प्रेम को समझने के लिए वासना महत्त्वपूर्ण क्यों है

Meenu Mehrotra
lovers-in-embrace0A

अधिकांश लोगों द्वारा वासना को एक गंदा, कमतर शब्द माना जाता है और फिर भी प्रेम को समझने की हमारी यात्रा पार करने के लिए यह एक बुनियादी मार्ग है।

हम में से अधिकांश, विशेष रूप से वे जिनकी शादी कम उम्र में हुई हो उन्हें प्यार और वासना के बीच अंतर करना मुश्किल लगता है। और हम इसे इतना महत्त्वपूर्ण भी नहीं समझते कि इस पर कुछ विचार करें- आखिरकार, अगर आप विवाह से खुश हैं और आपको सेक्स की नियमित खुराक मिल रही है, तो यह समझने की ज़हमत क्यों उठाएं कि क्या यह सच में प्यार है जो आपको साथ में बांधे हुए है या फिर वासना है जो आपको शादी को बचाए हुए है। याद रखिए कि दोनों आवश्यक है।

वासना आग है और प्यार ईंधन और एक के बिना दूसरा ज़्यादा देर नहीं टिक पाता है।

ये भी पढ़े: प्रेम संबंध मेरी सेक्स रहित शादी को बचाने में मेरी मदद करता है।

हम जुनून की चरम सीमा को प्यार समझ बैठते हैं और जब संबंध/विवाह के शुरूआती उत्साह के बाद सब ढेर हो जाता है, तब वही बचता है जो वास्तविक होता है। अक्सर, जब बच्चे पैदा हो जाते हैं और हम शादी के साथ चुपचाप जुड़े रहते हैं, इसे प्यार कहना ही सुरक्षित और सुविधाजनक है और इसी में समझदारी है।

यह प्यार नहीं था

लेकिन यहाँ विरोधाभास है; हमारे अंदर प्यार को विकसित करने के लिए जुनून की उस कसक से गुज़रना भी ज़रूरी है लेकिन साथ ही, सच्चे प्यार का अर्थ जानने के लिए इन दोनों के अंतर को समझना भी आवश्यक है।

यह जानने में मुझे 16 साल लग गए कि जो मेरी शादी में मैंने अनुभव किया, वह प्यार नहीं था।

वह प्यार का भ्रम था। और भ्रम के बारे में अजीब बात यह है कि यह बिल्कुल सच की तरह लगता और महसूस होता है….‘‘माया”। लेकिन फिर भी मेरी अंतआर्त्मा को शुरू से ही पता था कि मेरी शादी में कुछ कमी थी, हालांकि यह पता लगाना मेरे लिए कठिन था कि क्या कमी थी।

दो प्यारे बच्चे, सुरक्षित जीवन, एक देखभाल करने वाला पति, सब कुछ सही लग रहा था और मैंने इसे प्यार का नाम दिया था।

रिश्ते बनाना मुश्किल है, उन्हें बनाए रखना और भी मुश्किल

वासना और प्यार के बीच एक अंतर है

क्या यह वही सब नहीं है जिसकी मैंने कामना की थी? लेकिन वह सब एक छाया में था- सब अंधेरा था, रोशनी अभी भी बहुत दूर थी। हालांकि यह मेरे चेतन और अचेतन मन में घूम रहा था लेकिन अभी भी मैं इसे स्वीकार नहीं कर पा रही थी….मेरी जागरूकता ने अभी तक दस्तक नहीं दी थी।

ये भी पढ़े: मैं अपनी पत्नी से प्रेम करता हूँ क्योंकि वह भिन्न है

तो गुम होने और विवाह, जो बाहरी दुनिया को बिल्कुल सही लगता था, में तथाकथित तौर पर खुश होने के 16 सालों बाद मैं खोई हुई कड़ी को समझ सकी।

मैं गेहूँ से भूसे की तरह वासना से प्यार को अलग कर सकती थी। और रहस्योद्घाटन गाहने की तरह था।

जब मैं कथा लेखक बनी, मैंने अपने लेखन के माध्यम से खुद का सामना किया, दूसरे पुरूषों के साथ बातचीत की, उनके साथ गहरी दोस्ती की, और सच्चाई सामने आ गई।

मैं नहीं जानती थी कि मैं अपने पति (अब विलग) से बहुत ज़्यादा गहरा प्यार नहीं करती थी। अगर मैं करती, तो मैं उसके साथ रहना चाहती- बच्चों के लिए नहीं बल्कि उसके और हमारे लिए।

विवाह प्यार नहीं है

मुझे शादी और प्यार के विरोधाभास का भी अहसास हुआ। वे दो अलग-अलग आयाम थे जो कभी-कभी परस्पर व्याप्त और मिल सकते थे, लेकिन वे एक दूसरे से अलग थे। पहली वाली एक व्यवस्था थी, और दूसरा एक कंपन -मनुष्य के रूप में हमारी सर्वोच्च आवृत्ति।

इस शक्तिशाली कंपन को एक जीवित व्यवस्था में फिट करना सुबह की ताज़ा, पर्वतीय हवा को एक डब्बे में कैद करने जैसा है -प्रयास करना भी बेकार है।

ये भी पढ़े: मारा विवाह हाल ही में हुआ है लेकिन कई समस्याएं हैं- मुझे क्या करना चाहिए

आपको शरीरों के बीच आग महसूस करने की ज़रूरत है; आपको एक दूसरे के प्रति आकर्षित होने की ज़रूरत है- चाहे आपकी या आपके संबंध की उम्र कुछ भी हो, और प्यार का अनुभव करने के लिए वह उत्प्रेरक है। फिर भी आपको एक को दूसरे से अलग करके समझने की ज़रूरत है, तब भी जब वे अच्छी तरह मिले हुए हों।

वासना एक शारीरिक इच्छा है – किसी के पास होने, स्पर्श करने, उनकी उपस्थिति महसूस करने की। प्यार आत्मा है; शरीर मंदिर है और वासना उस दिव्य मंदिर की अभिव्यक्ति है।

मैं वरीष्ठ और समझदार हूँ

अब, 50 के लगभग उम्र की और प्यार में होने पर, मैं अपने 20 के दशक की तुलना में प्यार को एक अलग स्तर पर समझती हूँ। वासना के प्रति समर्पण ने मुझे सशक्त और बगैर शर्त के प्यार की शक्ति के बारे में बहुत कुछ सिखाया है।

वासना, भावनाओं के असंतुलन और बोझ के बगैर, शरीर की शुद्ध, अनारक्षित इच्छा है। यह एक पवित्र आग है जिसमें उन सभी भ्रमों को छिपाने की ज़रूरत है जो प्यार का मुखौटा लगाते हैं। आपको अपने अस्तित्व में गहराई से दफन प्यार की असली मणी को उजागर करने के लिए वासना का सामना करने से डरना नहीं चाहिए।

पाँच संकेत जो दर्शाते हैं कि आपका पुरूष आपसे पागलों की तरह प्यार करता है

प्यार जताने के लिए पुरूष ये 6 चीज़ें करते हैं

You May Also Like

2 comments

Dr.Rajesh Singh December 9, 2019 - 8:11 pm

Great thoughts. You should be interpreted more dimensions about Amorousness & Love. Thanks

Jitendra February 13, 2018 - 8:15 am

Like very much

Leave a Comment

Login/Register

Be a part of bonobology for free and get access to marvelous stories and information.