Hindi

जिस दिन मेरे पति ने हमारे दूसरे बच्चे को जीवन दिया

उसके दूसरे बच्चे की सेहत पर सवालिया निशान लग गया था, लेकिन उसका पति आत्मविश्वास के साथ आगे आया
Mother, gynaecologist and baby

चार साल की शादी और पूरी तरह से इस चरण का आनंद लेने के बाद, आखिर में हमारे माता-पिता ने हम पर दबाव डाला कि ‘हम बूढ़े हो रहे हैं और हम इस दुनिया को छोड़ने से पहले अपने पोतों को देखना चाहते हैं।’

घड़ी समय दिखाने लगी

जिस दिन आप बच्चों को जन्म देने का फैसला करते हैं, भाग्य खेल खेलना शुरू कर देता है। एक अंतर्राष्ट्रीय केपीओ में एक अत्यधिक तनावपूर्ण और वरिष्ठ स्तर की नौकरी के साथ, एक बड़ी टीम का नेतृत्व करते हुए, मैं दिन में लगभग 14 घंटे काम करती थी और केवल सोने और कपड़े बदलने के लिए घर जाती थी। मेरे एक के बाद एक तीन मिसकैरेज हो चुके थे और मैं पूरी तरह टूट चुकी थी। हर बार जब डॉक्टर कहता था कि मैं छह महीने बाद फिर कोशिश कर सकती हूँ, तो मैं बिखर जाती थी। वे छह महीने पूरी तरह से पीड़ादायक होते थे। परिवार द्वारा छुट्टियों पर जाने की खुशामद करना या पति द्वारा लाड़-प्यार करने से कोई मदद नहीं मिली।

ये भी पढ़े: बिमारी और दर्द में हम साथ हैं

यह पूर्ण रूप से अंधेरे का एक चरण था और मैं इस बारे में सुनिश्चित नहीं थी कि क्या मेरे जीवन में अन्य कोई उद्देश्य बचा था। मैंने महसूस किया कि मेरी जैविक घड़ी समय सूचित कर रही थी (मैं तब तक 31 की थी!) और मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि मुझे इस सब से गुजरना होगा। मैंने सोचा था कि ये चीजें केवल’ उन समस्याग्रस्त औरतों’ के साथ होती हैं और मैं तो सिर्फ एक ’सामान्य’ औरत थी। फिर मेरे साथ ऐसा क्यों हो रहा था! तीसरी बार, मैं लगभग हिम्मत हार चुकी थी, लेकिन मेरे पति और डॉक्टर सकारात्मक रहे और मुझे दृढ़ रहने के लिए प्रोत्साहित किया।

Biological clock

हमारा पहला बच्चा

अंत में थोड़ा सोचने – विचारने के बाद, मैंने अपनी नौकरी छोड़ दी, अपने काम की लाइन बदल दी और कॉर्पोरेट एचआर की भूमिका में एक अन्य बड़ी बहुराष्ट्रीय कंपनी में नियुक्त हो गई। कभी-कभी वातावरण में बदलाव दुनिया को अच्छा बना देता है और मेरे मामले में भी यही हुआ था। अगले महीने गर्भावस्था जाँच के उपकरण ’पी स्टिक’ पर दो गुलाबी रेखाएँ फिर से दिखाई दीं। कार्यालय के तनाव और रात में चिल्लाते हुए एक बच्चे का प्रबंधन करते हुए, मातृत्व की मेरी यात्रा शुरू हुई। मैं चौदह महीनों के लिए एक समझदार और सहयोगी बॉस के साथ इस सबसे गुजरी लेकिन आखिर में मैंने नौकरी छोड़ दी (क्योंकि नौकरी का समय बढ़ गया था और उससे दूर होने में मुझे तकलीफ होती थी), और अपनी 14 महीने की बेटी की पूर्णकालिक माँ बन गई।

ये भी पढ़े: कैसे एक बेटी ने अपने परिवार को शादी के बाद भी संभाला

जैसे ही वह आत्मनिर्भर होने लगी, मैं जीवन में आगे बढ़ाने और अपने काम पर वापस आने तथा दूसरे बच्चे को जन्म देने के बीच अनिश्चित थी।

Anita with her husband

 दूसरा प्रयास और भी मुश्किल था

अपने छोटे बच्चे के लिए दोस्त लाने का फैसला करने के बाद, मैं बिल्कुल नहीं जानती थी मैं पहले से भी अधिक तनावपूर्ण गर्भावस्था में थी। मेरे पति तब तक कॉर्पोरेट सफलता प्राप्त कर चुके थे, और ऐसी नौकरी में थे जो उन्हें लंबे समय तक दूर रखती थी। मतली और थकान से निपटने के लिए मैं अकेली रह गई थी। यह मेरे लिए विशेष रूप से कठिन था, चूंकि मुझे सभी पार्टियों और सामाजिक सभाओं में हमारी उपस्थिति से प्रभाव छोड़ना पसंद था।

Sad couple

ये भी पढ़े: पिता ने नयी पीढ़ी को मतलबी कहा मगर जब बात खुद पर आई

कुछ महीनों तक कैसुअल जाँचों और डॉक्टर के पास जाना उस दुस्वप्न में बदल गया जो स्क्रीन पर अपने बच्चे की पहली गति को देखने का इंतज़ार कर रही हर उत्साहित गर्भवती महिला का दुस्वप्न होता है। मेरी परीक्षण रिपोर्टों का अध्ययन करते हुए डॉक्टर के चेहरे पर दिखने वाली चिंता बता रही थी कि कुछ गलत था। उसने कहा कि मेरे थाइरॉइड का स्तर अधिक था और भ्रूण का गर्भपात करना होगा, नहीं तो बच्चे को निश्चित रूप से कुछ विषमताओं, जैसे डाउन सिंड्रोम, आदि होगा। कोई गारंटी नहीं थी, लेकिन यह एक जोखिम भरी गर्भावस्था थी। मुझे लगा कि मेरे पैरों तले जमीन खिसक गई और मैं खुद को नियंत्रित करने के लिए बैठ गई।

क्या हमारा समय-निर्धारण गलत था?

अगले कदम के बारे में सैकड़ों विचारों ने मेरे मस्तिष्क में प्रवेश कर लिया। शायद भगवान चाहता था कि हमारा एक ही बच्चा हो और हम उसे ही अपना सर्वश्रेष्ठ दें। शायद हम अभी तैयार नहीं थे। या शायद बच्चा समझ गया कि उसकी यहां ज़रूरत नहीं थी और वह मेरी असुरक्षा की भावना को भाँप गया था। मैं हैरान थी कि मेरा मन कह रहा था कि मैं वास्तव में दूसरा बच्चा चाहती थी और सबसे खराब स्थिति में फिर से अगली बार कोशिश करने को तैयार थी। तो यह मेरी सारी शंकाओं का जवाब था।

प्यार की कहानियां जो आपका मैं मोह ले

ये भी पढ़े: अपने पति की ज़िन्दगी सवांरते मेरी अपनी पहचान खो गई

उस दिन बारिश में अकेले खड़े हुए, आंसू मेरे गाल से नीचे गिर रहे थे, मैं सोच में पड़ी थी कि दुनिया का सामना कैसे करूं। मुझे आश्चर्य हुआ कि मेरे पति, जो हम दोनों में से अधिक उत्साही और मस्तमौला थे, उन्होंने कुछ ऐसा कहा जिसने मेरे लिए उनके प्रति सम्मान और बढ़ा दिया। मुझे इस बात पर गर्व है कि पिछले दस वर्षों में हमारा संबंध कैसे विकसित हुआ। उन्होंने कहा, ’’यह हमारा बच्चा है और हम इसे प्राप्त करेंगे. किसी भी विषमता के बावजूद, हम इसे कम प्यार नहीं करेंगे।“ मेरा डर गायब हो गया और आज हम दो अद्भुत, स्वस्थ बच्चों के माता-पिता हैं।

Love

मेरा दृढ़ विश्वास है कि लोग कई जन्मों से जुड़े हुए हैं और यह वह एक आदमी है जिसके साथ मैं आने वाले कई जन्मों तक रहना चाहती हूँ! मैं उनके बिना इतनी दूर नहीं आयी होती।

शादी के साथ आई ये रिवाज़ों की लिस्ट से मैं अवाक् हो गई

मैंने प्यार के लिए शादी नहीं की, लेकिन शादी में मैंने प्यार पा लिया

दुर्व्यवहार का सामना करने के बाद जब मैंने आजादी की ओर जाने का फैसला किया

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No