मैं विवाह के बाद भी अन्य महिलाओं के प्रति आकर्षित होता हूँ

upset man seeing outside window

हैलो मैम,

मेरी समस्या यह है कि शादी के नौ साल बाद भी, मुझे लगता है कि मैं अभी भी विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित हूँ। ये क्यों हो रहा है? मेरे कुछ दोस्तों ने पहले से ही अन्य महिलाओं के साथ संबंध बनाएं हैं और वे अपने अनुभव साझा करते हैं। यह मुझे मेरी किस्मत आज़माने की कोशिश करने के लिए प्रेरित करता है और शायद यह मेरा पहला सुंदर अनुभव हो सकता है …

मेरे दिमाग में जो चल रहा है क्या वह सामान्य है? क्या यह सामान्य है या क्या मैं धीरे-धीरे विवाहेतर संबंधों की ओर बढ़ रहा हूँ? कृपया मेरी सहायता करें।

मल्लिका पाठक कहती हैं:

हैलो यंग मैन,

किसी के प्रति आकर्षित होना मुश्किल बात नहीं है। आकर्षण विभिन्न प्रकार की चीजों के कारण होता हैः शारीरिक अपीयरेंस, समान विचार, समान रुचियां, इत्यादि। आप नियंत्रित नहीं कर सकते कि आप किससे आकर्षित होते हैं।

लेकिन आप निश्चित रूप से उस आकर्षण के प्रति आपकी प्रतिक्रिया को नियंत्रित कर सकते हैं। आपने कहा है कि आप विवाहित हैं। अक्सर, जब एक रिश्ता उदासीन हो जाता है, तो हम इसके बाहर उत्साह की तलाश करते हैं। वर्तमान में आपका विवाहित जीवन कैसा है? क्या आप अपने साथी के प्रति समान आकर्षण महसूस करते हैं जैसा आप पहले करते थे? क्या आप और आपकी पत्नी एक-दूसरे के साथ गुणवत्ता पूर्ण समय बिताते हैं? क्या आपकी पत्नी के साथ आपकी शारीरिक अंतरंगता में कोई बदलाव आया है? अपने आप से ये प्रश्न पूछें और यह देखने का प्रयास करें कि क्या इनमें से कोई भी कारक आपको ऐसा महसूस करवा रहा है कि आप अपने वर्तमान रिश्ते से पर्याप्त सुख प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं।

जहाँ तक एक संबंध में शामिल होने की बात है, जैसा कि आपने कहा है कि आपके कई मित्र इसमें शामिल हैं। उन परिणामों के बारे में सोचें जो आगे आ सकते हैं। अधिकतर विवाहेतर संबंध एक या अधिक व्यक्तियों को आघात पहुँचाकर समाप्त होते हैं। वर्तमान स्थिति पर विचार करने से आपको अपने विवाह के बाहर किसी के साथ खुद को शामिल करने के बारे में कुछ स्पष्टता मिल जाएगी।

यदि आप विवाहित हैं तो किसी के प्रति आकर्षित होना अस्वाभाविक नहीं है। जैसा कि मैंने पहले कहा था, यह आसान है। लेकिन इससे पहले कि आप इसमें शामिल हों, उन कारणों को समझने की कोशिश करें जिनकी वजह से आप ये करना चाहते हैं। मेरी सलाह है कि आपको आपके वर्तमान रिश्ते को समझना और उस पर विचार करना होगा कि आप इससे क्या प्राप्त नहीं कर रहे हैं। यदि कोई और बात है जिसमें मैं मदद कर सकती हूँ तो संपर्क में आने में संकोच न करें।

शुभकामनाएँ,
मल्लिका।

Hindi counselling

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.