उसकी भावनाओं को चोट पहुचाए बिना बिस्तर में ना करने के 5 उपाय

एक स्वस्थ यौन संबंध विकसित करना

एक जोड़े के लिए, यौन रूप से संगत होना और एक स्वस्थ यौन जीवन होना उतना ही महत्त्वपूर्ण है जितना कि समान भविष्य के लक्ष्यों को साझा करना या सुसंगत व्यक्तित्व होना। इस विवाहित जोड़े की यही कहानी है। सुनील और प्रीति ने कुछ महीने डेटिंग करने के बाद शादी कर ली, जिस चरण में वे यौन रूप से संलग्न नहीं थे। शादी के बाद प्रीति को अहसास हुआ कि भले ही उसे सुनील के साथ अंतरंग होने में मज़ा आता था, लेकिन सुनील जितना निरंतर सेक्स करना चाहता था उतना वह नहीं चाहती थी। शुरू में वह मन ना होने पर भी यह करती गई क्योंकि वह नहीं जानती थी कि उसकी भावनाओं को चोट पहुंचाए बगैर मना कैसे करे। कुछ समय बाद, इसकी वजह से शादी में कड़वाहट आ गई। वह छोटी-छोटी बातों पर भी सुनील से निरंतर खीझने लगी। इस वजह से, वह सुनील को दंडित करने के लिए जानबूझकर सेक्स से परहेज़ करने लगी। अंततः इसने शादी में दरार पैदा कर दी और उन्होंने परामर्श लेने का फैसला किया।

ये भी पढ़े: एक झगड़े के बाद उत्तम सेक्स के लिए 5 नुस्खे

इसने शादी में दरार पैदा कर दी और उन्होंने परामर्श लेने का फैसला किया।
वह दंडित करने के लिए जानबूझकर सेक्स से परहेज़ करने लगी

ना कहने में सक्षम नहीं?

उनके लिए चीज़ें कहीं बेहतर हैं और वे सुखी जोड़े की अपनी वास्तविक स्थिति में लौट आए हैं। हालांकि, शुरूआती चरणों में अधिकांश विवाहों और दीर्घकालिक संबंधों में व्यक्तियों के अपने साथियों को ना नहीं कह पाने का मुद्दा बहुत आम है। इस समय, जोड़े एक दूसरे के साथ सहज हो रहे होते हैं और अक्सर अपने साथी की भावनाओं के प्रति विशेष रूप से सचेत होते हैं।

कभी-कभी जब आप मूड में नहीं होते हैं और यह व्यक्त करना मुश्किल हो सकता है।

उस समय का इंतज़ार कर सकते हैं जब आपको लगता है यह बेहतर काम करेगा
मैं थकी हुई हूँ और बस नेटफ्लिक्स देखकर सोना चाहती हूँ

ये भी पढ़े: अपनी प्रेमिका के प्रति हर पुरूष के मन में ये 7 सेक्सी विचार आते हैं

अपने शब्दों को सावधानीपूर्वक चुनना

सेक्सोलॉजिस्ट के मुताबिक ये कुछ तरीके हैं जो आपके साथी को धीरे से मना करने में प्रभावी हैं।

1. एक कारण देना मददगार हो सकता है और दूसरा साथी यह सोचने से बच सकता है कि उससे क्या गलती हो गई। यह उन्हें बताने का अच्छा तरीका है कि आपकी अनिच्छा का उनके साथ कोई लेना देना नहीं है। यहां तक कि एक छोटा सा बहाना जैसे ‘‘मैं थकी हुई हूँ और बस नेटफ्लिक्स देखकर सोना चाहती हूँ” भी काम कर सकता है।

2. आप मना कर सकते हैं और उस समय का इंतज़ार कर सकते हैं जब आपको लगता है यह बेहतर काम करेगा। इस तरह से निराशा संक्षिप्त लगेगी। उदाहरण के लिए, आप कह सकती हैं, ‘‘अभी नहीं, लेकिन कल सुबह बच्चों के स्कूल जाने के बाद करें?’’

3. अगर संभव हो, तो आप पहले से ही अपने साथी को सूचित कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, अगर आप जानते हैं कि काम पर आज का दिन बहुत लंबा होने वाला है तो आप सुबह कुछ कह सकते हैं। यह किसी भी तरह की निराशा या भ्रम को रोकेगा क्योंकि वह पहले से ही तैयार रहेगा।


4. आप बस ना कह सकते हैं और अंतरंगता के अन्य तरीकों का उपयोग कर सकते हैं जैसे लिपटना या हाथ थामना। शायद एक गहरी बातचीत आरंभ करना?

https://www.bonobology.com/wah-pyar-mei-pagal-ho-gai-thi-aur-na-sunne-k-liye-tayyar-nahi-thi/https://www.bonobology.com/purush-bataate-hain-jab-ve-hi-hamesha-sex-ki-shuruaat-karte-hain-toh-unhe-kaisa-mahsoos-hota-hai/
Spread the love
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.