमें ब्लू-फिल्में देखने के लिए प्रोत्साहित किया। ‘‘श्रेणियों पर ध्यान दो, रोल प्ले और स्त्रियों के साथ बर्ताव,’’ वह ज़ोर देती थीं। उस समय, मैं आधिकारिक तौर पर इन कामुक फिल्मों …

विवाह के बाद पोर्न देखना ठीक क्यों है Read More »

Spread the love
Marathi actor subodh bhave and wife mannjiri bhave

Marathi Actor Subodh Bhave: I Fell in Love with a Girl Back in School and Married Her

Subodh Bhave is not just the heartthrob of the Marathi film industry. The gifted actor has essayed a range of remarkable characters – from Balgandharva, the never-before-told, the musical biographical drama of Indian theatre legend Narayan Rajhans to Sadashiv, a timeless character that transported us to the golden era of classical music, and many more. …

Marathi Actor Subodh Bhave: I Fell in Love with a Girl Back in School and Married Her Read More »

Spread the love

बैली नृत्य द्वारा अपने भीतर की एफ्रेडाइट को जागृत करना

अधिकांश मोटी लड़कियों की तरह, मैं, चपटे पेट वाली मॉडल वाली पत्रिकाओं द्वारा छलनी होती थी, शीशे में अपने निकलते पेट को देखकर निराश होकर बिखर जाती थी। कसरत भी कोई मदद नहीं कर रही थी क्योंकि मैं जिम ना जाने के लिए हर तरह का बहाना बना लेती थीः मैं थकी हुई थी; मैं …

बैली नृत्य द्वारा अपने भीतर की एफ्रेडाइट को जागृत करना Read More »

Spread the love
couple-drinking-wine

मेरी पत्नी मुझे शराब पीने नहीं देती, मगर प्रेमिका साथ जाम टकराती है..

(जैसा प्रिय चापेकर को बताया गया) अक्सर मैंने यह देखा है की शादी के बाद पुरुष पीने पिलाने की अपनी आदतें अपने पुरुष मित्रों या ऑफिस सहकर्मियों के साथ ही रखते है. कम से कम मैं तो उन्ही पुरुषों में से एक हूँ. जब तक दो लोग शादी के बंधन में नहीं बंधते और बस …

मेरी पत्नी मुझे शराब पीने नहीं देती, मगर प्रेमिका साथ जाम टकराती है.. Read More »

Spread the love

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.