मेरा प्रेमी अपनी पत्नी को ज़्यादा महत्त्व देता है

Young-woman-seated-on-sofa-

प्रश्नः

Table of Contents

डीयर मैडम,

मैं 34 वर्षीय अविवाहित स्त्री हूँ और पिछले छह/सात वर्षों से एक संबंध में हूँ। वह व्यक्ति मेरा सम्मान करता है, मुझे सलाह देता है और फोन द्वारा हर दिन मेरे संपर्क में रहता है। लेकिन मुझसे मिलने से पहले उसका संबंध एक अन्य लड़की के साथ था जो उससे 5 साल बड़ी है। वह उससे शादी करना चाहता था लेकिन परिवार की समस्याओं और उनके बीच उम्र के अंतर के कारण नहीं कर पाया। फिर लड़की जुनूनी होने लगी। यहां तक कि उसने दो बार आत्महत्या की भी कोशिश की। अंततः उसकी धमकियों और तनाव के कारण मेरे ब्यॉयफ्रैंड ने अपनी पुरानी गर्लफ्रैंड से शादी कर ली और मुझे छोड़ दिया।

लेकिन फिर भी, वह मेरे साथ नियमित संपर्क में है। वह मेरी परवाह करता है लेकिन मुझसे शादी करना और सामाजिक रूप से स्वीकार करना नहीं चाहता। उसकी प्राथमिकता उसकी पत्नी है। हमेशा!

ये भी पढ़े: मैंने प्रसव के तुरंत बाद अपनी पत्नी को धोखा दिया और मुझे कोई अफसोस नहीं

वह कहता है कि अगर सब कुछ उसकी पत्नी के अनुसार नहीं हुआ, तो शायद उसका परिवार बर्बाद हो जाए। वह उसे खुश रखने का भरसक प्रयास करता है और यहां तक कि उसके साथ सोता भी है। लेकिन फिर भी, वह कहता है कि वह मुझे पसंद करता है और मेरे साथ भी संपर्क रखना चाहता है। मुझे क्या करना चाहिए? मैं पूरी तरह उसमें लिप्त हूँ और जब मैं उसे दूसरी अधेड़ स्त्री को अधिक महत्त्व देते हुए और मेरी उपेक्षा करते हुए देखती हूँ मैं बुरी तरह परेशान होती हूँ और निराश महसूस करती हूँ। मैं उसे खोना नहीं चाहती। लेकिन मैं उसके जीवन में दूसरी औरत भी नहीं बनना चाहती। मैडम प्लीज़ मदद कीजिए और सलाह दीजिए।

सलाहकार अवनी तिवारी कहती हैः

प्रिय 34 वर्षीय सहेली,

ठीक है…..जब हम कुछ बुरी तरह चाहते हैं तो हम सब स्वयं को सही ठहराने की कोशिश करते हैं। जब हम कुछ छोड़ना नहीं चाहते; उन संबंधों सहित जिन्हें हम खत्म करना नहीं चाहते।

यह स्पष्ट है कि तुम उसे प्यार करती हो। यह भी ज़ाहिर है कि वह तुमसे प्यार नहीं करता। अगर वह करता, तो आज तुम इस बुरी स्थिति में नहीं होती। अब ध्यान से पढ़ो – उसके और उसकी पत्नी के बीच में जो भी संबंध है उससे तुम्हारा कुछ लेना देना नहीं है और उस चीज़ को सही ठहराने की कोशिश मत करो जो अब एक विवाहेतर संबंध है।
ये भी पढ़े: एकतरफा प्यार में क्या है जो हमें खींचता है

पूरी तरह हट जाओ

तुम ना तो नैतिक रूप से और ना ही भावनात्मक रूप से एक अच्छी स्थिति में हो। तुम्हारे लिए सबसे अच्छा होगा कि बिगड़ती स्थिति को छोड़ दो और आगे बढ़ो। अपने परिवार और दोस्तों के पास जाओ। अपने आपको ठीक होने का समय दो, इसमें निश्चित रूप से समय लगेगा। साथ ही, उसकी जगह किसी और को देने की जलदी में मत रहो। बाद में, अगर तुम्हें तुम्हारी भावनाओं और तुम्हारे लायक कोई व्यक्ति मिल जाए तो बहुत बढ़िया है। लेकिन इसका इंतज़ार मत करो। जहां तक सलाह देने की बात आती है, अंतरंग मामले परिवार, करीबी दोस्त और विशेषज्ञों के लिए हैं। इसलिए अगर ब्रेकअप करने और आगे बढ़ने के बाद, दर्द सहन करने में बहुत ज़्यादा लगे, तो निश्चित रूप से परामर्श लो।

अपना खयाल रखना,
अवनी

पुनर्विवाह कर के आये पति का स्वागत पहली पत्नी ने कुछ ऐसे किया

क्या मैं अपने पति को बता दूँ कि मैंने उन्हें धोखा दिया?

Tags:

Readers Comments On “मेरा प्रेमी अपनी पत्नी को ज़्यादा महत्त्व देता है”

  1. Main ek ladki Ko pasand karta usse shadi karna chahta hoon magar use propose karne ki himmat nahi Kar pa raha wo bhi mujhe dekhti sayad janti ki main use pasand karta hoon kya karo

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.