मैंने उसे फिर अपनाया क्योंकि मैं दुखी होने से डरती हूँ

देर रात मेरी आँख खुली तो किसी का ईमेल आया हुआ था. जिसका ईमेल था, उसे मैं दो साल पहले छोड़ चुकी थी. उसका नाम पढ़ते ही मन में उन सारी पुरानी यादों का सैलाब सा उमड़ आया. मैंने उसे इसलिए छोड़ा था क्योंकि वो एक उन्मुखत रिश्ता चाहता था जिसमे हम दोस्त से तो … Continue reading मैंने उसे फिर अपनाया क्योंकि मैं दुखी होने से डरती हूँ