मुझे अपने विवाह में स्वीकृति, प्यार और सम्मान पाने में 7 साल लग गए

मैं सबकी लाड़ली बच्ची थी जो छोटे शहर मैं पैदा हुई थी और वहीं पली बढ़ी थी। 2007 में मेरी पढ़ाई पूरी करने के बाद, मैं बैंगलोर चली गई और वहां काम करने लगी। कुछ वर्षों बाद, मेरे माता-पिता ने मेरे लिए उपयुक्त वर ढूंढ लिया। उन्होंने कोलकाता से अच्छे परिवार की पृष्टभूमि के साथ … Continue reading मुझे अपने विवाह में स्वीकृति, प्यार और सम्मान पाने में 7 साल लग गए