Hindi

मुझे लगता है कि मेरे ससुराल में मेरा कोई महत्त्व नहीं है

पति हमेशा अपने माता-पिता की बात मानते हैं, मेरे विचार कोई मायने नहीं रखते
Beautiful girl looking into camera

प्रश्नः

हैलो मैडम,

मेरी कहानी अजीब है। हमारी शादी को 10 साल हो चुके हैं और हमारा 7 साल का एक बच्चा है। हम मेरे सास-ससुर के साथ रहते हैं। मेरे पति कभी अपने माता-पिता के विरूद्ध नहीं जाते हैं। मुझे लगता है कि घर में मेरा कोई महत्त्व नहीं है। हम लगभग हर दिन झगड़ते हैं और यह स्पष्ट रूप से दिखाता है कि उन्हें मुझमें कोई रूचि नहीं है और वह बस सबकी खातिर शादी निभा रहे हैं। संक्षेप में कहूं तो, चीज़ें अब बद से बदतर हो गई हैं और वह इसे हल करने के लिए कभी तैयार नहीं होते हैं। प्लीज़ गाइड कीजिए।

ये भी पढ़े: क्या हुआ जब पूरा ससुराल मेरे खिलाफ खड़ा था…

Hindi counselling

सलाहकार स्निग्धा मिश्रा कहती हैं:

हैलो डीयर,

यह एक अजीब स्थिति नहीं है बल्कि एक बेहद आम घरेलू समस्या है। आपके द्वारा मुझे दी गई बहुत सीमित जानकारी से, मैं सलाह दूंगी कि आपके पति के साथ आपके वर्तमान रिश्ते की स्थिति के बारे में बातचीत करें। प्लीज़ समझिए कि विवाह आप दोनों के बारे में होता है। विस्तरित परिवार आपकी शादी या संबंध नहीं होता है। तो आपको संबंध को सफल बनाने की ज़रूरत के बारे में उससे बात करने की आवश्यकता है। अगर उससे बात करने से कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकले तो आप पेशेवर की मदद प्राप्त कर सकती हैं।

ये भी पढ़े: ससुराल वालों के साथ रहने के फायदे और नुकसान

जोड़ों की थेरेपी/ परामर्श विस्तरित परिवार के दबाव से निपटने और बेहतर संचार बनाने, सहानुभूति उत्पन्न करने और साझेदारों के बीच सकारात्मक संबंध बनाने के तरीके सीखने में बहुत मददगार है।

शुभेच्छा!
स्निग्धा


Hindi counselling

जब उसने अपने ससुराल वालों से बात करने का फैसला लिया

मेरे लुक्स के बारे में मेरे ससुराल वालों की टिप्पणियां मुझे दुख पहुंचाती थीं और फिर मैंने अपना आत्म सम्मान वापस पाया

जब मैंने अपने ससुराल वालों को खुश करने की कोशिश करना बंद कर दी तो मैं अधिक खुश रहने लगी

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No