Swati Rajgarhia

A full-time mother of two, a freelance writer/editor by day and a voracious reader by night, Swati Rajgarhia spends her spare time exploring her literary inclinations. Blessed to have a loving family, she only wishes she had even more time to write. Her work experience has ranged from academic to creative writing over the last decade and highlighted editing as her forte.

wedding pheras

जब दुल्हन को आखिरी फेरे लेते मोच आ गई

चार साल तक डेट करने के बाद रिया और विक्की की आखिर शादी हो ही रही थी. दोनों ही के परिवार इस रिश्ते के खिलाफ थे और बहुत मुश्किल से अब दोनों पक्ष माने थे. दोनों ने हर कोशिश कर ली थी उन्हें मनाने की मगर कुछ भी काम नहीं कर रहा था. फिर आखिरकार …

जब दुल्हन को आखिरी फेरे लेते मोच आ गई Read More »

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.