Hindi

यह कैसे सुनिश्चित करें कि प्यार में आपकी कोशिशें समझी जाएं

एक साथी यह सोच सकता है कि वह अपने रोजाना के कामों द्वारा अपना प्यार का संदेश दे रहा है, लेकिन हो सकता है दूसरा साथी उस संदेश को ठीक से प्राप्त न कर पा रहा हो। हर व्यक्ति के लिए प्यार की भाषा अलग होती है।
man folding shoeless

आप  सोचते हैं कि  आप  उसके साथ इतने लंबे समय से रह रहे हैं जो  उसके लिए  यह जानने के लिए काफी है कि आप उसके साथ चीजें करना पसंद करते हैं, जैसे फिल्म देखना। लेकिन फिल्मों के मामले में आपकी पसंद अलग-अलग है, इसलिए ज्यादातर आप अपनी पसंदीदा फिल्म अकेले ही देखते हैं।

या आप खुद को अनलव्ड महसूस करती हैं क्योंकि वह आपके किसी भी काम की प्रशंसा नहीं करता पर जब आप उससे बात करती हैं तो आपको पता चलता है कि उसके अनुसार सुबह का आलिंगन सब कुछ व्यक्त कर देता है।

ये भी पढ़े: वो एनिवर्सरी गिफ्ट जो उसने प्लान नहीं किया था

आपके रिश्ते में बहुत समय से संवाद गायब है

मैं जानती हूँ कि हम सभी दर्जनों छोटे और बड़े  उदाहरण दे सकते हैं जहां हम अपने रिश्ते में  कुछ कमी पाते हैं। अधिकांश समय इसका निष्कर्ष एक ही शब्द पर निकलता है  – संवाद।

जाना-पहचाना सा लगता है?

मैं  एक ऐसे कपल को जानती हूँ  जो हर महीने  का एक दिन  दोनों में से किसी एक की पसंद का काम करते हुए गुजारते हैं। महीने का सिर्फ एक दिन और वो भी हर दूसरे महीने। दूसरा क्या चाहता है इसके बारे में इसने उनका पूरा अनुभव बदल दिया है और वे देने के लिए तैयार थे।

तो आप यह कैसे सुनिश्चित करेंगे कि प्यार जताने की आपकी कोशिशें समझी जाए और आपको भी किसी प्रकार से उसका प्रतिफल प्राप्त हो?

1 प्यार  की भाषा अलग-अलग भाषा!

हाँ, यह सही है कि हम सभी प्यार की अलग-अलग भाषाएं बोलते हैं ।

कुछ लोग  पार्क में घूमने को प्यार मानते हैं और कुछ मानते हैं कि गुलाबों का गुलदस्ता प्यार है। और ऐसा ही बहुत कुछ है—-।

ये भी पढ़े: हमने दस साल, तीन शहर और एक टूटे रिश्ते के बाद एक दुसरे को पाया

गैरी चैपमेन की ‘दि लव लैंग्वेजेसः हाउ टू एक्सप्रेस हाटफेल्ट कमिटमेंट टू यूअर मेट’ के अनुसार वास्तव में प्यार की पाँच भाषाएँ होती हैं। ये हैं:

1 स्वीकारोक्ति के शब्दः अपने साथी की प्रशंसा करना, मौखिक पीडीए।

2 क्वालिटी टाइमः साथ में गुज़रा हुआ समय

3  उपहार प्राप्त  करनाः  एक-दूसरे को उपहार  या प्यार की निशानी से सरप्राइज़ करना

4 मदद के कार्यः  बिना कहे मदद करना

5 भौतिक स्पर्शः हाथ थामना और अधिक पास आना।

जब आपको यह महसूस हो जाएगा कि आपका प्यार बाँटने का विचार आपके साथी के प्यार की अभिव्यक्ति से बिलकुल अलग है, तो आप आधी लड़ाई जीत लेंगे।

ये भी पढ़े: ५ लोग बताते हैं की कैसे प्यार ने उन्हें बेहतर बनाया

जब आपको यह महसूस हो जाएगा कि आपका प्यार बाँटने का विचार आपके साथी के प्यार की अभिव्यक्ति से बिलकुल अलग है, तो आप आधी लड़ाई जीत लेंगे।

क्योंकि आप कहें या न कहें  लेकिन यह पूरा रिलेशनशिप एक युद्ध की तरह लगता है और आप दोनों एक-दूसरे के आमने-सामने होते हैं—-

लेकिन अब आप महसूस करते हैं कि आप दोनों वास्तव में  एक ही तरफ हैं। क्या सुकून है!

On the same side
Image source

ये भी पढ़े: प्यार की एक दुखभरी दास्तान

सुझावः आप अपने और अपने साथी की भाषा को जानने के लिए गैरी चैपमैन की वेबसाइट पर प्रश्न पूछ सकते हैं

2 जासूसी करना बनाम सुनना

नताशा, 36 (बदला हुआ नाम) एक शर्मिंदगी भरी मुसकान देती हैं ‘‘छोटे शहर में  पढ़ते हुए जब हम डेट कर रहे थे, वह मेरे लिए  लंबी दूरी तय करके पेस्ट्री लाता था। मुझे पेस्ट्री पसंद नहीं और मैं बिना सोचे समझे खुद को कुछ कहने से रोक नहीं सकती थी। मैं सोचती हूँ  कि उपहार लेना मेरे प्यार की भाषा नहीं  है। वास्तव में , मैं  घर या ऑफिस में काम का बोझ होने पर उसकी मदद प्राप्त करने को प्राथमिकता देती हूँ।

अरविंद, नताशा का पति और अपनी पत्नी की तरह ही  एक व्यस्त पेशेवर , उसके साथ समय बिताने के लिए इंतजार करता रहता है , लेकिन वह हमेशा  अपनी चीजों में उलझी रहती है। वह उसे आराम पहुंचाने के लिए उपहार  देकर सरप्राईज़ करना पसंद करता है, पर उपहार नताशा को ज्यादा प्रभावित नहीं  करते।

परेशान या तंग करने वाली इस प्यार की उलझन को सुलझाने के लिए, इसे पूरी तरह से समझना जरूरी है। यह करने के लिए दोनों को पीछे मुड़ कर देखने और  यह समझने की जरूरत  है कि एक व्यक्ति प्यार किस तरह पाना चाहता है।

या अपनी किताब में गैरी चैपमैन के मतानुसार, ‘‘प्यार को सभी पाँचों भाषाओं में अभिव्यक्त और प्राप्त किया जा सकता है । हालांकि अगर आप किसी व्यक्ति की प्राथमिक प्यार की भाषा नहीं बोलते हैं तो वह प्यार महसूस नहीं करेगा, चाहे फिर  आप अन्य चार भाषाएं क्यों ना बोल रहे हों। अगर आप उनकी प्यार की  प्राथमिक भाषा बिना रुके बोलते हैं, तो आप अन्य चार भाषाएं भी बोल सकते हैं और यह सोने पर सुहागा होगा”

ये भी पढ़े: 10 बातें जो हर लड़की सुनना चाहती है लेकिन पुरूष कभी कहते नहीं

एक अच्छे रिश्ते  की नींव है किसी से ही चीज़ के बारे में बात करने में समर्थ होना – किसी के द्वारा जज किए बगैर।

और आप जितनी ज़्यादा बातचीत करेंगे, उतने ज़्यादा कॉमन प्वांइट्स का पता लगा सकेंगे – दस साल बाद भी। केवल तभी आप अगले चरण पर जा सकते हैं।

3  सिर्फ  बातचीत करने की बजाए सकारात्मकता लाएं

आप उन्हें यह कहना कैसे शुरू करते हैं कि आप उन्हें सुन नहीं सकते हैं?

इसे सकारात्मक रूप से कहें- उनके तरीके की प्रशंसा करते हुए कहें। यह चापलूसी जैसा लगता है?

यह काॅमन सेंस है—–

क्योंकि आप जानते हैं कि आप बातचीत की शुरुआत ‘ना’ से नहीं कर सकते हैं । इसलिए जो प्रयास और मेहनत उन्होंने आपके लिए की है उसके लिए मुस्कान दें और सकारात्मक प्रतिक्रिया दें।

ये भी पढ़े: क्या सिखाते हैं देवी-देवता हमें दांपत्य जीवन के बारे में

‘हम एक-दूसरे से खुले हुए हैं और हर बात एक-दूसरे को बताते हैं ।’ आप विरोध करते हैं।

यह अच्छा है । पर इसका मतलब एक दूसरे की राय को नज़रंदाज़ करना नहीं है।

एक रिलेशनशिप उबाऊ हिस्सों से भरी लंबी बातचीत जैसा होता है, मैं तुम्हें प्यार करता हूँ वाला हिस्सा, मुझे परवाह नहीं वाला हिस्सा, और आओ मिलकर सुलझाएं वाला हिस्सा, ये सब इसमें शामिल हैं, भावनाओं, मतों, विचारों और सामान्य हँसी-मजाक के नशीले मिश्रण में।

रिश्ते बनाना मुश्किल है, उन्हें बनाए रखना और भी मुश्किल

ये सभी एक साथ रहते हैं जब यह प्यार की स्थिरता से घिरे होते हैं।

यह करने के लिए आप को कई बार कुछ चीजों में मिठास लाने की जरूरत है, जिससे कि बिना किसी के यह सोचे कि उसे परखा जा रहा है या उसके दुखी हुए बिना  बातचीत जारी रहे।

याद रखें: प्यार का संचार दो तरफा रास्ता है । उनके तरीके की प्रशंसा करना शुरू करें, अपने विचार बताएं और  अंतर का आनंद लें। क्योंकि अंतर ही हैं जो आपको एक साथ लाए थे।

मैंने प्लेन में मिले एक लड़के से शादी कर ली

पिता की मौत के बाद जब माँ को फिर जीवनसाथी मिला

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also enjoy:

Yes No