उन स्त्रियों के लिए 5 युक्तियां जो पहली बार सेक्स करने जा रही हैं

man-kisses-her-woman

कौमार्य (वर्जिनिटी) गरिमा नहीं है, अवसर का आभाव है। संभोग के आधार पर मस्तिष्क, शरीर और आत्मा की शुद्धता का निर्णय करना पुराने चलन और गुज़रे जमाने का है। लेकिन अब भी महत्त्वपूर्ण यह है कि क्या आपका मस्तिष्क और शरीर इस बदलाव के लिए तैयार है या नहीं। एक बुरा यौन अनुभव हर अगले संबंध को प्रभावित कर सकता है जो आपके सामने आएगा।

सेक्स एक प्रकिया है, एक पल नहीं।

बहादुर बनें और नई चीज़ों का प्रयास करें लेकिन यह समझने के बारे में सावधान भी रहें कि आप क्या चाहते हैं। याद रखें कि अगर आप ‘ना’ कहती हैं तो आप किसी भी समय रूक सकती हैं अगर आप असहज महसूस कर रही हैं। केवल इसलिए कि आपका साथी उत्तेजित है इसका अर्थ यह नहीं कि आपको उन्हें कुछ देना है। आनंद स्वाभाविक होना चाहिए निर्मित किया हुआ और समझौता किया हुआ नहीं होना चाहिए। आगे बढ़िए और अपना साहसिक कार्य कीजिए। हम सब पहली बार बिना किसी निर्देश पुस्तिका के जी रहे हैं। हम गलतियां करने के लिए बाध्य हैं। यह सबसे अच्छा है कि हम उनसे सीखें और फिर से उन्हें ना दोहराएं।

ये भी पढ़े: 7 व्यायाम जो बेहतर सेक्स की गारंटी देते हैं

सही साथी के साथ

डेटिंग एक कठिन कार्य है। हम अपने सबसे अच्छे कपड़े पहनते हैं और सबसे अच्छा व्यवहार करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि आप तब तक किसी व्यक्ति को नहीं जानते हैं जब तक उनके पास सोकर जागते नहीं हैं लेकिन तब तक शायद बहुत देर हो सकती है। व्यक्ति को मुखौटे से परे जानने का प्रयास करें। देखें कि वह अन्य लोगों के साथ कैसा बर्ताव करता है, विशेष रूप से अधीनस्थों के साथ। जीवन के प्रति उनके दृष्टिकोण के बारे में अधिक बात करें और अपनी संगतता का मूल्यांकन करें। आपको उस व्यक्ति के साथ पूरा जीवन बिताना ज़रूरी नहीं है जिसके साथ आपने पहली बार सेक्स किया था लेकिन यकीन मानिए वह व्यक्ति हमेशा आपकी यादों में रहेगा जिसके साथ आपने कौमार्य खोया था। ऐसे किसी व्यक्ति का चयन ना करें जिसके साथ आप जीवन की इतनी विशेष याद बिताने का अफसोस करेंगे।

Happy couple
सही साथी के साथ

सही जगह पर

आप नहीं चाहते की आपका पहला अनुभव रेस्त्रां की पिछली गली में झटपट सेक्स का हो। पहली बार सेक्स करना बहुत दबाव भरा होता है और आपको इसे असुविधाजनक स्थान पर व्यर्थ नहीं करना चाहिए। अपनी नज़दीकी मुलाकात की योजना बनाएं या फिर स्वाभाविक रहें लेकिन स्थान आपकी पसंद का होना चाहिए -भाग्य से या रचना से।

सही समय पर

सही समय का अर्थ दिन का सटीक क्षण चुनना नहीं बल्कि जीवन का सटीक क्षण चुनना है। चाहे कॉलेज का पहला वर्ष हो या आपकी शादी की पहली रात, यौन रोमांच शुरू करने के समय का निर्णय आप पर है। जब आपके शरीर की बात आती है तो सहमति और पसंद आपकी है।

ये भी पढ़े: पुरूष बताते हैं कि जब वे ही हमेशा सेक्स की शुरूआत करते हैं तो उन्हें कैसा महसूस होता है

Couple holding hands
सही समय पर

सही भाव के साथ

गलत कारणों के लिए सेक्स मत कीजिए। केवल इसलिए हां नहीं कहें क्योंकिः

-आपका साथी आपको मजबूर कर रहा है
-आपके दोस्त कर रहे हैं
-यह संबंध का अगला चरण है
-आप नकली शर्मीली स्त्री नहीं कहलाना चाहती
आपको सेक्स केवल तब करना चाहिए जब आप इच्छुक हों अन्यथा नहीं

सही मानसिकता के साथ

ये भी पढ़े: वाइब्रेटर का इतिहास

सेक्स किसी ऐसे संबंध को, जो अन्यथा असफल है, जीवित रखने का उपकरण नहीं है । यह किसी रूमानी संबंध में निश्चित नहीं है। फिर भी, यह दुनिया का अंत भी नहीं है। आप इस कार्य को बहुत ज़्यादा निषेध ना समझे। आप किसी एक साथी के साथ यौन संबंध बना सकते हैं और भविष्य में उनके साथ नहीं भी हो सकते हैं। आपको किसी संबंध में केवल इसलिए बंधे नहीं रहना चाहिए क्योंकि आपने आपके साथी के साथ सेक्स किया है, बशर्ते कि वह साथी बहुत अच्छा हो।

सही सुरक्षा के साथ

एक बार जब आप अपना मन बना चुकी हैं और आपका शरीर तैयार है, तब आपको सुरक्षा के बारे में सोचने की आवश्यकता है। अपने स्त्रीरोग विशेषज्ञ से गर्भनिरोधक गोली के बारे में बात करें जो आपके शरीर को सूट होती हो। अपने ओवुलेशन केलेंडर और आपातकालीन गर्भनिरोधक के बारे में पढ़े और जाने। आप गर्भवती होना चाहती हैं या नहीं, अंतिम निर्णय आपका रहता है। तो सेक्स के समय एक सूचित निर्णय लें। गर्भावस्था एकमात्र वस्तु नहीं है जो सेक्स के कारण होती है। कई एसटीडी (यौन संचारित रोग) हैं जो आपको प्रभावित कर सकते हैं और रोकथाम इलाज से कहीं ज़्यादा बेहतर है क्योंकि कुछ मामलों में अभी तक कोई इलाज नहीं है। एसटीडी छोटे से लेकर एचआइवी और एड्स जितने बड़े भी हो सकते हैं। इसलिए एक पुरूष साथी के साथ कंडोम का उपयोग करना और स्त्री साथियों के बारे में सूचित होना हमेशा बेहतर होता है। ईमानदारी सभी संबंधों का आधार होना चाहिए, इसलिए अपना मन बनाते समय अपने साथी के साथ उचित जानकारी साझा करें।

Contraceptive pills
सही सुरक्षा के साथ

अपने दिल की सुनें

सबकुछ कहने सुनने के बाद, सेक्स ना केवल अंतरंगता का एक रूप है बल्कि एक भावनात्मक संचार भी है। हर पहली बार करने वाले के लिए जादू को पकड़ने का यह एक विशेषधिकार है। अपने साथी से बात करें, एक दूसरे के साथ साझा करें कि आप क्या चाहते हैं, अपनी अपेक्षाओं और इच्छाओं के बारे में बात करें। क्या आपको बगैर बालों के करना है, क्या आपको कुछ किंक वाला करना है। सेक्स एक शक्ति नहीं है जो आप दूसरे पर छोड़ते हैं बल्कि इंद्रियों को समर्पण है। चाहे यह पहली बार हो या 378वीं बार, जादू आपके साथी के साथ आपकी इच्छा को साकार करने में है। यह कभी ना भूलें।


https://www.bonobology.com/vivaah-k-baad-porn-dekhna-kyu-theek-hai/
https://www.bonobology.com/hum-prem-me-nahi-vasna-me-lipta-hain-usne-kaha/

Spread the love
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.