Hindi

एक विवाहेतर संबंध के दो पहलू

निष्टा का सिक्का उछालना
People-on-Bench

“या तो आप प्यार में हो सकते हैं या बुद्धिमान हो सकते हैं” बॉब डायलान

एक फिल्म से राजकपुर का डायलॉग याद करें, ‘‘प्यार में बड़े से बड़ा आदमी भी बच्चा बन जाता है जी,’’। और फिर हमारे पास ‘अंधे प्यार’ का वाक्यांश है। और हम जानते हैं कि अपनी प्रेयसी के पास जाने की कोशिश में कालिदास सांप को रस्सी समझकर उसके सहारे उपर चढ़ गया था! यह कोई रहस्य नहीं है कि प्रेम, भले ही कितना भी आकर्षक और मादक क्यों ना हो, वह हमें बेवकूफ, तर्कहीन और मूर्ख बना देता है। जब यह छुप कर आता है, तो हम बिल्कुल बेफिक्र हो जाते हैं और नतीजों की परवाह नहीं करते, हमारे प्रेमी से ज़्यादा महत्त्वपूर्ण और कुछ नहीं होता। स्पेक्ट्रम के दूसरे छोर पर, जब प्यार एकतरफा हो तो यह हमें आत्महत्या करने को आतुर अवसादग्रस्त पागलों में बदल सकता है, या इसके विपरीत एक ऐसे पागल व्यक्ति में बदल सकता है जो पूरी दुनिया से गुस्सा है। लेकिन अक्सर, यह प्यार ही है जो उदासीन हो चुके व्यक्ति के उद्धारकर्ता के रूप में आता है। प्यार अकेले ही हमारे जीवन में अर्थ और योग्यता ला सकता है और हमारे दिन तथा रातों को भौतिक रूप से साथ और आराम से भर सकता है।

ये भी पढ़े: उसने अपने पति को धोखा दिया और अब डरती है कि कहीं उसका भी कोई संबंध ना हो

cheating-signs
Representative Image Image Source

अब, कल्पना करो की यह अनिवार्य विश्वास, जिसकी हिफाज़त बहुत लगन से की गई हो, उस पर ठप्पा लगाकर सील बंद किया हो, लेकिन उसमें छेद हो जाएं। और फिर वैक्यूम बंद डिब्बे लीक होने लगते हैं…और यह जानने से बदतर क्या हो सकता है कि हाड मांस का शरीर जिसपर सिर्फ हमारा अधिपत्य था, वह किसी और की बाहों में सूकून पा रहा है? हर अन्य शब्द को फीका करते हुए जो शब्द उभरता है वह है धोखा! हम अपना आपा खो देते हैं! यदि एक वैध प्यार हमें तर्कहीन, बेवकूफ और मूर्ख बना सकता है, तो क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि इस प्यार का विश्वासघात हमारे लिए क्या कर सकता है? खासकर जब उस प्रेम पर बहुत सारी चीज़ें निर्भर होती हैं हम, बच्चे, परिवार, घर, काम। हमें अपने दिमाग और लगाव को खोना होता है। हम झूठ बोलने पर क्रोधित होते हैं, असहाय महसूस करते हैं और इस तरह निराश और प्रतिकूल महसूस करते हैं, अपमानित होने पर दर्द महसूस करते हैं, हम धोखा दिए जाने पर स्वयं पर दया खाने लगते हैं, और हम भावनात्मक दर्द और शक से भरे भविष्य में झुलस जाते हैं -क्योंकि हम ऐसे साथी पर कैसे भरोसा कर सकते हैं जिसने इस तरह का मौलिक विश्वासघात किया है!

Please Register for further access. Takes just 20 seconds :)!

जब आपको सच्चा प्यार मिलेगा तब आपको कैसे पता चलेगा?

मैं अपने विवाह में सुखी थी और फिर भी मैंने अपने एक्स के साथ संबंध बना लिया।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No