धोखा देने के बाद इन 6 लोगों ने स्वयं के बारे में क्या सीखा

Team Bonobology
cheating-adults

बेवफाई दर्द देती है। भले ही आपका वैवाहिक जीवन कितना भी बुरा हो, आपके साथी को धोखा दिया जाना कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता। एक संबंध या विवाह के बाहर किसी व्यक्ति के साथ अनैतिक संबंध होना शुरू में उल्लासित लग सकता है, लेकिन अंततः यह अपराधबोध की राह पर ले जाता है। हालांकि, ऐसा कई बार होता है, कि प्रेम एक अनैतिक संबंध के रूप में आता है। जब आपका प्रेम प्रसंग उजागर हो जाता है तो आप परेशानी, अपराधबोध, शर्मिंदगी या खुशी महसूस कर सकते हैं क्योंकि अब आप मुक्त हैं। कभी-कभी ये परिणाम होते हैं, कभी-कभी यह रोमांच होता है, लेकिन हर कोई जो धोखा देता है, वह यदा-कदा भीतर झांक कर ज़रूर देखता है।

ये भी पढ़े: 10 संकेत की आपके पति का भावनात्मक प्रेम प्रसंग चल रहा है

एक प्रेम संबंध के बाद हालात कभी सामान्य नहीं होते

जब कोई प्रेम प्रसंग उजागर हो जाता है, और अगर आप अब भी अपने साथी से प्यार करते हैं तो यह दर्द और कष्ट का कारण बन सकता है, या फिर आपको मुक्त कर सकता है अगर आप संबंध से बाहर जाने के बारे में विचार कर रहे थे। चाहे जो भी हो, अधिकांश लोग जो धोखा देते हैं, वे उस अनुभव से कुछ ना कुछ सीखते ज़रूर हैं। जहां कुछ को अहसास होता है कि विवाहेतर संबंध बनाना ठीक नहीं है, कुछ को अपने जीवन में एक नया अर्थ और एक विवाहेतर संबंध में होने के प्रत्येक क्षण की ज़िम्मेदारी मिल जाती है।

हम आपको 6 लोगों के व्यक्तिगत अनुभव प्रस्तुत कर रहे हैं कि धोखा देने के बाद उन्होंने क्या सीखा।

जब मैंने धोखा दिया, उसके बाद मैंने खुद के बारे में यह जाना…

रिश्ते गुदगुदाते हैं, रिश्ते रुलाते हैं. रिश्तों की तहों को खोलना है तो यहाँ क्लिक करें

1. यह पीड़ा झेलने योग्य नहीं

मेरे साथी को मेरे संबंध के बारे में एक मैसेज द्वारा पता चला जिसे मैं डीलीट करना भूल गई थी। वह गहन दर्द में था और उसकी वजह मैं थी। उसे इतनी दयनीय अवस्था में देखने पर मुझे लगभग शारीरिक पीड़ा महसूस हुई। उस समय मुझे लगा विवाहेतर संबंध में मिलने वाले आनंद और उत्साह कोई मायने नहीं रखते थे। मुझे लगता है एक संबंध तभी ठीक है जब उसके बारे में किसी को पता ना चले (जब तक कि आप एक स्वतंत्र संबंध में नहीं हैं), अन्यथा यह सभी शामिल सदस्यों के लिए बहुत विनाशकारी है।

ये भी पढ़े: मैं एक विवाहित पुरूष को अपना प्यार कैसे जताऊं, जिसकी पत्नी उसे बहुत प्यार करती है?

2. कुछ कमी थी

प्रेम संबंध के कारण मुझे अहसास हुआ कि मैं अपनी पत्नी के साथ अब सिर्फ अपने बच्चों के लिए था। और यह कि मैं अब उसे प्यार नहीं करता था। यहां तक कि एक साथी के रूप में भी नहीं जिस तरह एक दीर्घकालीन संबंध में लोग करते हैं। हम दोनों एक दूसरे के साथ दो व्यापार के भागीदारों की तरह थे। और पूरा जीवन कार्यालय में नहीं बिताया जा सकता। प्यार अलग ही तरह की खुशी लाता है, मेरे प्रेम संबंध ने मुझे अहसास दिलाया कि मैं कहां चूक रहा था। धोखा देने से मुझे पता चला कि कुछ लोग ऐसे भी हैं जो मुझे खुश कर सकते हैं।

अब मुझे यह पता लगाना होगा कि इस ज्ञान का करूं क्या। बेशक, मुझे मेरी पत्नी के बारे में भी सोचना होगा, मैं समझता हूँ कि यह उसकी गलती नहीं है।

ये भी पढ़े: उसकी भावनाओं को चोट पहुचाए बिना बिस्तर में ना करने के 5 उपाय

3. अब मैं आलोचना नहीं करता

मैं हमेशा धोखा देने वालों को बुरी नज़र से देखता था, मैं समझ नहीं पाता था कि वे ऐसा क्यों करते हैं। जब मैंने धोखा दिया, मैंने उनकी आलोचना करना बंद कर दिया। ऐसी चीज़े होती हैं। और यह प्यार भी नहीं था। यह पूरी तरह वासना थी। फिर भी किसी के साथ बहुत ज़्यादा शराब पीने के बाद मैं उसपर आसक्त हो गया। ऐसा कहते हैं ना कि कोई सही या गलत नहीं होता, उनका मिश्रण होता है।

4. सेक्स अद्भुत हो सकता है

यह मेरा अब तक का सर्वश्रेष्ठ सेक्स था। मेरे शरीर ने उन तरीकों से प्रतिक्रिया दी जिनकी सक्षमता के बारे में मुझे पता ही नहीं था। कामुक फिल्मों में दिखाए गए सभी दृश्य मेरे लिए सजीव हो गए। अवैध सेक्स अद्भुत है। मेरे प्रेमी के बारे में सोच कर ही मैं उत्तेजित हो जाती थी। मैसेज भी उतने ही जोशिले थे जितना वास्तविक मिलन। मैंने जीवंत महसूस किया और बिस्तर पर नई तकनीकें सीखीं। मुझे पता नहीं कि क्या मुझे उन्हें अपने पति के साथ करना चाहिए या नहीं। क्या हो अगर उसे शक हो जाए?

5. खुद से झूठ बोलना

मैंने और मेरे साथी (विवाहेतर संबंध वाले) ने एक दूसरे को बताया कि हमारे साथियों के साथ हमारे संबंध कितने बुरे हैं, हमने कभी अच्छी चीज़ों के बारे में बात नहीं की। ना उसने और ना ही मैंने। एक समय के बाद हम दोनों जान गए कि हम अपने-अपने साथी के साथ भावनात्मक रूप से जुड़े हैं, फिर भी हमनें बुराई करना जारी रखा। मुझे लगता है आप इसी तरह अपने मन को समझातें हैं, आप स्वयं को बताते हैं कि आप अपनी पत्नी के साथ खुश नहीं हैं। सिर्फ उन घंटों, मिनटों के लिए।

ये भी पढ़े: शादी के तीन साल बाद पति ने मुझे अचानक अपनी ज़िन्दगी से ब्लॉक कर दिया.

6. आसान बहाना

मेरे पति को धोखे के बारे में कभी पता नहीं चला, लेकिन जब मैं संबंध से थक गई, मैंने विवाहेतर संबंध से बाहर निकलने के लिए उसका नाम इस्तेमाल किया। मैंने कहा कि उसे इसके बारे में पता चल गया है। मुझे पता चला कि मैं अपने आपको एक अलग तरह से देखती थी, लेकिन मैं स्वार्थी हूँ। बेशक मेरे पति को मेरे संबंध, और ब्रेकअप के वास्तविक कारण मेरे ब्वॉयफ्रैंड के बारे में अब भी पता नहीं है।

दो पुरुषों के बीच उसे एक को चुनना था

मैं एक विवाहित पुरूष से प्यार करती हूँ जो तीन स्त्रियों को बराबरी से चाहता है। मैं उसे प्यार करना कैसे बंद करूं?

You May Also Like

1 comment

Reema dubey April 27, 2018 - 10:09 am

यहा सिर्फ बिवाहेतर संबंध कहकर बताया गया है।मगर हमारे समाज मे 95% लोग शादी के पहले किसी और के साथ रिलेशन मे होते है।फिर किन्ही पारिवारिक समसयाओ का हवाला देकर शादी नही करते ।और बाद मे अपने मापदंडो के हिसाब से शादी कर लेते है।फिर वो अपने साथी मे पुराने साथी को ढुढने लगते है और फिर उन्हे अपने साथी मे कोई intrest नही होता। अगला कब तक उनके लिए बदलेगा , या अकेलेपन का दर्द झेलेगा फिर अगर वो अगर अपनी खुशी कही और ढुढ ले तो आप इसे गलत नही करार सकते।

Leave a Comment

Login/Register

Be a part of bonobology for free and get access to marvelous stories and information.