संबंध समस्याओं को हल करने में ‘मेकअप सेक्स’ उतना सहायक नहीं है जितना आप समझते हैं

girl-with-green-socks

हाँ, असहमति और बहस के एक दौरे के बाद मेकअप सेक्स आपके सेक्स जीवन को उत्साहित करने के एक आदर्श तरीके की तरह प्रतीत हो सकता है, लेकिन इस जाल में बार-बार फंसने से सावधान रहें।

मेकअप सेक्स सबसे अच्छा काम तब करता है जब संयम से, और एक आवश्यकता के रूप में किया जाए, लेकिन अगर यह सेक्स करने और एक-दूसरे के साथ अंतरंग होने का एकमात्र तरीका बन जाए, तो संबंध में कुछ गड़बड़ है और इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़े: विवाह के बाद पोर्न देखना ठीक क्यों है

यह एक बड़ा भ्रम है कि अधिक झगड़े करना आपके यौन जीवन में वृद्धि कर सकता है।

भावनात्मक और यौन अंतरंगता के लिए गहन समझ और एक-दूसरे के प्रति सम्मान की आवश्यकता होती है। और जैसे-जैसे संबंध/विवाह की उम्र बढ़ती जाती है, उत्तेजना और जुनून कम हो जाता है और ऊब एवं दिनचर्या बनने लगता है। हम सबकुछ शयनकक्ष के भीतर ले आते हैं, विशेष रूप से विवाह में -वित्त पर असहमति या अन्य तुच्छ मामलों पर असहमति जैसे छुट्टियों पर कहां जाना है, या फर्नीचर कहां रखना है; परवरिश की चुनौतियां; रिश्तेदारों की चुनौतियां; वृद्ध माता-पिता, आपका कैरियर, आपका स्वास्थ्य और यह सब आपके सेक्स जीवन को प्रभावित करता है। और लड़ाई निश्चित रूप से जोश को बढ़ा सकती है और वासना की आग में ईंधन के रूप में कार्य कर सकती है। यह आपके दहकते हुए भाग को भी बाहर ला सकती है और आपको अत्यधिक उत्तेजित महसूस करवा सकती है – बेहतरीन सेक्स के लिए सर्वोत्तम सामग्री, है ना?

लेकिन सावधान रहें। इसके साथ में विरोधाभास भी है। मेकअप सेक्स की लत लगने की संभावना (जो काफी हद तक संभव है) काफी अधिक हैं, क्योंकि इससे आप लड़ाई के बाद बेहतर महसूस करते हैं।

ये भी पढ़े: सहवास के दौरान लड़की ने कहा रूको, फिर लड़के ने क्या किया?

अधिकांश जोड़े झगड़ों को अपने विवाह के एक भाग के रूप में स्वीकार कर लेते हैं और या इसे अनदेखा करना, या प्रबंधित करना सीख लेते हैं, जो लंबे समय तक के लिए स्वस्थ नहीं है। जोड़े विवाद और असहमति से कैसे निपटते हैं इसका सीधा संबंध उनके बीच की भावनात्मक और यौन अंतरंगता पर पड़ता है।

लड़ाई क्रोध और अपमान से भरे संवाद का विरोधात्मक रूप है, और इसलिए विनाशकारी है। कुछ शोधों से पता चलता है कि इसके द्वारा पहुंचाई गई क्षति की भरपाई नियमित मेकअप सेक्स द्वारा नहीं की जा सकती।

ये भी पढ़े: पुरूष पहली ‘डेट’ में स्त्री के बारे में क्या नोटिस करते हैं

जोड़ों के शोधकर्ता जॉन गॉटमैन ने यह खुलासा किया है कि जोड़े जो एक-दूसरे के प्रति दया और उदारता महसूस करते हैं – विशेष रूप से असहमति, गलतफहमी और संघर्ष से निपटने के लिए – उनके संबंध दीर्घायु और लंबी अवधि तक प्रेमपूर्ण होते हैं। लेकिन वे जो अवमानना, आलोचना और विरोध अभिव्यक्त करते हैं – या केवल एक-दूसरे के प्रति उदासीनता व्यक्त करते हैं -उनमें तलाक या एक भावनात्मक रूप से क्षतिग्रस्त संबंध की स्थिति में बंधे रहने की संभावना अधिक होती है।

इसलिए हमेशा लड़ाई की जगह समझ और दया का चयन करें। असहमतियां रखना अच्छा है लेकिन उनके लिए लड़ना बहुत स्वस्थ नहीं है, भले ही वह आपके प्रेम जीवन को दस गुना अधिक मसालेदार बना दें।

5 तरह से विवाह मेरी कल्पना के विपरीत निकला

हम संतान चाहते हैं लेकिन असमर्थ हैं। मैं और मेरी पत्नी दोनों तनावग्रस्त हैं। कृपया सुझाव दीजिए

जब पत्नी के एक फ़ोन ने मुझे अपनी हरकतों पर शर्मिंदा किया

Spread the love
Tags:

Readers Comments On “संबंध समस्याओं को हल करने में ‘मेकअप सेक्स’ उतना सहायक नहीं है जितना आप समझते हैं”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.