Hindi

संबंध छोड़कर जाना इतना मुश्किल क्यों होता है, तब भी जब वह आपको प्यार ना करता हो?

क्या आप स्वयं को प्यार से बाहर निकलने के लिए बाध्य कर सकते हैं?
ranbir-in-ae-dil-hai-mushkil

प्यार एक कठिन काम है। वे कौन सी चीजें हैं जो हमें प्यार में पड़ने पर बाध्य करती हैं? इसमें से कितना कुछ पारस्परिक संबंध पर निर्भर करता है?

यहां आपके दर्द-ए-दिल पर एक अंतर्दृष्टि है

हममें से वे जिन्होंने ऐ दिल है मुश्किल देखने का प्यारा सा गुनाह किया है, वे जानते हैं कि फिल्म में फवाद खान के आकर्षण से ज़्यादा भी कुछ था। जीवन ने हमें भी कई बार अलिज़ेह बनाया है। यह हमेशा ऐसा लगता है जैसे हम गलत लोगों के प्यार में पड़ रहे हैं-वे जो बदले में हमें प्यार नहीं दे सकते। लेकिन एकतरफा प्यार के बावजूद, हमें भावनाओं से दूर जाना मुश्किल लगता है। ऐसा क्यों है कि हम ऐसे व्यक्ति को भूल नहीं सकते जो हमसे प्यार नहीं करता?

ये भी पढ़े: क्या होता है जब एक शादीशुदा स्त्री को अपने बॉस से प्यार हो जाता है?

पात्रता

यह वह प्रकार है जो यह बात स्वीकार नहीं कर सकता कि कोई व्यक्ति उन्हें ठुकरा सकता है। वे या तो नितांत सकारात्मकता द्वारा प्रेरित होते हैं या फिर विषैले अहंकार द्वारा जो ‘ना’ को एक अस्वीकृति मानने में विफल रहता है बल्कि इसे हाँ तक पहुंचने का एक मार्ग मानता है। पात्रता वाले प्रकार के लिए, कृपया यह समझने की कोशिश कीजिए कि आपका आकर्षक व्यक्तित्व और अद्वितीय करिश्मा इस प्रेम कहानी में आपकी सहायता करने में असफल रहा है। आप जिसे चाहती हैं वह इतना भोला है कि आपको प्यार नहीं करता, इसे स्वीकार कर लीजिए और पीछे लौट जाइये।

ranbir-in-ae-dil-hai-mushkill

चुनौती

पीछा करने के खेल को कुछ ज़्यादा ही महत्त्व दिया जाता है। एक हारी हुई बाज़ी के पीछे भागना एक व्यर्थ का काम है, लेकिन दिल तो बच्चा है जी। हम इसे एक चुनौती मान बैठते हैं कि हम, एक सही कदम के साथ, उस व्यक्ति को यकीन दिला देंगे कि हम ही वह व्यक्ति हैं जो प्यार करने योग्य है। हम इसे अपने अहं पर ले लेते हैं और थोड़ी ज़्यादा कोशिश करने लगते हैं, क्योंकि अपने मन में तो हम एक आदर्श प्रेम कथा पहले ही लिख चुके हैं और हम उसे हकीकत में बदलना चाहते हैं। आपके दिमाग में हार्मोन आपको मना चुके हैं कि आप दोनों एक दूजे के लिए ही बने हैं और आप उसे अपना बनाने की चुनौती से पीछे नहीं हट सकते हैं।

ये भी पढ़े: मेरे प्रेमी की प्रिय पत्नी, मैं तुम्हारा घर तोड़ने के लिए खुद को दोषी नहीं मानती

फ्रैंडज़ोन

अगर वे हमें दोस्त की तरह प्यार कर सकते हैं तो वे थोड़ा और आगे बढ़ कर रोमांस क्यों नहीं कर सकते? हाँ, प्यार में ज़्यादा समझ नहीं है लेकिन बहुत सारे तर्कहीन विचार ज़रूर हैं। कई सारी एकतरफा प्रेम कहानियाँ केवल दोस्ती प्रस्तुत करती हैं और कुछ नहीं। एक साथी की तरह प्यार करना एक दोस्त की तरह प्यार करने से अलग कैसे है। जब हम एक दोस्त के रूप में पूरी तरह एक दूसरे के लिए सही हैं, तो यह रोमांस तक बढ़ाया क्यों नहीं जा सकता? इसके लिए कोई फॉर्मुला नहीं है। कुछ लोग दोस्त बनने के बाद प्रेमी बन जाते हैं जबकि हममें से कुछ करीबी दोस्त बने रह सकते हैं लेकिन कभी एक-दूसरे को प्रेमी की नज़र से नहीं देख सकते; यह अनुमान लगाने योग्य चीज़ नहीं है। अगर यह होना होगा तो हो ही जाएगा। कहा जाता है कि अगर यह नहीं हो रहा है तो कभी नहीं होगा। कोई ज़बरदस्ती प्यार नहीं करा सकता।

friend-zoned-from-ranjhaana

क्योंकि हम अकेले प्यार करते हैं

प्रेम एक ऐसी भावना नहीं है जो पारस्परिक संबंध द्वारा उपजे। एक संबंध में भी, हम तराजू द्वारा तोलकर प्यार नहीं करते। प्यार मस्तिष्क के एकांत में जीवित रहता है। ऐसे किसी व्यक्ति के प्रति प्यार महसूस करने में कुछ बुराई नहीं है जो आपको प्यार ना करता हो। अक्सर, हम वैधता की आवश्यकता के लिए ऐसा करते हैं, लेकिन इसकी बजाए, हमें प्यार करने का आनंद लेना चाहिए, भावनाओं के प्रत्युत्तर की अपेक्षा किए बगैर। दो लोगों के किसी भी संबंध में, भावनाओं की असमानता होती है। दो लोगों के दो समान भावनात्मक नक्शे नहीं हो सकते और हमें वह स्वीकार कर लेना चाहिए और ‘मैं भी’ सुनने की आवश्यकता द्वारा प्रेरित नहीं होना चाहिए।

मेरे प्रेमी की प्रिय पत्नी

मैंने एक अपमानजनक विवाह को त्याग दिया लेकिन फिर भी मुझे मेरे पति की याद क्यों आती है?

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No