एक अरेंज मैरिज का कठोर सच

“अरेंज मैरिज व्यवहारिक हैं ही नहीं। क्या आप एक बिल्कुल अजनबी व्यक्ति से शादी करने और बाकी का जीवन उनके साथ बिताने की कल्पना कर सकते हैं? यह बेतुका है!’’ मेरी सहेली ने कहा। हालांकि, मेरे माता-पिता का खूबसूरत रिश्ता जो मैंने बचपन से ही चाहा था, वह भी अरेंज मैरिज का ही परिणाम था और एक ऐसे परिवार से संबद्ध होना, जो निरंतर इस विवाह की वकालत करता था, उसकी वजह से मुझे इस विवाह में कोई दोष नज़र नहीं आता था। इसके अलावा, मैं हमेशा से जानती थी कि मेरा वैवाहिक भविष्य मुझे एक अजनबी से शादी करने के लिए प्रेरित करेगा, इसलिए मैंने कई वर्षों पहले ही इस विचार को स्वीकार कर लिया था।

अपने दिमाग में अरेंज मैरिज पर दो विवादित विचारों से जूझते हुए मैं घर पहुंची और मैंने गेम ऑफ थ्रोन्स की किताब खोली, जहां तक मैं पढ़ चुकी थी उसके आगे पढ़ने के लिए। श्रृंखला में अपने पसंदीदा जोड़ों वाले भाग पर मुस्कुराने से मैं खुद को रोक नहीं सकीः नेड और कैटलीन स्टार्क। मेरे लिए, उनका काल्पनिक रिश्ता सही था। उनके बारे में पढ़ना बिना शर्त के प्यार और समझ को देखने जैसा था और जल्द ही मैं एक दिवास्वप्न में बहती चली गई यह सोच कर की उनकी प्रेम कहानी कितनी प्रेरणादायक रही होगी। लेकिन, जैसे-जैसे मैं आगे पढ़ती गई, मैं उनके रोमांटिक प्रक्षेपण से बहुत हैरान हो गई। वास्तव में, कैटलीन की सगाई नेड के भाई ब्रैंडन से हुई थी, जो उनकी शादी से पहले ही चल बसा और इसलिए, रिवाज़ के तौर पर कैटलीन ने उसके भाई नेड से शादी कर ली।

ये भी पढ़े: आप विश्वास नहीं करेंगे कि हमारे गोवा-गुजरात प्रेम विवाह को तोड़ने की कोशिश किसने की थी

नेड और कैटलीन स्टार्क
रिवाज़ के तौर पर कैटलीन ने उसके भाई नेड से शादी कर ली।

शुरू में, हर जोड़े की तरह उनके भी मतभेद थे। कैटलीन नेड के कैसल विंटरफैल को तुच्छ समझती थी जिसका तापमान रहने योग्य नहीं होता था और उसे ठंड से नफरत थी। वे कहीं से कहीं तक संगत नहीं थे और यही बात उनकी धार्मिक मान्यताओं में भी दिखाई देती थी, दोनों भिन्न देवी-देवताओं को पूजते थे। फिर भी, जैसे-जैसे समय बीतता गया और उनका विवाहित जीवन एक साथ विकसित हुआ, उसे अपने मन में नेड के प्रति प्यार और स्वीकृति महसूस हुई। यह निश्चित रूप से एक आसान राह नहीं थी। उनके विवाह के प्रारंभ में, जब कैटलीन अपने पहले बच्चे के साथ गर्भवती थी, तो नेड एक साल तक युद्ध में अपने बेस्ट फ्रैंड की सहायता करने के लिए चला गया। इस अवधि के दौरान, कैटलीन ने नेड का साथ दिया लेकिन यृद्ध के बाद, जब नेड एक छोटे बच्चे के साथ लौटा, जिसे वह अपना बेटा बता रहा था, तो कैटलीन किसी और महिला से शादी कर पैदा होने वाले बच्चे को खुद की संतान के रूप में स्वीकार नहीं कर पाई। उसने नेड से झगड़ा किया लेकिन वह ज़िद्दी बना रहा और उस लड़के की परवरिश उनकी अन्य संतानों की तरह ही हुई। नेड के लिए, कैटलीन एक ज़िम्मेदारी थी जो उसे अपने भाई के निधन पर विंटरफैल के साथ विरासत में मिली थी। वह सपोर्टिव था, समझने वाला था और पति का कर्तव्य निभाता था, लेकिन वह उससे प्यार नहीं करता था।

समय बीतने के बाद और 5 बच्चों के जन्म के बाद, नेड और कैटलीन ने एक दूसरे के अंतरों के परे देखना और एक दूसरे की अच्छाइयों को समझना सीख लिया और इसी दौरान उन्हें वास्तव में एक दूसरे से प्यार हो गया। उन्होंने एक दूसरे को समझना और सराहना सीख लिया और मुझे अहसास हुआ कि यही चीज़ विवाह को सफल बनाती है।

ये भी पढ़े: जब बच्चों के नन्हें हाथ एक शादी को बांधे रखते हैं

रिश्ते बनाना मुश्किल है, उन्हें बनाए रखना और भी मुश्किल

हम सभी की अपनी समस्याएं और अहंकार हैं। हम अलग-अलग वातावरण में बड़े होते हैं, अलग-अलग धारणाएं रखते हैं और शादी नाम के समझौते में, अक्सर हमारे जीवनसाथी के अंतर के लिए स्थान बनाना मुश्किल होता है। हमें यह समझना होगा कि दूसरा व्यक्ति अद्वितीय तरीकों और गुणों के साथ अपने आप में अनूठा है जिसे हम सिर्फ तब जान सकेंगे जब हम अपने कर्म्फ्ट ज़ोन से बाहर निकलेंगे और उन्हें उनके वास्तविक रूप में रहने की स्पेस प्रदान करेंगे। उनकी अपनी कमियां होंगी लेकिन हमें एडजेस्ट करना और उनकी कमियों से परे देखना सीखना चाहिए, ठीक वैसे ही जैसे वे हमारे साथ करते हैं। हमें शायद सबसे खूबसूरत प्यार, साथी के प्यार की शक्ति को कम नहीं आंकना चाहिए। जब हम इन कारकों को ध्यान में रखेंगे, तो हमारा विवाह हमारे दादा-दादी और माता-पिता के विवाह जितना सफल होगा!

Spread the love
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.