संजय दत्त के जीवन की उल्लेखनीय महिलाएं

Sanjay dutt's family

24 अप्रैल को, राजू हिरानी की आगामी फिल्म ‘संजू’ का टीज़र बड़ी प्रशंसा के साथ अनावृत किया गया। अनावरण के तुरंत बाद, टीज़र को सोशल मीडिया पर हज़ारों बार पोस्ट और शेयर किया गया। अभिनेता संजय दत्त की जीवनी संजू, इस साल की एक बहुत प्रतीक्षित फिल्म होने वाली है क्योंकि उद्योग का बेचारा अमीर लड़का संजय 20 साल की उम्र से ही विवादों से घिरा रहा है।

ये विवाद हमेशा मीडिया ने नहीं बनाए हैं। उन्होंने बिना किसी ठोस व्यवहारिक कारण के आत्म विनाश के मार्ग पर चलकर विवादों को आमंत्रित किया है। वह ना सिर्फ एक स्थिर और प्रेमपूर्ण परिवार से आए हैं बल्कि उन्हें अपने पूरे जीवन में श्रेष्ठ महिलाओं का साथ भी मिला है। कुछ महिलाएं उन्हें कुछ समय तक परेशानियों से दूर रखने में कामयाब रही हैं और कुछ को कोई सफलता हासिल नहीं हुई है।

फिल्म के टीज़र के मुताबिक संजय 308 लड़कियों के साथ रहा है। यह अतिश्योक्ति हो भी सकती है और नहीं भी। हम उन सभी 308 लड़कियों को नहीं जानते लेकिन आइये उनके जीवन की कुछ महत्त्वपूर्ण महिलाओं को देखें।

ये भी पढ़े: पूजा भट्ट हमेशा बॉलिवुड की पसंदीदा नायिका रहेगी

उनकी ज़िंदगी की पहली महिला – उनकी माँ

उनके जीवन की पहली महिला, उनकी माँ नरगिस से शुरूआत करना ही उचित है। एक महान अभिनेत्री होने के साथ-साथ, नरगिस अपनी समाज सेवा के लिए भी जानी जाती थीं। उन्होंने और संजय के पिता सुनिल दत्त ने सिनेमा, सामाजिक कार्य में रूचि साझा की और उनका विवाह भारतीय फिल्म उद्योग के इतिहास में सबसे प्रेमपूर्ण विवाह रहा है। फिर भी उनके बेटे ने किशोरावस्था से ही ड्रग्स लेना शुरू कर दिया। नरगिस ने उन्हें सुधारने की कोशिश की लेकिन वह गंभीर रूप से बिमार पड़ गई और सुनील दत्त उनकी देखभाल करने में व्यस्त हो गए। 1981 में संजय की फिल्म रॉकी के रिलीज़ होने से ठीक पहले उनकी माँ का निधन हो गया। इसने संजय की ड्रग्स की लत को और बढ़ा दिया।

एक महान अभिनेत्री होने के साथ-साथ, नरगिस अपनी समाज सेवा के लिए भी जानी जाती थीं।
नरगिस ने उन्हें सुधारने की कोशिश की लेकिन वह गंभीर रूप से बिमार पड़ गई और सुनील दत्त उनकी देखभाल करने में व्यस्त हो गए।

ये भी पढ़े: वहीदा रहमान और गुरु दत्त की अनकही कहानी: रील या रियल

उनकी बहने उनका सहारा रही हैं

नरगिस के बाद, उनकी बहन नम्रता और पिता ने उनके पुनर्वास का ख्याल रखा और फिल्म उद्योग में उन्हें फिर से स्थापित किया। उन्होंने 1985 में जान की बाज़ी के साथ फिर से प्रवेश किया। प्रिया उनसे बहुत छोटी हैं। लेकिन अपने पिता के निधन के बाद राजनीति में होने के कारण, उन्होंने अपने बड़े भाई की मदद करने के लिए अपनी पूरी कोशिश की, खासकर तब जब वह अपने आपराधिक मामलों से लड़ रहे थे।

उनकी ज़िंदगी की र्यूमर्ड महिलाएं

टीना मुनीम

उनकी पहली फिल्म में संजय की नायिका टीना मुनीम थी। रोमांस वास्तविक जीवन में भी आ गया। लेकिन टीना उन्हें ड्रग्स और शराब की लत से बाहर नहीं निकाल सकी। उसने उन्हें बहुत वृद्ध राजेश खन्ना के लिए छोड़ दिया।

रिचा शर्मा

संजय अपनी सह अभिनेत्री रिचा शर्मा के प्यार में पागल हो गए। उन्होंने 1987 में शादी कर ली। उन्होंने एक बेटी त्रिशला को जन्म दिया। लेकिन जिस तरह संजय को अचानक प्यार हो गया था वैसे ही उनका प्यार अचानक खत्म भी हो गया। दिल टूटने के बाद, रिचा अपने माता-पिता के पास अमेरिका चली गई। उसके बाद संजय का अपनी पत्नी या अपनी बेटी के साथ मुश्किल से कोई संपर्क था। 1990 तक कई सुंदर लड़कियों के साथ उनका लिंकअप होने लगा। ब्रेन ट्यूमर से जूझने के बाद रिचा की दु:खद मृत्यु हो गई।

ब्रेन ट्यूमर से जूझने के बाद रिचा की दु:खद मृत्यु हो गई।
संजय अपनी सह अभिनेत्री रिचा शर्मा के प्यार में पागल हो गए।

माधुरी दिक्षित

1990 का दशक शुरू होने पर संजय और माधुरी एक हिट जोड़ी बन गए। उनका रोमांस गॉसिप पत्रिकाओं का मसाला बन गया। वे अपने रिश्ते के बारे में कभी खुले नहीं थे। हालांकि, जब 1993 में संजय को हथियार के अवैध पज़ेशन के कारण टाडा के तहत गिरफ्तार कर लिया गया, तब माधुरी ने खुद को संजय से पूरी तरह दूर कर लिया। संजय फिर से अकेले हो गए। उस समय उनका करियर चोटी पर था। उनके करियर को भी एक बड़ा झटका लगा।

संजय और माधुरी
संजय और माधुरी का रोमांस गॉसिप पत्रिकाओं का मसाला बन गया।

रिया पिल्लई

1993 के बाद, संजय दत्त और उनका परिवार उनकी निर्दोषिता साबित करने और जमानत पाने के लिए अदालत में लड़ने में व्यस्त हो गए। वह कई बार जेल जा चुके हैं। इस बुरे समय में वह मॉडल/ सोशलाइट/ योग गुरू रिया पिल्लई से प्यार कर बैठे। 1998 में उन्होंने शादी कर ली। लेकिन विवाह ज़्यादा समय तक नहीं टिक सका क्योंकि वे अलग-अलग जगहों पर पूरी तरह से भिन्न व्यक्ति थे। 2005 में जब उनका तलाक हुआ, वे अलग-अलग रह रहे थे और अलग- अलग लोगों को डेट कर रहे थे।

रिश्ते बनाना मुश्किल है, उन्हें बनाए रखना और भी मुश्किल

ये भी पढ़े: जब हमें बॉलीवुड के व्याभिचारिणी चरित्रों से प्यार हो गया

नादिया दुर्रानी

अफवाह यह है की संजय ने रिया के साथ शादी के शुरूआती दिनों से ही नादिया को डेट करना शुरू कर दिया था। रिया अदालत की सुनवाई में उनका साथ देती थी लेकिन इस धोखे से वे क्रोधित हो गईं। शायद इसीलिए उन्होंने अपनी शादी तोड़ दी। नादिया संजय के लिए ओब्सेस्ड़ थी और अमेरिका पहुंच गई जहां उनकी फिल्म कांटे की शूटिंग चल रही थी। ऐसा कहा जाता है कि उसने संजय को उनके कमरे में महिला सह कलाकार के साथ देख लिया। उसके बाद उसने उन्हें छोड़ दिया।

मान्यता

मान्यता हिंदी फिल्मों में एक छोटी सी आइटम डांसर थी। संजय उन्हें तुरंत पसंद करने लगे। तलाक, अदालत का मुकदमा और पिता की मृत्यु का दुख झेल रहे संजय को मान्यता के साथ सुकून और स्थिरता मिली। उन्होंने 2008 में अपनी बहनों की इच्छा के खिलाफ मान्यता से शादी कर ली। 2010 में वे जुड़वा बच्चों के माता-पिता बन गए। संजय को अपनी सबसे बड़ी बेटी त्रिशला से जोड़ने में मान्यता की मुख्य भूमिका थी। 2014 से 2016 तक जेल में कुछ समय बिताने के साथ उनपर चल रहा टाडा मामला अंततः खत्म हो गया।

ये भी पढ़े: बॉलीवुड के 10 प्रसिद्ध वास्तविक जीवन के प्रेम त्रिकोण

मान्यता हिंदी फिल्मों में एक छोटी सी आइटम डांसर थी।
उन्होंने 2008 में अपनी बहनों की इच्छा के खिलाफ मान्यता से शादी कर ली।

जेल से रिहा होने के बाद उनके जीवन का एक नया अध्याय शुरू हो गया है। वह उम्र के साथ नरम हो गए हैं। वह एक पारिवारिक पुरूष हैं। उन्होंने नई फिल्मों में काम करना भी शुरू कर दिया है। उनका दोस्त राजू हिरानी उनकी बायोपिक संजू बना रहा है और वह भी फिल्म के बारे में उतने ही उत्साहित हैं जितने की हम!

Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.