ये बेडरूम के कुछ नुस्खे हैं!

couple in bed kissing

यौन कल्पनाओं की दुनिया में

स्ट्रेट, बाइसेक्सुअल और गे, हर व्यक्ति की यौन कल्पनाएं होती हैं। जहां इनमें से कुछ फंतासियां बिस्तर पर संपूर्ण आनंद प्रदान कर सकती हैं, वहीं दूसरी आपके साथी के लिए एक बड़ा टर्न ऑफ हो सकती हैं। जब सेक्स की बात आती है तो जोड़ों को सहज और स्वाभाविक होना चाहिए, लेकिन आप अपनी कल्पना को सच करने के लिए किस हद तक जा सकते हैं?

चीज़ें जो करने योग्य हैं

1. ब्लोजॉब

लड़कियों, मैं स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूँ, पुरूषों को ब्लोजॉब प्राप्त करना बहुत पसंद है। और अगर यह सफाई से किया जाए तो यह बहुत अच्छा होता है। पुरूषों को पसंद आता है जब स्त्रियां उनके एसेट्स को सराहती हैं। भले ही यह कितना भी मूर्खतापूर्ण लगे, अगर आपसी सहमति और दोनों पक्षों के पूरे इन्वॉल्वमेंट के साथ किया जाए, तो एक ब्लोजॉब सबसे कामुक फोरप्ले होता है जो आपके पुरूष को टर्न ऑन कर सकता है। हालांकि कई स्त्रियों के लिए ब्लोजॉब वाकई एक काम है। ऊपर और नीचे स्ट्रोक करना और कभी-कभी गैगिंग करना थोड़ा असहज हो सकता है, लेकिन यह आपके पति को जताने का एक और ईशारा है कि आप उसके प्रति अपने प्यार में पूरी तरह आत्म समर्पण कर चुकी हैं।

ये भी पढ़े: हमारी शादी प्यार रहित नहीं थी, बस सेक्स रहित थी

2. मिशिनरी एक क्लासिक मुद्रा है

सभी पुरूषों को ये जानने की ज़रूरत है कि स्त्रियों को मिशिनरी मुद्रा बहुत पसंद आती है। पुरूषों को डॉगी स्टाइल जितनी पसंद है, उतनी ही स्त्रियों को मिशिनरी मुद्रा पसंद है, क्योंकि वे अपने पति को पकड़ सकती हैं, उसकी आंखों में देख सकती हैं और प्यार करते समय उसे किस कर सकती हैं। यह निश्चित रूप से स्त्रियों के लिए टर्न ऑन है जहां पुरूष उसे देखता है और करते समय उसे खुद को पकड़ने की अनुमति देता है। स्त्रियों को खुद पर पुरूषों का वज़न महसूस करना भी पसंद है जिससे उन्हें सुरक्षा और बचाव की भवना भी मिलती है। एक सच्चे अर्थ में स्त्रियां मिशिनरी मुद्रा में संबंध बनाने के दौरान पुरूष की शक्ति को जान सकती है।

यह निश्चित रूप से स्त्रियों के लिए टर्न ऑन है
यह निश्चित रूप से स्त्रियों के लिए टर्न ऑन है

3. ताकत का खेल
आत्मसर्मपण एवं/अथवा नियंत्रण लेना, एक जोशीले सेक्स सत्र के दौरान इस तरह का ताकत का खेल पुरूषों और स्त्रियों दोनों के लिए करने योग्य वस्तु है। जहां अधिकांश स्त्रियां प्रभुत्व में रहना चाहती हैं, पुरूष कभी-कभी स्त्रियों को नियंत्रण देने में कोई बुराई नहीं समझते। 69 (या जिसे हिंदी में उल्टा पुल्टा कहा जाता है) एक ऐसी मुद्रा है जहां दोनों एक दूसरे के सामने आत्मसमर्पण कर देते हैं और इसलिए यह एक लोकप्रिय सेक्स मुद्रा है। बिस्तर पर एक स्त्री को डॉमिनेट करने का अर्थ यह नहीं है कि आप हिंसक हो रहे हैं, यह सिर्फ इतना है कि आप उसे अपने अनुसार गतिविधी करवा रहे हैं। स्पैंकिंग, अभद्र भाषा, थप्पड़ मारना, थूकना आदि को एक प्यार भरे संबंध या वन नाइट स्टैंड में सेक्सी नहीं माना जाता। जब सेक्स के सत्र में इस तरह के डॉमिनेशन और सबमिशन का इस्तेमाल किया जाता है तो इसमें रोल प्ले भी आज़माने योग्य चीज़ है।

ये भी पढ़े: क्या भारतीय अपने शरीर और सेक्स को लेकर अनजान हैं?

4. एक दूसरे के वस्त्र उतारना

खुद के कपड़े उतारना कितना उबाऊ हो सकता है? इसे मज़ेदार और रोचक बनाने के लिए, एक दूसरे के कपड़े उतारना सेक्सी है, हॉट है और पुरूष और स्त्रियों दोनों के लिए करने योग्य चीज़ है। उसे पसंद आएगा अगर आप उसकी ब्रा का हुक खोलें और उसे पसंद आएगा अगर आप उसकी पैंट की ज़िप खोलें। जब आप एक दूसरे के कपड़े उतारते हैं, तब आप एक दूसरे के शरीर को महसूस कर सकते हैं और यह दोनों के लिए बहुत बड़ा उत्तेजना कारक है।

5. बॉडी प्ले

यह हमेशा पेनिट्रेशन के बारे में नहीं होता। स्त्रियों के लिए बॉडी प्ले बहुत बड़ी ‘हाँ’ है। कभी-कभी पुरूषों के लिए, अगर एक स्त्री उसके मसल्स, उसके सीने को महसूस करे और स्खलित होने में उसकी मदद करे, तो यह हॉट और जोशीला हो सकता है। सेक्स शब्द अब संभोग द्वारा परिभाषित नहीं किया जाता। यह एक व्यापक स्पेक्ट्रम है जहां बॉडी प्ले, एक दूसरे के पास नग्न अवस्था में लेटना, एक दूसरे को छूना और महसूस करना, फ्रैंच किसिंग, एक दूसरे को मास्टरबेट करने में मदद करना ये सब बड़े एक्ट के भाग हैं।

हॉट और जोशीला
हॉट और जोशीला


चीज़ें जो बचने योग्य हैं

1. किस कीजिए लेकिन बाइट नहीं

जहां ब्लोजॉब के दौरान जीभ के उपयोग की बहुत सराहना की जाती है, वहीं पुरूषों को पसंद नहीं कि स्त्रियां उनके अस्त्र पर अपने दांतों का इस्तेमाल करें। भले ही आपका पति कितना भी ताकतवर क्यों ना हो, अगर आपने उसे बाइट किया तो मतलब आपने सत्र वहीं बर्बाद कर दिया। और स्त्रियों के लिए, जीभ का ज़्यादा उपयोग करके उनके मुंह को ज़्यादा ही गीला करना या उनके हांठां को काटना एक बड़ा टर्नऑफ है। किस और ब्लोजॉब कोमल होना चाहिए।

ये भी पढ़े: 5 स्त्रियां बताती हैं कि उन्हें उनके पति सबसे ज़्यादा सेक्सी कब लगते हैं

2. कोई फोरप्ले नहीं

आप व्यापार में भले ही सीधे मुद्दे पर आना चाहते हों, लेकिन बिस्तर में यह ऐसे काम नहीं करता। फोरप्ले के बिना सेक्स ऐसा है जैसे भोजन को चखे बिना उसे निगलना। लव मेकिंग में अंतिम लक्ष्य संभोग करना नहीं है। आपको एक दूसरे के शरीर को महसूस करने, एक दूसरे के साथ खेलने और एक दूसरे की मालिश करने की ज़रूरत है। प्यार के बिना सीधे मुद्दे पर पहुंचना स्त्रियों और पुरूषों दोनों के लिए बहुत बड़ी ‘ना’ है।

3. बिना फ्लेवर के कंडोम

अगर आप सुरक्षित ओरल सेक्स करना चाहते हैं, तो प्लीज़ अपनी गर्लफ्रैंड के लिए एक फ्लेवर्ड कंडोम ले आएं। एक बिना फ्लेवर का कंडोम दवाई जैसा होता है और उसका स्वाद बहुत बुरा होता है। यह ओरल सेक्स करने वाले के लिए बहुत बड़ी ‘ना’ है।

Spread the love
Tags:

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website.