मैं अपने ब्वॉयफ्रैंड के माता-पिता के साथ लिव-इन में रहती हूँ

couple-live-in with in laws

पहली बार में वह मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगा। इंद्र ने मेरे पिता के निरीक्षण में फ्रीलांसर के तौर पर काम करना शुरू ही किया था और मेरे पिता उससे इतने ज़्यादा प्रभावित हो गए कि इंद्र को घर ही ले आए। जल्द ही वह मेरे माता-पिता के लिए एक बेटा बन गया जो उनके पास कभी नहीं था और ज़ाहिर है कि इससे मुझे ईर्ष्या हो रही थी। तब मैं एक विद्रोही किशोरी थी, जो अपने माता-पिता सहित हर प्रभावी व्यक्ति के साथ झगड़ पड़ती थी। और इंद्र एक सुनहरा उदाहरण था कि मैं हर बार उसके समक्ष आ टकराती थी। मैं उससे नफरत करती थी लेकिन वह मुझे पसंद भी आने लगा।

ये भी पढ़े: अजीब चीज़ें जो जोड़े साथ करते हैं जब उनका प्रेम सहज हो जाता है

मैं उसके साथ रहने लगी

Couple colding each other hands

इसी बीच, माता-पिता के साथ मेरे टकराव सहनशक्ति से बाहर हो रहे थे और मैंने घर छोड़ने का फैसला कर लिया। दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं की एक श्रृंखला के बाद, एक रात मैं सड़क पर अकेली रह गई और ना तो मेरे पास पैसे थे ना रात बिताने के लिए जगह। एक मसीहा के रूप में, इंद्र मेरे सामने आ गया और रहने के लिए एक जगह की पेशकश की। इसलिए मैं उसके साथ होस्टल में रहने चली गई जहां वह अपना स्नातकोत्तर डिप्लोमा कर रहा था। यह जानकर मुझे और गुस्सा आया कि मेरे इंद्र के साथ रहने के बारे में पता चलने पर मेरे माता पिता आश्वस्त हो गए थे।

ये भी पढ़े: उसने झूठ का एक जाल बुना और पुरूषों के प्रति मेरे विश्वास को नष्ट कर दिया

वह मुझसे आठ साल बड़ा था और मैंने कभी यह सोचा भी नहीं कि उसने मुझ पर ध्यान दिया होगा। लेकिन उसके साथ रहने और एक कमरा साझा करने से धीरे धीरे हम एक दूसरे के करीब आ गए। यह मेरे शुरूआती रोमांचों में से एक था। धीरे-धीरे इंद्र ने मुझे मना लिया कि मैं वापस घर में रहने चली जाऊं। उसने मेरे माता-पिता और मेरे बीच एक रैफरी का काम किया और मैं होस्टल छोड़कर वापस अपने माता-पिता के पास रहने चली गई।

वे चाहते थे कि हम शादी कर लें

लेकिन फिर टकराव के दूसरे चरण की शुरूआत हुई। मेरे और उसके माता-पिता चाहते थे कि हम शादी कर लें। दोनों परिवारों को यह विचार बहुत पसंद आया, सिवाए उनके जिन्हें वास्तव में शादी करनी थी। इंद्र विवाह में यकीन नहीं करता और मैं ऐसे देश में शादी नहीं कर सकती जहां शादी की समानता नहीं है। इसके अलावा हम जानते थे कि हम दोनों ही बहुविवाही हैं और एक व्यक्ति से विवाह करना हमारे लिए कोई विकल्प ही नहीं था। जब मेरे घर पर परेशानियों ने मुझे हद से ज़्यादा सता दिया, मैं बस बाहर जाना चाहती थी। हम दोनों ने थोड़े समय के लिए साथ में रहने का निर्णय किया और वित्तीय कारणों से हम उसके माता-पिता के साथ रहने लगेः यह 12 वर्ष पुरानी बात है।

Happy couple in a garden

ये भी पढ़े: तीन मुख्य कष्टप्रद बातें जो लोग सेक्स के बाद करते हैं

हमारे माता-पिता ने अब हमे शादी करने के लिए मनाने की कोशिश करनी बंद कर दी है। अब हम सबका आपसी संबंध अच्छा है और हम छुट्टियां साथ में बिताते हैं। मैं अब भी इंद्र और उसके माता-पिता के साथ रहती हूँ। हाल ही में इंद्र आगे की पढ़ाई के लिए अमेरिका चला गया है, जबकि मैं अपने गृहनगर में रहकर मेरी पीएचडी पूरी कर रही हूँ। मैंने यहां रह कर हम दोनों के माता-पिता की देखभाल करना स्वेच्छा से स्वीकार किया है, क्योंकि मैं अपना शहर नहीं छोड़ना चाहती थी।

हमारे बीच कभी प्यार की कमी नही रही और दूरी हमारे द्वारा पार की गई सबसे बड़ी बाधा नहीं है। किन्ही भी दो लोगों के लिए अलग हुए बिना एक साथ विकसित होना संभव नहीं है। और मुझे स्वीकार करना होगा कि पोलिमोरस होने ने हम दोनों को एक जोड़े के रूप में मज़बूत किया है।

यह भारतीय सभ्यता नहीं

हम सब एक ऐसे पितृसत्तात्मक समाज में रहते हैं जो विपरीत लिंगकामी है। हमें मानक फिल्मों, प्रेम गीत, कार्टून चरित्रों और यहां तक कि विज्ञापनों में भी एकविवाही प्रेम को एकमात्र विकल्प के रूप में परोसा जाता है। हम सीखते हैं कि ईर्ष्या और अधिकार सच्चे प्यार के संकेत हैं। हमें याद दिलाया जाता है कि शाह जहान ने अपनी पत्नी मुमताज महल के लिए हमारे देश में प्रेम का सबसे बड़ा प्रतीक ताज महल बनवाया, लेकिन हम यह भूलना पसंद करते हैं कि वह ना तो उसकी पहली पत्नी थी और ना ही उसके पहले बच्चे की माँ। हम राधा कृष्ण के मंदिर बनवाते हैं लेकिन हम इस तथ्य के बारे में बात नहीं करते कि उनका प्यार राधा, जो विवाहित थी और कृष्ण जिनकी और भी कई प्रेमिकाएं थी, के मध्य एक वर्जित संबंध था। हम विक्टोरियन नैतिकतावादी संरचना के पक्ष में यह सब भूल जाते हैं और इसे एक आदर्श के रूप में मानते हैं।

अपनी सीमाओं को स्वयं परिभाषित करना

इंद्र और मुझे कभी भी प्यार की इस अखंड परिभाषा के प्रति सहज महसूस नहीं हुआ। 12 वर्षों तक, हमने अपने प्यार की परिभाषा को परिभाषित किया है, पुनः परिभाषित किया है, रूप दिया है और फिर से जोड़ा है। मुझे याद है कि मैंने उससे झूठ कहा कि मैंने दूसरे पुरूष के साथ शारीरिक संबंध बनाया। यह वास्तव में केवल देखने के लिए था कि क्या उसे इस विचार से कोई आपत्ति थी। मुझे याद है कि उसने मेरे लिए मेरी पसंदीदा फ्लेवर की आइस्क्रीम खरीदी केवल यह बताने के लिए कि इसमें कोई बुराई नहीं है। जब पहली बार उसने मुझे बताया कि वह दूसरी स्त्री पर आसक्त है, मुझे याद है कि मैं अशांत हो गई थी। जब तक कि मैं उस स्त्री को जानने ना लगी और वह वास्तव में अद्भुत है।

ये भी पढ़े: ‘‘हम प्रेम में नहीं, वासना में लिप्त हैं” उसने कहा

Couple holding each other
अपनी सीमाओं को स्वयं परिभाषित करना

हमने एक लंबा सफर तय किया है और रास्ते में एक दूसरे की मदद की है। अब जब हम एक लंबी दूरी के संबंध के अज्ञात क्षेत्र की यात्रा कर रहे हैं, हमने नए आधार नियम निर्धारित किए हैं। जब तक हम अलग समय क्षेत्र में हैं, हम अपने यौन जीवन के विषय में एक दूसरे के साथ चर्चा नहीं करेंगे।

जीवन रोमांचक है और विकल्प असीमित हैं। मैं अपने सहयोगी और सह कप्तान इंद्र के साथ नए रोमांच की यात्रा करने को तैयार हूँ।

बैली नृत्य द्वारा अपने भीतर की एफ्रेडाइट को जागृत करना

क्या विवाह सेक्स के आनंद को खत्म कर देता है?

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.