Utkarsh Patel

Utkarsh Patel is a corporate-professional-turned-mythologist and now the author of Shakuntala – The Woman Wronged, published by Rupa Publications, and Satyavati, a mobile book readable through Readify. He is a professor of Comparative Mythology at Mumbai University and has qualifications in Mythology, both Indian and World, from Mumbai University. He has been writing a blog, ‘This is Utkarsh Speaking’ for close to six years now, and is a founder member of ‘Talking Myths Project’ , an online archive of traditional tales from the Indian Subcontinent.

Homosexuality In Ancient India Was Seen Simply As An Act Of Erotic Expression

Examples of same-sex relationships in other mythologies like Greek, Egyptian, etc. have been quite direct and obvious, where we have seen a relationship between two men, as in Greek mythology. However, in the context of Indian mythology, there is a slight difference. In the Indian context, it is important to understand that in the Hindu way …

Homosexuality In Ancient India Was Seen Simply As An Act Of Erotic Expression Read More »

Spread the love
Lapita

लपिता, ऐसी स्त्री जिसके लिए प्यार से बढ़ कर कुछ नहीं था

लपिता एक ऋषि की बेटी थी और एक आश्रम में पली बढ़ी थी। जंगल में उसकी एक पसंदीदा जगह थी जो उसके लिए एक छोटा स्वर्ग था। वह मीठे सुगंधित फूल और गुनगुनाती मक्खियों से भरा एक हरा-भरा लता मंडप था। इस जगह, एक बार उसने दो प्यासे किन्नरों को पानी प्रस्तुत किया था, जिसके …

लपिता, ऐसी स्त्री जिसके लिए प्यार से बढ़ कर कुछ नहीं था Read More »

Spread the love
kannaki

कन्नकी, वह स्त्री जिसने अपने पति की मृत्यु का बदला लेने के लिए एक शहर को जला दिया

कन्नकी तमिल महाकाव्य शिल्पादिकारम की प्रसिद्ध नायिका है। यह जैन भिक्षु इलंगो अड़िगल द्वारा लिखी गई एक स्त्री और उसके पति की कहानी है जो वफादारी, सही और गलत, एवं न्याय के लिए संघर्ष करते हैं। कई अनूठी चीज़ों के अलावा, यह एकमात्र महाकाव्य हो सकता है जिसमें एक स्त्री नायक है और कहानी शुरू …

कन्नकी, वह स्त्री जिसने अपने पति की मृत्यु का बदला लेने के लिए एक शहर को जला दिया Read More »

Spread the love
kaikeyi-and-manthara

कैकेयी का बुरा होना रामायण के लिए क्यों ज़रूरी था

आपने क्या कभी गौर किया है की कभी कोई अपनी बेटी का नाम कैकेयी नहीं रखता, जबकि उस समय के कौशल्या और सुमित्रा तो बहुत ही चर्चित नाम हैं. क्या इसलिए क्योंकि कैकेयी नाम लेते ही वो सौतेली गन्दी माँ जिसने राम को बनवास भेजने का षठ्यंत्र रचा था, याद आती है? मगर, ज़रा सोचिये, …

कैकेयी का बुरा होना रामायण के लिए क्यों ज़रूरी था Read More »

Spread the love
Bahuchara mata - transgenders' God

Five fascinating stories about Bahuchara, the deity of transgenders and masculinity

Bahucharaji Mata is one of the many ‘avatars’ of the Shakti goddess which is worshipped in Gujarat. She is depicted astride a rooster and is one of the important Shaktipeeths in Gujarat. Goddess Bahucharaji is considered to be the primal deity of the transgender community of India. Legend has it Bahucharaji was a daughter of Bapal …

Five fascinating stories about Bahuchara, the deity of transgenders and masculinity Read More »

Spread the love

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.