Amit Shankar Saha

Amit Shankar Saha is an Assistant Professor of English in Seacom Skills University. He is also a poet, a short story writer and the co-founder of Rhythm Divine Poets group. He has a PhD in English from Calcutta University. His publications have appeared both in India and abroad. He has also contributed to a couple of Chicken Soup for the Indian Soul series books. His debut collection of poems is titled Balconies of Time. He has a blog  and a website.

एक से ज़्यादा लोगों से प्यार करना गलत है या सिर्फ अलग है

एक से ज़्यादा लोगों से प्यार करना गलत है या सिर्फ अलग है?

मुझसे अक्सर जोड़े की संगतता के बारे में पूछा जाता है या फिर यह की मोबाइल साथियों को पास लाया है या दूर ले गया है, मैं प्यार के सार्वजनिक प्रदर्शन (पीडीए) को कैसा मानता हूँ, और लोगां को अपने एक्स के साथ संबंध खत्म करना चाहिए या नहीं। कभी-कभी मैं उत्तर देता हूँ और …

एक से ज़्यादा लोगों से प्यार करना गलत है या सिर्फ अलग है? Read More »

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.