मेरा पति पार्टियों में फ्लर्ट करता है। क्या मुझे चिंता करनी चाहिए?

Girl with Closed Eyes

प्रश्नः मेरा पति हर लड़की को देखता रहता है। जहां मैं अधिकांश सामाजिक फ्लर्टिंग सहन कर लेती हूँ, वहीं मुझे पसंद नहीं आता जब वह किसी पार्टी में एक लड़की के पीछे कुछ ज़्यादा ही देर तक लगा रहता है या उससे बात करने की कुछ ज़्यादा ही कोशिश करता है। क्या मैं पैरानोइड हो रही हूँ?

यदि आपका पति कम्पलसिव फ्लर्टिंग का प्रदर्शन कर रहा है, तो यह एक संकेत है कि उस व्यक्ति को पर्याप्त महसूस नहीं होता और उसे कई लोगों द्वारा पसंद किए जाने और प्यार किए जाने की आवश्यकता है, खास तौर से उनसे जिन्हें वह पसंद करता है।

ये भी पढ़े: लोग अफेयर करने के लिए ये 6 कारण देते हैं

फ्लर्टिंग वह चीज़ है जो इंसान अनिवार्य रूप से यौन या रोमांटिक स्वभाव के रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए करता है। हालांकि, बहुत से लोगों के लिए, यह प्रक्रिया ही उन्हें संतुष्टि दे देती है। हो सकता है वह सामने वाले व्यक्ति द्वारा फ्लर्ट किए जाने पर इस बात को आगे बढ़ाना ना चाहें। जब कोई आपको अपने साथ फ्लर्ट करने देता है या उत्तर में आपके साथ फ्लर्ट करता है, तो वह व्यक्ति अप्रत्यक्ष और अवचेतन रूप से आपके साथ अंतरंग मनोवैज्ञानिक स्पेस साझा कर रहा है। उस स्पेस पर दोनों एक दूसरे को कई स्तरों पर महत्त्वपूर्ण और वांछित महसूस करवाते हैं। रोमांटिक रूचि आपके मस्तिष्क को अनुभव होने वाला उच्चतम उपहार है क्योंकि एक फ्लर्ट भरी मुस्कान और दो लोगों की चमकती आखें आसानी से कह जाती हैं कि ‘तुम्हारा अस्तित्व मुझे पसंद है’। दुर्भाग्य से इनमें से काफी कुछ एक व्यक्ति और उसकी प्रतिक्रियाओं की नवीनता और अप्रत्याशिता पर निर्भर करता है। पति पत्नी और दीर्घकालिक जोड़ों को अपने साथी की प्रतिकिया बहुत प्रत्याशित लगती है। उपर से सेक्स और संबंध शिक्षा की कमी की वजह से हमे इस बारे में कोई जानकारी नहीं होती की लांग टर्म रिलेशनशिप में एक दूसरे में रूचि किस तरह बनाए रखना है। इसलिए किसी ऐसे व्यक्ति के साथ फ्लर्ट करना मुश्किल है जिसे आप लंबे समय से जानते हैं और जिसने अपने जीवन का सबसे उबाउ, अंतरंग और रोमांचक भाग आपके साथ साझा किया है।

ये भी पढ़े: यह गलत है, मगर मेरा सम्बन्ध मेरी भाभी से है

फ्लर्टिंग समझाने के बाद, मैं यह कहना चाहता हूँ कि आपको इसे व्यक्तिगत रूप से नहीं लेना चाहिए लेकिन अपने पति के सामने एक गैर आरोपक तरीके से यह चिंता ज़ाहिर करने से हिचकिचाना भी नहीं चाहिए। आपको कैसा महसूस होता है, उसे यह बताने से हो सकता है वह अपने व्यवहार को अलग तरह से देखे। हमें पता भी नहीं है कि क्या उसे अपने बर्ताव के बारे में पता भी है। उससे बात करें या अगर आपको लगता है कि बात करने से समस्या होगी तो उसे लिख कर बताएं। और जहां तक पेरानॉइड होने की बात है, तो आपको अपने आप को याद दिलाना होगा कि आप एक पूर्ण मनुष्य हैं और आपकी संपूर्ण खुशी आपके पति और उसकी भटकती नज़रों पर निर्भर नहीं है। आपके द्वारा स्थिति को समझने से और गैर-आरोपक बातचीत से बहुत मदद मिलेगी।

5 तरह से विवाह मेरी कल्पना के विपरीत निकला

पूर्वनिर्धारित अंतरंगता भी संतोषप्रद हो सकती है

मेरा संबंध एक विवाहित पुरूष के साथ था

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.