पत्नी की क्रूरता के सबूत के बिना, अदालत में इसे साबित कैसे करूं?

It is always possible to prove wife's cruelty in court.

प्रश्नः

सर, मैंने आपके द्वारा एक पाठक को दी गई सलाह पढ़ी जिसका प्रश्न थाः ‘मेरी पत्नी मुझे छोड़ कर चली गई लेकिन मुझे तलाक दायर करने से डर लगता है कि कहीं वह मेरे खिलाफ दहेज का झूठा मामला ना दर्ज कर दे’। उसके लिए आपका उत्तर थाः ‘आप क्रूरता और विलंब के आधार पर आपके निवास क्षेत्र या विवाह के स्थान पर संबंधित पारिवारिक न्यायालय के समक्ष तुरंत तलाक याचिका दायर कर सकते हैं। वह दहेज प्रोहिबिशन एक्ट के तहत और भारतीय दंड संहिता की धारा 498 ए के तहत मामला दर्ज कर सकती है, लेकिन माननीय सर्वोच्च न्यायालय के अनुसार, आपको गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है। दूसरा, अगर उसके द्वारा दायर किए गए किसी भी मामले से पहले आपके द्वारा तलाक दायर किया गया है, तो आप कोर्ट को यह भी बता सकते हैं कि उसने करारे जवाब के रूप में आपके खिलाफ एक झूठा मामला दर्ज किया है।’

ये भी पढ़े: पेरानोइड व्यक्तित्व विकार से पीड़ित पति/ पत्नी के साथ रहना

मेरी समस्या हैः

मेरे पास पत्नी की क्रूरता का मजबूत सबूत नहीं है। मैं उससे तंग आ गया और उसके द्वारा मेरे खिलाफ 498 ए दायर करने से पहले मैंने तलाक दायर कर दिया, फिर भी मैं फंसा हुआ हूँ। उसने मुझे छोड़ दिया, अदालत से सुरक्षा मांगी, और वैवाहिक घर में निवास के लिए अधिकार मांगा। उसके बाद मैंने तलाक दायर किया। जब उसे तलाक के समन प्राप्त हुए, उसने आरसीआर सेक्शन 9 दायर कर दिया और कहा, मैं इसके साथ रहना चाहती हूँ लेकिन यह मुझे छोड़ रहा है।’

कृपया सुझाव दें कि मुझे क्या करना चाहिए। मैं दूसरे पुरूषों को सुझाव दूंगा कि हमेशा अपनी पत्नी की क्रूरता के पुख्ता सबूत इकट्ठा करें (उसके फोन रिकार्ड करें और टेक्स्ट मेसेज संभाल कर रखें) और सिर्फ तभी आगे बढ़ें नहीं तो वे मेरी तरह अटक जाएंगे। मेरी पत्नी को पैसे भी चाहिए क्योंकि वह कमा नहीं रही है। यहां से मेरे लिए एक लंबी चढ़ाई होगी। क्या आपके पास मेरे लिए कोई सलाह है?

ये भी पढ़े: उस धोखेबाज ने मुझे इस धमकी से ब्लैकमेल किया कि वह मेरी तस्वीरें सबसे ज़्यादा बोली लगाने वाले को बेच देगा

नंदीश ठाकर कहते हैं:

आप तुरंत तलाक याचिका की जल्द सुनवाई के लिए आवेदन कर सकते हैं, क्योंकि उस याचिका पर सुनवाई होने और निर्णय लिए जाने के बाद आपकी पत्नी द्वारा दायर याचिका निष्फल हो जाएगी। सबूत के संबंध में, आप वकील के माध्यम से अपनी पत्नी को कटघरे में खड़ा कर के भी सबूत ले सकते हैं और उचित प्रश्न उठाकर अपनी बात साबित करने का प्रयास कर सकते हैं। भले ही क्रूरता के हर सबूत कागज़ पर हां, लेकिन आपके द्वारा दायर तलाक याचिका में प्रमुख सबूत द्वारा यह साबित हो सकता है। रखरखाव के संबंध में, जब तक कि आप यह साबित करने में सक्षम ना हों जाएं कि वह कमा रही है या उसने अपना मायका छोड़ दिया है या वह कमाने में सक्षम है लेकिन कमा नहीं रही है, तब तक आप सीआरपीसी की धारा 125 के तहत संबंधित अदालत की गणना के अनुसार रखरखाव का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी होंगे।

शुभेच्छा,
नंदीश

एक अधेड़ उम्र की औरत से प्यार करने के लिए उसे पीटा गया और दंडित किया गया

मेरी उच्च अपेक्षा वाली प्रेमिका के कारण मैं कर्ज में हूँ! मदद करो!

Spread the love
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.