Hindi

शादीशुदा हूँ मगर बॉयफ्रेंड के साथ रहना चाहती हूँ

मेरा विवाहित जीवन प्रेमहीन है. तो ऐसे में मुझे उसके साथ नहीं रहना चाहिए जिसे मैं असल में प्रेम करती हूँ?
young-couple-holding-hands

प्रश्न:

प्रिय मैम,

मैं एक शादीशुदा लड़की हूँ. अभी भी मेरी पढ़ाई चल रही है. मैं कॉलेज में एक लड़के से मिली। वो भी विवाहित है. हम शुरू शुरू में तो सिर्फ एक दुसरे को देखते भर थे, मगर फिर उसने मुझे मैसेज भेजने शुरू कर दिए. सिलसिला यूँ ही चलता रहा और फिर हम देर रात को फ़ोन पर बातें करने लगे.

हम बिना जाने बूझे एक दुसरे की तरफ आकर्षित होने लगे और अब हमें एक दुसरे से प्रेम हो गया है. यूँ तो हम दोनों ही शादीशुदा हैं मगर सच्चाई ये है की हम अपने साथियों को प्यार नहीं करते. हम दोनों अब साथ रहना चाहते हैं, मगर समझ नहीं आ रहा है की इसे कैसे संभव करें. कृपया आप कुछ सलाह दें.

ये भी पढ़े: मेरा बॉयफ्रेंड प्यार दिखाता है, मगर फिर शादी से मुकरता है.
Hindi counselling
मल्लिका पाठक कहती हैं:

प्रिय सखी

बहुत बहुत बधाई की आपने शादी के बाद भी पढ़ाई करने का फैसला किया. यह कदम यक़ीनन आपके भविष्य में बहुत लाभप्रद होगा.

अब बात आपके प्रश्न की करते हैं. मैं समझ सकती हूँ की इस स्तिथि में आप कितना कन्फ्यूज्ड होंगी। मेरा आपसे पहला सवाल यह है की क्या आपके और आपके पति के बीच की दूरियां कम की जा सकती हैं या नहीं?
[restrict]
ये बात मैं नज़रअंदाज़ नहीं कर सकती की आप विवाहित हैं और इसलिए मेरी पहली राय और कोशिश आपके विवाहोतर सम्बन्ध को ख़त्म करने की होगी. मैं तो सबसे पहले यही कोशिश करूंगी की आपकी शादी संभल जाए. एक दुसरे से बात करें, विवाह सलाहकार से मिलें. अगर आपको फिर भी लगता है की आपदोनो के बीच की दूरी को ख़त्म करने का कोई उपाय नहीं है तो फिर आप एक दुसरे से कानूनी तौर पर अलग होने का सोच सकते हैं.

ये भी पढ़े: “प्रिय पति. मैं रोज़ रात को तुम्हारा फ़ोन चेक करती हूँ”

एक बार ये हो जाये फिर आप इस कथित व्यक्ति के साथ अपना रिश्ता आगे बढ़ा सकते हैं.

अगर आपने अपनी शादी भी बरक़रार रखने की कोशिश की और अपना अफेयर भी चलने दिया, तो आप सिर्फ अपने लिए मुश्किलें ही पैदा करेंगी. कभी कभी हम सही इंसान तो ढूँढ़ते हैं मगर वक़्त गलत होता है. मगर उस गलत वक़्त में हम अगर उस रिश्ते को और हवा देने लगे तो चीज़ें बिलकुल बिखर जाएँगी. मैं आपको सलाह दूँगी की आप अपनी शादी को सही तरीके से आंकिये, और समझिये की आपकी शादी में क्या मुद्दे हैं जो आप दोनों के रिश्ते में खटास बढ़ा रही हियँ.

इसके अलावा मेरी आपको यही सलाह है की जब तक आप अपनी शादीशुदा ज़िन्दगी का आंकलन सही तरीके से न कर लें, आप उस कॉलेज के साथी के साथ अपने देर रात के फ़ोन कॉल और मेसेज सिमित ही रखें. आपको कुछ समय चाहिए अपने अंतर्द्वंद को सुलझाने के लिए और ये होना तभी सम्भव् है जबी आप उस व्यक्ति के साथ थोड़ी सी दूरी बनाएं.

हो सके तो किसी विशेषज्ञ की सलाह लें क्योंकि मेरा मानना है की एक नया परिपेक्ष्य आपके रिश्तों को बेहतर समझने में मददगार होगा.

शुभकामनाएं

मल्लिका
[/restrict]

हमने दस साल, तीन शहर और एक टूटे रिश्ते के बाद एक दुसरे को पाया

मैं अपने पति से प्यार करती हूँ लेकिन कभी-कभी दूसरे पुरूष से थोड़ा ज़्यादा प्यार करती हूँ

5 स्त्रियां बताती हैं कि उन्हें उनके पति सबसे ज़्यादा सेक्सी कब लगते हैं


Hindi counselling

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No