मेरे ब्रेकअप की वजह से मैं यौन रूप से अत्यंत हताश हो गया था

Frustated couple on bed

(जैसा जोयीता तालुकदार को बताया गया)

मैं सात वर्षों से मीरा के साथ संबंध में था। अचानक एक दिन उसने मुझे फोन किया और कहा, ‘‘सब खत्म हो गया है!’’

उसके साथ बिताया हुआ हर पल मेरी आंखों के सामने घूमने लगा। मैंने सोशल मीडीया पर उसका अनुसरण करना शुरू कर दिया यह देखने के लिए कि क्या वह मुझसे ब्रेकअप करके खुश है और वह वास्तव में खुश थी। इस बात ने मुझे पागल कर दिया। मैं किसी भी चीज़ पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहा था। ना ही मैं सो पा रहा था। मैंने एक ब्रेक लिया, छुट्टियों पर चला गया, और दुनिया को दिखा दिया कि ब्रेकअप से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन इससे मुझे कोई मदद नहीं मिल रही थी। क्योंकि अपने मन में मैं स्वयं से बात कर रहा था और यह पता लगाने की कोशिश कर रहा था कि उसने मुझे क्यों छोड़ दिया।

ये भी पढ़े: “उसे मुझसे ज़्यादा मेरे पिता में दिलचस्पी थी”

मैंने उसे वापस लाने की कोशिश की

मैं उसका सामना भी नहीं करना चाहता था क्योंकि मेरे पुरूष अहं को बहुत चोट पहुंची थी। एक कमज़ोर पल में, मैंने उससे मिलने का फैसला किया, जिसने मेरी स्थिति को और अधिक बुरा बना दिया। उसने कहा, ‘‘ऋषभ, तुमने कभी मेरी भावनाओं को महत्त्व नहीं दिया। अब मैं तुम्हारे बारे में कुछ भी महसूस नहीं करती; क्योंकि जब मैं ऐसा करती थी, तो तुमने कभी प्रत्युत्तर में ऐसा नहीं किया। हम दोनों के लिए यही अच्छा होगा कि तुम मुझे जाने दो।”

frustated man
मैंने उसे वापस लाने की कोशिश की

मैं भावनाओं को व्यक्त करने में बहुत ही बुरा हूँ। मैं उसे यह नहीं बता सका कि उसके अलावा मेरा है ही कौन। मेरा काम ऐसा था जिसमें मुझे मेरा पूरा समय देना पड़ता था, लेकिन वह हर समय मेरे मन में रहती थी। मेरे शब्द मेरे दिल में ही रह गए और मैं चला आया।

ये भी पढ़े: एक झगड़े के बाद उत्तम सेक्स के लिए 5 नुस्खे

मेरी नींद उड़ गई

थोड़े समय में, मेरी चिंताएं इतनी गंभीर होती गईं कि मैं स्वप्नदोष का शिकार हो गया। यौन हताशा मुझे पागल कर रही थी। अंततः, मैंने कुछ साहस इकट्ठा किया और अपनी स्थिति के बारे में मेरी एक दोस्त से बात करने का निश्चय किया। उसने मुझे एक मनोचिकित्सक से परामर्श करने की सलाह दी। यह आसान नहीं था क्योंकि मुझे लगता था कि मनोचिकित्सक उन लोगों के लिए होते हैं जो पागल हैं। मुझे खुशी है कि मैं अंततः मनोचिकित्सक के पास गया, क्योंकि उसने मुझे समझाया कि मैं जिस चीज़ से गुज़र रहा था वह अवसाद का एक संकेत था, और बाकी के लक्षण एक बड़ी समस्या का रूप थे।

अंततः मुझे मदद मिली

परामर्श के लगभग एक वर्ष बाद, सच का सामना करना मेरे लिए आसान हो गया है, हालांकि कभी कभी मेरे दिल में पीड़ा उठती है। खैर, आज मेरे लिए यह स्वीकार करना आसान है कि मैं हताश हो गया था क्योंकि मेरे अहं को चोट पहुंची थी। बहुत हिम्मत के साथ मैं हाल ही में माफी मांगने और स्वयं के दुख से मुक्ति पाने के लिए मीरा से मिला। मैंने उसे कहा, ‘‘मीरा मुझे माफ करना कि मैं कभी तुम्हें बता नहीं सका कि तुम मेरे लिए कितनी मायने रखती थी,’’ ‘‘मैं जानता हूँ कि तुम मेरे जीवन में वापस आने की इच्छा नहीं रखती और मैं तुम्हारे निर्णय का सम्मान करता हूँ। मैं बस इतना चाहता हूँ कि तुम खुश रहो।”

Couple on trekking

मुझे पूरी तरह से ठीक होने में थोड़ा समय लगेगा। लेकिन मैं अभी से हल्का महसूस कर रहा हूँ।

सेक्स के प्रति उसके रूख ने किस तरह उनका विवाह बर्बाद कर दिया

एकतरफा प्यार में क्या है जो हमें खींचता है

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.