उस शादीशुदा पुरूष को कैसे भूलूं जिसके प्रति मैं आकर्षित हूँ

Mallika Pathak
sad lady thinking

प्रश्नः

हैलो मैम,

जब मैं स्कूल में थी तब मैं उसे एक फैमिली फ्रैंड के रूप में जानती थी। मेरे बड़े होने पर, मेरे साथ उसकी दोस्ती बढ़ चुकी है और पिछले कुछ महीनों से हमारी मुलाकातें रोमांटिक होती जा रही हैं। लेकिन अब वह एक बीवी-बच्चों वाला आदमी है और अब भी वह मुझसे मिलने आता रहता है। मैं एक कॉलेज की छात्रा हूँ और वह बहुत बड़ा है। समस्या यह है कि मैं उसके प्रति आकर्षित हूँ और उसके मैसेज की आदी भी हूँ।

पिछले एक साल से, वह कुछ वैवाहिक समस्याओं से गुज़र रहा है। जहां मैं उसकी ओर आकर्षित हो रही हूँ और उसे दिमाग से नहीं निकाल पा रही हूँ, वह भी मुझे गले लगाने/ किस करने/ पकड़ने का मौका नहीं छोड़ता है। हम ज़्यादातर वॉट्स एैप के द्वारा कनेक्ट करते हैं। लेकिन मैं इस सब में गहराई से नहीं जाना चाहती! हालांकि अभी तक कोई ‘अफेयर’ नहीं है जिसके बारे में कहा जा सके, मैं उसे भूल जाना चाहती हूँ और अपने दिमाग से निकाल देना चाहती हूँ। लेकिन मैं ऐसा करने में पूरी तरह असमर्थ हूँ! प्लीज़ मेरी मदद कीजिए।

मल्लिका पाठक कहती हैः

प्रिय कॉलेज की लड़की,

किसी को भी भूलना आसान नहीं है।

प्रारंभिक मज़बूत ‘‘नो कॉन्टेक्ट” नियम होने से निश्चित रूप से आगे बढ़ने में आपकी सहायता होगी। चूंकि आप जीवन में आगे बढ़ना चाहती हैं और ये सब पीछे छोड़ना चाहती हैं, तो सबसे पहली चीज़ जो करने का मैं आपको सुझाव दूंगी वह है इस व्यक्ति के साथ सारे संपर्क तुरंत बंद कर देना। ना कॉल, ना मैसेज चैट और बिल्कुल कोई मीटिंग नहीं। यह मुश्किल होगा, क्योंकि आप तवज्जो के लिए और ज़्यादा तरसेंगी। चिंता मत कीजिए। यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है।

अपने दिमाग को कार्यों एवं शौक में लगाए रखें। स्वयं को काम में व्यस्त रखें। दोस्तों के साथ फिर से जुड़ें, एक शौक चुनें और उसे आगे बढ़ाएं।

एक भरोसेमंद दोस्त को विश्वास में लें। वह आपकी मदद कर सकता है अगर आपको महसूस होता है कि आपके लिए उतना ज़्यादा आत्म-नियंत्रण करना मुश्किल है। उनसे कहिए कि आप पर नज़र रखें; या ज़रूरत होने पर आपके फोन को भी ले लें। याद रखें, यह आपके ही अच्छे के लिए है।

एक साथी और संबंध से आप क्या चाहती हैं उसके बारे में विचारशील रहें। वर्तमान संबंध की अच्छाईयां और बुराइयां सूचीबद्ध करने जैसे छोटे से कार्य मदद करेंगे। जब आप ऐसा करते हैं तो आप स्वयं के प्रति ईमानदार रहें।

सबसे महत्त्वपूर्ण बात है आत्म विकास पर ध्यान केंद्रित करना। स्वयं को विशेष महसूस करवाएं। स्वयं को वह प्यार और तवज्जो दें जिसके आप काबिल हैं। स्वयं की सराहना करें। यह समझने के लिए उत्कृष्ट समय होगा कि आप वास्तव में कौन हैं। तुरंत दूसरे रिश्ते में ना कूदें। स्वयं को ठीक करने के लिए कुछ समय दें।

इन सभी भावनाओं को संसाधित करने के लिए थैरिपी का सहारा लें। यह एक उत्साहजनक अनुभव होगा।

मेरी शुभेच्छा,
मल्लिका

Hindi counselling

You May Also Like

1 comment

Leave a Comment

Let's Stay in Touch!

Stay updated with the latest on bonobology by registering with us.