Hindi

मैंने प्रसव के तुरंत बाद अपनी पत्नी को धोखा दिया और मुझे कोई अफसोस नहीं

वे पत्नी की गर्भावस्था के दौरान और प्रसव के बाद सेक्स नहीं कर सकते थे इसलिए वह वेश्या के पास गया
Men-With-kisses-on-his-face

(जैसा जोई बोस को बताया गया)

मेरे जीवन का सबसे बड़ा दिन वह नहीं था जब मेरी बेटी का जन्म हुआ। वह सबसे भयानक दिन था। ऐसा मत समझना कि मैं एक लड़की पैदा होने के कारण यह कह रहा हूँ। यकीन मानो, अगर मेरा बेटा हुआ होता, तब भी मेरी प्रतिक्रिया यही रहती। अचानक बच्चे के रोने के साथ, मैं एक जिम्मेदार व्यक्ति बन गया। यहां तक कि मेरी पत्नी, जो जिम्मेदार व्यक्ति हुआ करती थी, ऑपरेशन थियेटर से आधी नींद में बाहर निकलते हुए मुझे बोली कि अब हर बात से संबंधित निर्णय मैं ही लिया करूं। डॉक्टर ने भी मुझसे पूछा कि मैं क्या चाहता हूँ। मैंने मुस्कुरा कर कहा, ‘‘जो भी सबसे अच्छा हो” मुझे भुगतान करने में कोई समस्या नहीं। वह जो भी कह रहा था मेरा उसपर ध्यान भी नहीं गया।

ये भी पढ़े: मैं एक विवाहित पुरूष से प्यार करती हूँ जो तीन स्त्रियों को बराबरी से चाहता है। मैं उसे प्यार करना कैसे बंद करूं?

गर्भावस्था में कोई मज़ा नहीं था

बात यह थी, मुझे भुगतान करने में समस्या थी। इससे बेहतर तो मैं उन पैसा की शराब पी लेता। मैंने अपना जीवन निरंकुश तरीके से जीया है और मैंने शहर की सबसे सुंदर लड़की से शादी की। मैंने समुद्र किनारे शादी की थी और गर्भावस्था अनियोजित थी। मैंने उसे गर्भपात करने को कहा, क्योंकि मैं पिता बनने को तैयार नहीं था, लेकिन वह बच्चा चाहती थी। उसने काम करना बंद कर दिया और मुझे हम दोनों को सहारा देना पड़ा। साथ ही वह गर्भावस्था के दौरान अक्सर बीमार हुई और अंततः उसने मेरे साथ सोना भी बंद कर दिया। यह सब हद से बाहर हो गया।

Unplanned_Pregnancy
Image Source

ये भी पढ़े: मैंने प्लेन में मिले एक लड़के के साथ वन नाइट स्टैंड किया, और फिर उसीसे शादी कर ली

घर पर कोई शांति नहीं

एक पिता नौ महीने तक चुपचाप सहन करता जाता है और बच्चे के जन्म के बाद भी पीड़ा जारी रहती है क्योंकि कोई भी रात ऐसी नहीं होती जब आप शांति से सो सकें। अगर मैं दूसरे कमरे में सोना चाहता था तो मेरी पत्नी हमेशा झगड़ा किया करती थी और मुझे दोषी ठहराती थी। इसलिए मैं नौकरी पर दिन में चौदह घंटे काम किया करता था और मुझे घर पर भी शांति नहीं मिलती थी। साथ ही मेरी जेब से पैसा इस तरह बह रहा था जैसे मेरी पत्नी के स्तनों से दूध। दुर्भाग्य से मेरी बेटी लेक्टॉस असहिष्णु थी और दूध नहीं पीती थी। हमें उसके लिए इंपोर्टेड दूध खरीदना पड़ा, मेरी पत्नी के लिए इलेक्ट्रोनिक मिल्क एक्स्ट्रेक्टर क्योंकि अन्यथा वह दर्द में थी। हमें ढेर सारे डाइपर खरीदने पड़ते थे और दोपहर की नर्स को वेतन देना पड़ता था।

unhappy-fathers
Image Source

और इस सब के अलावा, मेरी माँ भी अपनी नई पोती की देखभाल करने के लिए हमारे साथ रहने आ गई और स्कूल की पढ़ाई पूरी होने के बाद मैं कभी उनके साथ नहीं रहा। वह दखलअंदाज़ी करती थीं और हमेशा मेरी पत्नी का पक्ष लेती थी। अंततः जब तीन महीने बाद मेरी पत्नी अपनी माँ के पास रहने चली गई और मेरी माँ मेरे पिता के पास लौट गई, मैंने चैन की सांस ली।

ये भी पढ़े: क्या सिखाते हैं देवी-देवता हमें दांपत्य जीवन के बारे में

स्वतंत्रता, अंततः

मैं पागलों की तरह शराब पीने लगा और यहां तक की सेक्स करने के लिए भुगतान भी किया। अगर मैं अपना पुराना वाला रूप होता, तो मैंने स्वयं को बुरा समझा होता, लेकिन मेरा यकीन करो मेरे पास कोई दूसरा रास्ता नहीं था। यह ऐसा है जैसे जब आप पिता बन जाते हैं, तो आपको बदलना ही पड़ता है। आपकी इच्छाएं, आपकी पसंद और जीवनशैली रातोंरात नहीं बदल जाती। और अगर मैं सार्वजनिक स्थानों पर गया होता, तो मैं कई लोगों से मिला होता जिन्होंने मेरी गतिविधियों की सूचना मेरी पत्नी को दे दी होती। उसके बहुत सारे दोस्त हैं। और इसलिए, मुझे अंधेरी जगहों का ही रूख करना होता था। मुझे मेरे सबसे अच्छे दोस्त को भी यह बताने की हिम्मत नहीं थी क्योंकि मेरी शादी के बाद वह मेरा साला बन चुका था।

हालात सामान्य हो गए हैं, लेकिन….

All-Okay
Image Source

अब मेरी बेटी चल सकती है और ‘डैडी’ बोल सकती है। मुझे उससे प्यार होने लगा है। मेरी पत्नी ने वापस काम पर जाना शुरू कर दिया है, और चीज़ें अब इतनी कठिन नहीं हैं। ऑफिस के बाद मुझे हमेशा शराब पीने जाने की इच्छा नहीं होती बल्कि अपनी बेटी की याद आती है। वह अक्सर मेरे सास ससुर या मेरे रिश्तेदारों के घर आती-जाती रहती है और मुझे अपनी पत्नी के साथ थोड़ा समय बिताना मिलता है। उसने गर्भावस्था वाले वज़न से मुक्ति पा ली है और पहले जितनी ही आकर्षक दिखने लगी है और जब भी मैं उसे एक पार्टी के लिए तैयार होता हुआ देखता हूँ, तो मुझे अपने किए पर पछतावा होता है, लेकिन क्या मेरे पास कोई विकल्प था?

दो पुरुषों के बीच उसे एक को चुनना था

जब उसके पति ने उसे प्यार सीखाने के लिए छोड़ा

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No