Hindi

क्या एक संयुक्त परिवार में अंतरंग होना असहज है?

एक संयुक्त परिवार में अपने साथियों के साथ अंतरंग होने के बारे में हमारे योगदानकर्ताओं का क्या कहना है?
uncomfortable

कल्पना कीजिए की आपकी शादी हो चुकी है। आसान है?

अब यह भी कल्पना कीजिए कि आपकी शादी संयुक्त परिवार में हुई है – हां, अधिकांश भारतीय जोड़ों की तरह।

कभी सोचा है कि अगर आप अपने साथी के साथ अंतरंग होना चाहते हैं तो आप कैसे करेंगे? कल्पना कर सकते हैं? दिन में निश्चित तौर पर ऐसे पल आ सकते हैं जब आपको अपने साथी को बिना किसी बात के गले लगाने का दिल करता है, लेकिन आप नहीं कर सकते। या फिर आपको टीवी पर एक रोमांटिक फिल्म दिखती है और आपका मन करता है कि फिल्म देखते समय अपने साथी का हाथ थामें, लेकिन आप नहीं कर सकते। कारण? आप संयुक्त परिवार में रहते हैं।

सबकुछ बांटने और एक ही छत के नीचे रहने के भारतीय पारिवारिक मूल्य निश्चित तौर पर सैद्धांतिक रूप में अच्छे लगते हैं, लेकिन ससुर, सास, पति के भाई और उनकी, पत्नी उनके बच्चे, और कभी-कभी आने वाली ननद के साथ एक ही छत के नीचे रोमांटिक होना एक बोझ हो सकता है अगर आप ऐसा युवा जोड़ा है जिसे प्यार दर्शाना पसंद है।

तेज़ आवाज़ वाला सेक्स और संयुक्त परिवार – कोई इस मसले को कैसे सुलझा सकता है? चटनीपूड़ी पूछती है।

ये भी पढ़े: किराने की सूची, बिल और दूध के डिब्बों के माध्यम से प्यार का इज़हार करना

वह बताती है “सात लंबे साल बीत चुके हैं और मैं अब भी मन से यह नहीं निकाल पा रही हूँ कि लोग सुन सकते हैं कि हम सेक्स कर रहे हैं,” डॉ संजीव त्रिवेदी एक सरल व्यावहारिक उदाहरण प्रदान करते हैं – “बैकग्राउंड संगीत बजाएं.”

संगीता सिन्हा भी सलाह देती हैं कि तेज़ ध्वनि वाला संगीत समाधान हो सकता है, हालांकि वे स्वीकार करती हैं, “व्यक्तिगत रूप से मैं कभी परिवार के साथ नहीं रही इसलिए किसी तरह से इस समस्या से इत्तेफाक नहीं रख सकती।“ लेकिन वे मानती हैं कि ‘‘यह परेशान करने वाला हो सकता है।”

भारत के गरीब और अन्य समाजों के पास अपने लिए एक शयनकक्ष की सुविधा तक नहीं है, फिर भी उनकी संख्या व्यक्तिगत शयनकक्ष वाले अमीरों की तुलना में बहुत तेज़ी से बढ़ती है।

ये भी पढ़े: जब बच्चों को छोड़ा तो पुरांना प्यार फिर से जागा

indian-joint-familly-768x576-1
“जगह नहीं है, परवाह कौन करता है” Image Source

तपन मजूमदार को लगता है कि ‘‘इस मामले में सुने जाने के डर को बेवजह ही अधिक महत्त्व दिया जाता है।” उनका मानना है कि जीवन ‘‘कला” या जो भी ऐसी फिल्मों को कहा जाता है, उनकी नकल नहीं करता, और हममें से सबसे तेज़ आवाज़ वालों को भी बंद, अच्छी गुणवत्ता वाले दरवाज़े से सुना नहीं जा सकता। ‘‘यह मेरा अनुभव है, दरवाजे़ की किसी भी तरफ से नहीं,” वे एक शरारती मुस्कुराहट के साथ कहते हैं। इसके बावजूद, हम एक जघन्य अपराध के बारे में बात नहीं कर रहे और जिसे गहन गोपनीयता में किया जाना चाहिए। हम प्रजनन और कभी-कभी मनोरंजन के बारे में बात कर रहे हैं। “मानसिकता के आधार पर, दरवाज़े के बाहर की जिज्ञासा उत्साह या शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। भीतर के लोगों के लिए, शालीनता के लिए विस्मयबोधक को शामिल करने की आवश्कता होगी। बल्कि, आनंद जितना गहरा और वास्तविक होगा, चिल्लाहट उतनी ही कम होंगी। चीख आमतौर पर दिखावे का संकेत देती हैं; उन भावनाओं का नकली घोषणापत्र जो अस्तित्व में ही नहीं है। तब, इरादा यह हो सकता है कि एक जारी निकटता, जो मौजूद ही नहीं है, के लिए दर्शक ढूंढना” तपन का मानना है।

ये भी पढ़े: विवाहित लोगों द्वारा 11 कथन जो बताते हैं कि उन्होंने सेक्स करना क्यों समाप्त कर दिया

नौफल खान मज़ाक में कहते हैं, ‘‘तब तो आपको और ज़ोर से चिल्लाना चाहिए बस उन्हें डराने के लिए। मैं यही करता हूँ।”

“थोड़ा ज़ोर से चिल्लाएं और कराहें तो और भी ज़ोर से,’’ आएशा की भी यही सलाह है।

couple-getting-intimate-768x432
‘संगीत लगा दें या शर्म त्याग कर ज़ोर ज़ोर से चिल्लाएं’Image Source

भारत में पुरूषों की हेल्थ पत्रिका द्वारा किए गए सर्वेक्षण में भी यह पुष्टि हुई है कि भारतीयों को अपने माता-पिता और वयस्क भाई बहनों के साथ शोरगुल वाले संयुक्त परिवार में रहने की वजह से जितनी बार वे चाहते हैं उतनी बार सेक्स करने के लिए पर्याप्त गोपनीयता नहीं मिलती।

हालांकि क्या संयुक्त परिवार में सेक्स करना वास्तव में इतना बुरा है? शायद हां, शायद नहीं -यह वही लोग सबसे बेहतर बता सकते हैं जिन्होंने इसे अनुभव किया है। लेकिन ये उन लोगों के लिए मुश्किल हो सकता है जिन्हें तेज़ आवाज़ करना पसंद है। लेकिन एक चीज़ पक्की है – तेज़ आवाज़ में चिल्लाना तो रहने दो, एक हल्की सी कामोत्तेजक कराह भी दरवाज़े के पीछे से पूरे परिवार द्वारा सुनी जा सकती है। तो अगली बार जब वह बिस्तर में कहेगा ‘मेरा नाम चिल्लाओ’, आप क्या करेंगी? उसे एक नज़र के इशारे से चुप करा देंगी?

विधवाएं भी मनुष्य हैं और उनकी भी कुछ आवश्यकताएं हैं

पोर्न आपके संबंध के लिए किस तरह अच्छा हो सकता है

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No