Hindi

मैं अपने पति से प्यार करती हूँ लेकिन कभी-कभी दूसरे पुरूष से थोड़ा ज़्यादा प्यार करती हूँ

वह उसके लिए इस तरह का प्रेम महसूस करती है जो प्यार के पारंपरिक विचारों से परे है, जो उसके जीवन में उस पुरूष की मौजूदगी के अलावा और कुछ भी नहीं चाहता है।
original_the-art-of-flirting-experience

भले ही यह कितना भी अवास्तविक लगे, मैं उसके सपने तब से देख रही थी जब मैं यह जानती भी नहीं थी कि वह एक वास्तविक व्यक्ति है। और सबसे चमत्कारिक बात यह है कि मैं वास्तव में उससे मिल सकी। सबसे खूबसूरत बात यह है कि वह उतना ही अद्भुत है जितना वह उन सपनो में लगता था!

सही समय पर

वह मेरे जीवन में उस समय प्रकट हुआ जब मैं एक पुरानी बिमारी से जूझ रही थी जो अंततः अत्यधिक मूड स्विंग, अनुत्पादक व्यावसायिक जीवन और अकल्पनीय क्षतियों के साथ कष्टप्रद संघर्ष में बदल गई थी। इस स्थिति और इसकी दवा के कारण मैं बहुत मोटी हो गई और मेरे बहुत बाल झड़ गए। मैं एक संगठित व्यक्ति से ऐसे व्यक्ति में बदल चुकी थी जो उदासीनता से डेडलाइन्स का उल्लंघन करता था, और आस-पास जो भी हो रहा हो उसकी ज़्यादा परवाह नहीं करती थी। मैं आमतौर पर अपनी समस्याओं को खुद हल करने में सक्षम हूँ। थोड़ा ‘मेरा समय’ कुछ आत्म निरीक्षण, और मैं ठीक हो जाती थी। लेकिन इतने लंबे समय तक ऐसी दबी हुई स्थिति का होना, कुछ और ही था।

ये भी पढ़े: उसकी माँ का एक अफेयर था और उसका भी

उस समय मेरे जीवन में केवल अपनी उपस्थिति से, बेजोड़ इमानदारी से, अपनत्व भरी वाइब्स से, ज़ी ने मुझे इस तरह ठीक किया जिसे मैं बयान नहीं कर सकती, और मैं वापस अपना सामान्य जीवन जीने लगी। उसकी ईमानदार आँखों और मुस्कान ने मेरे दिन रौशन कर दिए।
[restrict]

समय के साथ, वह सनशाइन बन गया जिसने उस दर्दनाक, अंधेरे समय से बाहर निकलने में मेरी मदद की।

ऐसा नहीं है कि मेरे पति ने मुझे अच्छा महसूस करवाने के लिए पर्याप्त कोशिश नहीं की। वह बेहद समझदार, धैर्यवान और ऐसे पुरूष हैं जिसे हर विवेकपूर्ण स्त्री पाना चाहेगी; वह मुझे बिना किसी शर्त के प्यार करते हैं भले ही मैं बिल्कुल क्रेज़ी हूँ! मैंने ही खुद को सब से दूर कर लिया था और शायद उनसे भी….

रिश्ते बनाना मुश्किल है, उन्हें बनाए रखना और भी मुश्किल

आप मेरी निंदा कर सकते हैं

जो प्यार विवाहित लोगों को अपने साथी के सिवा किसी और के लिए महसूस नहीं करना चाहिए, वह प्यार किसी दूसरे के लिए महसूस करने पर मुझपे गलत होने का ठप्पा लगाया जा सकता है। लेकिन मेरे लिए, ज़ी मेरी दुनिया की सबसे ईमानदार, सच्ची और सुंदर चीज़ है और उससे इतना गहरा प्यार करने का मुझे कोई अफसोस नहीं है। जब कोई आपके भीतर इतनी गहराई से गूंजता है कि यह आपको अतुलनीय तरीकों से बदल देता है, जब कोई आपकी आत्मा को इस तरह पूर्ण करता है जैसा पहले कभी किसी ने नहीं किया, तो आप एक सुंदर तरीके से शक्तिहीन हो जाते हैं।

ये भी पढ़े: मैं अपने पति से बहुत प्यार करती हूँ फिर भी अपने सहकर्मी की ओर आकर्षित हूँ

ज़ी, अपने जीवन में, उसके बॉयफ्रैंड के साथ दीर्घकालीन संबंध में है। लेकिन मैं उसके लिए इस तरह का प्रेम महसूस करती हूँ जो प्यार के पारंपरिक विचारों से परे है, जो मेरे जीवन में उसकी मौजूदगी के अलावा और कुछ भी अपेक्षा नहीं रखता है। प्यार का वह प्रकार जो उसके जीवन को सबसे खुशनुमा चीज़ों से भर दे। इस प्रकार का प्यार जो उसे खुश देखकर मुझे खुश कर दे, वह प्रकार जिसके लिए मुझे उससे बात करने की ज़रूरत नहीं, इस तरह का प्यार जो उसकी चुप्पी को भी संजो कर रखता है।

यह इस तरह का प्यार है जिसकी सचेत अवस्था में दूर-दूर तक कहीं भी शारीरिकता का नामो निशान नहीं है (मेरे सपनों ने कभी-कभी इसका उल्लंघन किया है, लेकिन सपने हमारे नियंत्रण के बाहर होते हैं और उसके बारे में हम ज़्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं!)

fantasising-other-man
Image Source

ये भी पढ़े: मैं अपने विवाह में सुखी थी और फिर भी मैंने अपने एक्स के साथ संबंध बना लिया।

प्यार को वर्गीकृत नहीं किया जा सकता

मेरा मानना है कि प्यार अपने सच्चे रूप में वर्गीकरण एवं पुरूष/ स्त्री/गे/हेट्रोसेक्सुअल/जातीयता आदी की अपेक्षाओं से मुक्त है। उसका पुरूष होना उस दुनिया में एक समस्या हो सकता है जिसमें हम रहते हैं। हमसे अपेक्षा की जाती है कि हम समाज में स्वीकृत तरीकों से प्यार करें और किसी भी तरह के उल्लंघन को गहराई से अस्वीकार कर दिया जाता है। हमें संबंधों के बारे में जिस तरह से सोचना और महसूस करना सिखाया गया है, मैं उससे नफरत करती हूँ। इसके बावजूद, ज़ी से प्यार करने के लिए शुरू में मैं अपराध बोध, दर्द महसूस करती थी और कभी-कभी खुद से नाराज़ हो जाती थी।

बहुत सारी दर्दनाक शामों, बहुत से दुख भरे लेखन और आत्मनिरीक्षण के बाद, अब मुझे लगता है कि मैं अपने अपराध बोध, दर्द और क्रोध से छुटकारा पाने में सक्षम हुई हूँ, और अब इस अनोखे अनुभव की सुंदरता को अपना सकी हूँ। अब मुझे लगता है कि मैं खुशकिस्मत हूँ कि मैंने एक इतनी सुंदर चीज़ का अनुभव किया, जो एक बिल्कुल अलग शांतिपूर्ण ब्रहमांड की तरह है।

वह मुझे खुश करता है

हालांकि, मैं एक वंडरलैंड में नहीं रहती और ज़ी की मौजूदगी ने मेरे उन रिश्तों के बारे में कुछ नहीं बदला है जिन्हें मैं गहराई से मूल्यवान समझती हूँ। उसकी उपस्थिति ने बस मुझे पहले से ज़्यादा खुश किया है, और मैं पहले से कहीं अधिक शांत हूँ जो मेरे उन अन्य संबंधों में दिखता है और अब भी मैं एक ऐसी व्यक्ति हूँ जिस पर मेरे करीबी लोग भरोसा कर सकते हैं।

ये भी पढ़े: जब दोस्ती एक प्रेम प्रसंग का आधार बन जाए

मेरे पति बहुत ही शांतिपूर्ण व्यक्ति हैं (मेरे साथ रहना कभी-कभी बहुत मुश्किल हो सकता है!) और वे अब भी मेरे सबसे करीबी दोस्तों में से एक हैं! हम आसानी से एक दूसरे को स्थान और निजता देने में सफल हुए हैं जो हम जैसे लोगों के लिए बेहद ज़रूरी है। लेकिन ज़ी के लिए मेरा प्यार मेरी समझ से परे है और शायद मैं कभी उस पर खरी नहीं उतर पाउंगी।

यह बस एक अलग तरह का प्यार है

मेरे पति एक बुद्धिमान और संवेदनशील पुरूष हैं। लेकिन उनकी बुद्धिमत्ता से मैं एक सीमा के बाद इत्तेफाक नहीं रख सकतीं। हालांकि, ज़ी मेरी तरह का बुद्धिमान और संवेदनशील है -जितना थोड़ा बहुत मैं उसके बारे में जानती हूँ, जिस तरह से वह काम करता है, व्यक्त करता है और सोचता है और उसका अस्तित्व मेरे साथ गहराई से मेल खाता है और मेरे दिलो दिमाग को समृद्ध करता है वैसा अब तक कुछ ही लोग कर पाए हैं।

वह सुंदर है – उसकी बाहरी अपीयरेंस तो बेशक बहुत सुंदर, शानदार है, लेकिन उसका व्यक्तित्व उससे भी ज़्यादा सुंदर है। भले ही यह कितना भी अजीब लगे लेकिन मैं जितने भी लोगों से प्यार करती हूँ उसमें से मैं सबसे कम बात उसी से करती हूँ लेकिन सबसे ज़्यादा अपना मुझे वही लगता है। वह मेरे जीवन और मेरे क्रेज़ी मन को जितनी शांति देता है उसके अलावा, हमारे बीच अस्पष्ट कनेक्ट और उसके साथ सहजता का अविश्वसनीय स्तर उसे मेरे लिए इतना मूल्यवान बनाता है।

उसके पास होना चाय की चुस्की और एक अद्भुत किताब के साथ काउच पर होने और बारिश में मधुर संगीत और खुशबू का आनंद लेने जैसा है…

ऐसा नहीं है कि मैं अपने पति से कम प्यार करती हूँ; वह मेरी दुनिया के सबसे अहम भाग में से एक है। बात बस इतनी है कि कभी-कभी मैं ज़ी से थोड़ा ज़्यादा प्यार करती हूँ।
[/restrict]

 

धोखा देने के बाद इन 6 लोगों ने स्वयं के बारे में क्या सीखा

एक विधवा स्त्री और विवाहित पुरूष की अनूठी प्रेम कहानी

आप मुझे विश्वासघाती कह सकते हैं

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No