हमारी शादी प्यार रहित नहीं थी, बस सेक्स रहित थी

When marriage has no love & only sex

जैसा पुलकित वसुधा को बताया गया

जब मैंने उसकी कमर को अपनी बाहों में लपेटा और उसकी गर्दन पर चुंबन दिया, तो मुझे जाने पहचाने रोमांच का अनुभव हुआ। उसने उदासी के साथ मेरी आंखों में देखा, मासूमियत से मुझे चूमा और घूम गया।

ये भी पढ़े: महिलाएं अपने पसंदीदा सेक्स वीयर के बारे में बताती हैं

वे दिन कबके जा चुके थे जब मेरा पूरा बदन यौन तनाव से कांपता रहता था। लगभग पूरी तरह सेक्स रहित शादी के सात साल बाद, मैं हार मान चुकी थी। मैं अब भी प्रारंभिक रोमांस के नशीले दिनों की तरह उसे प्यार करती थी, उसके लिए तरसती थी और उसे चाहती थी। डेटिंग शुरू करने के कुछ ही हफ्तों बाद, हमारा यौन जीवन कमतर होने लगा था, तीन महीने बीतने पर मैं उससे भीख मांगने लगी थी कि वह मुझे प्यार करे। अब हम साल में एक या दो बार ऑकवर्ड सेक्स करते थे।

हमारा विवाह प्यार रहित नहीं था, बस सेक्स रहित था। वह मुझे कई तरह से खुश करता था लेकिन सेक्स की कमी मुझे कचोटती थी। मैं यह सोचते हुए कई दिन बिता देती थी कि मैं उसे सेक्सी क्यों नहीं लगती। मैंने ऐसा क्या किया की वह टर्न ऑफ हो गया? क्या वह किसी और को डेट कर रहा था? क्या वह गुप्त रूप से गे था या क्रॉस ड्रेसिंग कर रहा था या पॉर्न का सहारा ले रहा था? उसके साथ फिर से कनेक्ट करने के लिए मैं क्या करूं?

मैंने उसकी इच्छाओं, उसकी फंतासियों, उसके पिछले सेक्स जीवन, हमारे बारे में उसकी आशाओं के बारे में बात करने की कोशिश कई बार की -हमारे जीवन में अंतरंगता वापस लाने की व्यर्थ कोशिशे कीं। वह अपनी ही कुंठा में सिर पकड़ कर बैठ जाया करता था। वह चाहता था कि हम प्यार में अंतरंग और कामुक हों। और मैं उसपर विश्वास करना चाहती थी, मैं वास्तव में उस पर विश्वास करना चाहती थी, लेकिन शारीरिक रूप से हम दोनों एक दूसरे के लिए अजनबी बन गए थे। मैं उसकी आँखों में दर्द देख सकती थी, ‘‘कितना समय हो गया है, मैं नहीं जानता कि अब तुम्हें स्पर्श कैसे करूं।’’

ये भी पढ़े: क्या भारतीय अपने शरीर और सेक्स को लेकर अनजान हैं?

हमारे दो सुंदर बच्चे थे। दुनिया के लिए, हम बेडरूम में व्यस्त थे लेकिन वास्तव में, हमारी शादी सेक्स के बारे में पीड़ा और बहस से भरी थी। अलग होने का विचार मेरे दिमाग में आया लेकिन हमारा प्यार बहुत गहरा था और उसे तोड़ा नहीं जा सकता था।

मैंने टिंडर डाउनलोड किया लेकिन किसी भी युवा पुरूष ने मेरी फंतासी को इतना उत्तेजित नहीं किया कि मैं राइट स्वाइप करूं। मैंने जिगिलो के बारे में भी विचार किया – कौन जानता था कि वे इतने प्रचूर और सुलभ थे! लेकिन मुझे अहसास हुआ कि मेरे पास पहले ही वह पुरूष मौजूद था जिसे में चाहती थी -लेकिन वह मुझे क्यों नहीं चाहता था?

ब्लॉग और पत्रिकाएं जोर देकर कहती थी कि सेक्स खत्म होने के बाद भी प्यार लंबे समय तक कायम रहता है, लेकिन कोई श्रेष्ठ संबंध की शुरूआत से ही सेक्स की गैर मौजूदगी के बारे में नहीं बताता था। यह आश्चर्यजनक था कि मेरे कितने सारे दोस्त इसी तरह के सेक्स रहित विवाह में थे। एक का संबंध तो बस एक दूसरे को उपहार देने की हद तक सिमट चुका था जो उन्होंने एयरपोर्ट कियोस्क से खरीदे थे। दूसरी का संबंध चार वर्षों तक शानदार रहा लेकिन फिर बच्चे की देखभाल और नौकरी के तनाव ने उनके सेक्स जीवन का बर्बाद कर दिया। और एक अन्य सहेली 15 वर्षों से एब्यूसिव संबंध में थी और निश्चित रूप से उसका पति उसे धोखा दे रहा था। अपनी कहानियों, दर्द को एक दूसरे के साथ साझा करना और हमारे सेक्स रहित जीवन के बारे में चुटकुले सुनाना हमारा दर्द कम कर देता था।


ये भी पढ़े: 5 स्त्रियां बताती हैं कि उन्हें उनके पति सबसे ज़्यादा सेक्सी कब लगते हैं

डेटिंग शुरू करने के कुछ महीनों बाद ही, मैंने अपने पति को एक मनोचिकित्सक को दिखाने का कहा था। ‘‘मुझे किसी को दिखाने की ज़रूरत नहीं। मैं यह खुद ठीक कर सकता हूँ” उसने कहा था। अंततः, 5 साल बाद, जब मैंने घर छोड़ कर जाने की धमकी दी, वह एक सेक्स परामर्शदाता को दिखाने गया और हम साथ में एक विवाह परामर्शदाता को दिखाने गए। हालांकि इससे कुछ फायदा नहीं हुआ और मेरे पति अब भी सेक्स में उनकी अरूचि का कारण नहीं बता सकते, लेकिन मेंने देखा कि वह इस बारे में बात करना चाहते थे।

sirf sex ke liye sadi

ये भी पढ़े: सेक्स के दौरान इन गलतियों से बचें

कुछ महीनों बाद हम नोटबुक में टू-डू-लिस्ट बनाने लगे जब मैं उन्हें शरारत भरी नज़र से देखती थी इस आशा में कि इसके कारण अब कोई बहस और घंटों लंबी चुप्पी नहीं होगी।

मैंने उनसे कहा कि वे सेक्स के बारे में वे चीज़े लिखें जिनकी कमी उन्हें खलती है। उनके पास 5 मिनट थे।

वे अनिश्चित दिखाई दे रहे थे लेकिन उन्होंने लिखा, 1. ओरल सेक्स। ‘‘ठीक है जारी रखो”। जब उन्होंने 7 चीज़ें लिख डाली, मैंने वे 7 चीज़ें लिखी जिनकी कमी मुझे खलती थी। मैंने कहा कि 7 और लिखो। लेकिन अब हमारे पास लिखने के लिए कुछ नहीं बचा था और अब हम उन चीज़ों के बारे में बात कर रहे थे जो हम चाहते थे। हमने साथ में काम करना, एक दूसरे की मदद करना, सुझाव देना, प्रश्न पूछना शुरू कर दिया। जब हमने खत्म किया तो हमारे पास 31 बातों की सूची थी। हमारा सेक्स का महीना। हमने एक टाइम टेबल भी बना लिया।

अगले दिन, फोरप्ले की ही प्रत्याशा थी। किसी के द्वारा चाहे जाने और आनंदित होने की चाह बहुत आनंदित करने वाली थी और इसने आने वाले पूरे महीने के लिए टोन सेट कर दी। कभी-कभी हम तब तक इंतज़ार करते थे जब तक बच्चे बिस्तर पर होते थे, लेकिन अक्सर हम यह करने के लिए दोपहर में समय निकाल लेते थे। ऐसे भी दिन आते थे जब हम थके हुए होते थे और बस इस बारे में बात करते थे लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता था। मेरे पति मेरे साथ थे और हमें अपना मंत्र फिर से मिल गया था।

Spread the love

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.