Hindi

जब आपको सच्चा प्यार मिलेगा तब आपको कैसे पता चलेगा?

रीत सिंह सच्चा प्यार पाने के बारे में एक प्यारी व्यक्तिगत कहानी बताती है
diamond

“तुम्हें पता कैसे चलेगा कि यह सच्चा है?’’ मेरी सबसे अच्छी सहेली ने पूछा, उसकी आवाज़ में खीझ थी।

वह कुंठित थी क्योंकि मुझे 36वीं बार प्यार हुआ था।

हम अपनी युनिवर्सिटी में हाउस डॉक्टर थे। वह इंटर्नशिप से लेकर मेडिकल कॉलेज के साढ़े चार वर्षों से मेरी प्रेम कहानियों को देख रही थी, और वह अब भी यहीं थी, हाउस जॉब नंबर दो से वह सहानुभूतिपूर्ण किंतु निराश थी।

“मैं जान जाउंगी,’’ मैंने कहा, उतने ही आत्मविश्वास से जितना एक अपरिवर्तनीय रोमांटिक कहेगा। क्या मेरे प्रिय मिल्स एंड बून्स की किसी भी नायिका को पता नहीं चला जब उन्हें प्यार हुआ? मुझे पता चल जाएगा।

ये भी पढ़े: हमने दस साल, तीन शहर और एक टूटे रिश्ते के बाद एक दुसरे को पाया

“तुम कितनी कायर हो!’’ रंज ने हार नहीं मानी थी। वह मुझसे यह स्वीकार करवाना चाहती थी कि मैं एक मूर्ख लड़की हूँ! ‘‘तुम सिर्फ अनावश्यक पुरूषों के ही सपने देखती रहो! तुम्हारे प्रेम प्रसंग हमेशा एक तरफा ही होते हैं! बल्कि वे प्रेम प्रसंग भी नहीं हैं; वे सिर्फ…’’ उसने सही शब्द याद करने की कोशिश में सिर हिलाया। ‘‘वे सिर्फ क्रश हैं! तुम तो कमिटमेंट चाहती भी नहीं।”
[restrict]

best-friend-1
Representative image: Image source

मैं खुद क्रश हो गई थी! मेरी 36 प्रेम कहानियों को क्रश बोलने की सीमा तक छोटा करना दिल तोड़ने वाली बात थी, फिर भी किसी चीज़ ने मुझे एक तीखा प्रत्युत्तर देने से रोक लिया। स्वाभाविकता से, मुझे पता था कि रंज सही थी। वह भी मुझे इतना ही जानती थी जितना मैं स्वयं को जानती थी। मेरा महान प्यार बस टाइमपास था। मैं बस किसी लड़के के सपने इसलिए देखने लग जाती थी क्योंकि वह बहुत अच्छा बास्केटबॉल खेलता था, या हमें अद्भुत सर्जिकल अवधारणाएं सिखाता था। संकेत यह थे कि मेरे सभी प्यार में कुछ साझे कारक थे और रंज ने स्थिति को बिल्कुल सही तरह वर्णित किया था; और वे मुझे पूरी तरह अनदेखा करते थे! हे भगवान! मैंने सोचा। मैं वास्तव में प्यार में पड़ना ही नहीं चाहती। मैं बस अनिश्चित प्यार के नाटक से प्यार करती हूँ!

मैंने साक्ष्य की जांच कीः मेरा मन कभी भी मुझसे लंबे पुरूषों को देखकर नहीं ललचाया। मेरा प्यार हमेशा तब खत्म हो जाता था जब मेरी प्रिय वस्तु मुड़कर मुझे दुबारा देख लेती थी।

मुझे अहसास हुआ कि मैं प्रतिबद्धता के लिए तैयार नहीं थी, मैं चौंक गई। मैं कायर थी! मैंने मेरी आंखों पर पड़ी पट्टी हटाने के लिए मेरी बेस्ट फ्रैंड को धमकी देने वाली निगाहों से घूरा! मेरा 36वां प्यार शुरू होने के कुछ ही मिनटों में राख में बदल गया!

फिर, मुझसे 15 महीने बड़ी बहन टिन, भारतीय सेना में ‘उपयुक्त लड़के’ के आकर्षण में बह गई और उसने शादी कर ली। तुरंत ही, मुझे परिवार की अपेक्षाओं का दबाव महसूस होने लगा। तलाश शुरू हुई। यह कठिन काम था। उसे मुझसे लंबा होना चाहिए (मैं 5 फीट 10 इंच लंबी हूँ); वह एक डॉक्टर (मेरी पसंद) और मेरे धर्म का (मेरे परिवार की इच्छा) होना चाहिए। और वह रक्षा सेवाओं से नहीं होना चाहिए (बचपन से मेरे आसपास यही लोग थे और अब मैं बार-बार स्थानांतरित नहीं होना चाहती थी!)

यह बहुत डरावना काम था। मुझे रंज के शब्द याद आ गए, ‘‘तुम्हें पता कैसे चलेगा?’’

ये भी पढ़े: ५ लोग बताते हैं की कैसे प्यार ने उन्हें बेहतर बनाया

girl-thinking
Representative image: Image source

क्या हो अगर मुझे पता ना चले? क्या हो अगर मैं भयानक गलती कर बैठूं?

पहला संभावित साथी जिसके साथ मेरा मिलना तय किया गया था वह अमेरिका में पला बढ़ा एक डॉक्टर था। यह आसान था! मैं विदेश में नहीं बसना चाहती थी। वह आकर्षक था लेकिन मुझे कोई झुकाव महसूस नहीं हुआ।

अगला वाला भी आकर्षक था; एक डॉक्टर, लंबा (ज़ाहिर है!), और किताबी कीड़ा। दूसरा पहलू? वह मेरी 23 वर्ष की उम्र के सामने 32 वर्ष का था, वह ज़मीन से जुड़ा हुआ कन्या राशि का जातक था और मैं धनु राशि की हवा में उड़ती लड़की थी। फिर भी, मैं झुकी और मेरे दिल ने गीत गाया; लेकिन मैं 36 बार चोट सहन कर चुकी थी, इसलिए मैंने फैसला किया कि तत्काल कोई निर्णय नहीं लूंगी। हम फिर मिले, हमने चिकित्सकीय बात की, मुझे अब भी विद्युत शक्ति महसूस हुई।

अब तक सब अच्छा है, मैंने सोचा। चलो देखते हैं कि क्या मैं हमेशा की तरह मुंह फेर कर भाग जाउंगी।

और फिर उसने वे शब्द कहे जिसने मेरे जीवन को हमेशा के लिए बदल दिया।

“ऐसा कुछ है जो तुम्हें जानना चाहिए,’’ उसने मेरी आंखों में निडरता से देखते हुए कहा। मेरे दिल में एक छेद है, छोटा सा, लेकिन फिर भी अपना मन बनाने से पहले तुम्हें इसके बारे में पता होना चाहिए।”

ये भी पढ़े: जब उसके पति ने उसे प्यार सीखाने के लिए छोड़ा

ओह! जितना समय उसने अपनी सांस लेने में लगाया उतने में मैं अपना मन बना चुकी थी। यह पुरूष कीमती था। उसके लिए ना सिर्फ मेरी नसों के रक्त ने गीत गाया बल्कि वह किसी सेना के पुरूष की तरह निर्भीक और ईमानदार भी था। अगर वह मेरे हां कहने से पहले संभावित मुसीबत में डालने वाली जानकारी देने के बारे में ईमानदार था, तो शादी के बाद मैं और कितनी प्रतिभाओं से मिलने वाली थी?

जहां तक मेरा संबंध था, सौदा पक्का था। लेकिन मैं उसके लिए यह इतना आसान नहीं बनाने वाली। मैंने अपना दिमाग उस चीज़ में दौड़ाया जिससे मैं उसे बुरी तरह डराने वाली थी।

“देखो,…’’ मैंने कहा, बगैर ज़्यादा अतिश्योक्ति के, ‘‘मेरी पीठ पर स्ट्रैच मार्क्स हैं। और मेरे माथे पर चिकनपॉक्स का निशान है।”

मैंने इंतज़ार किया।

ये भी पढ़े: जब शादी ने हमारे प्रेम को ख़त्म कर दिया

वह मुस्कुराया, ‘‘मुझे लगता है कि तुम इतनी तेज़ी से लंबी हुई कि तुम्हारा सेल्युलाइट साथ नहीं दे सका। और तुम्हारे माथे का निशान? मैं मुश्किल से इसे देख पा रहा हूँ!’’

सैंस ऑफ हृयूमर के साथ एक हैंडसम हंक?

“तो हम शादी कब कर रहे है?’’ मैंने एक धनु राशि वाले अधीर व्यक्ति की तरह पूछा।

कन्या राशि ने कहा, ‘‘अपना समय लो, तुम्हारे परिवार को यह निर्णय लेने दो”

क्या जादू कभी खत्म नहीं होंगे? परिवार के प्रति सम्मान और सैंस ऑफ हृयूमर के साथ एक धैर्यवान हैंडसम हंक! जैसा कि डॉक्टर ने आदेश दिया। 30 सुखी विवाहित वर्षों बाद, जब मैं यह लिख रही हूँ, मुझे लगता है कि जब सच्चा प्यार आपके सामने आ जाए तो आप जान सकते हैं।
[/restrict]

इसे केवल सेक्स तक सीमित होना था लेकिन मैंने प्यार में पड़ कर इसे खराब कर दिया

दो विवाह और दो तलाक से मैंने ये सबक सीखे

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No