क्या प्यार हमें सहमति को नज़रंदाज़ करने की अनुमति देता है, नहीं, भले ही बॉलिवुड ऐसा कहे!

क्या यह समानता है अगर अब भी पुरूष ही तय करे की उसे सहमति मांगनी है या नहीं? शारीरिक अंतरंगता के एक पल में जब मैंने सोचा कि मेरा काफी पुराना साथी और मैं समान मनोस्थिति में हैं, तो वह रूका और उसने मुझसे पूछा, ‘‘तुम्हें इससे कोई परेशानी तो नहीं है ना? क्योंकि मैं …

क्या प्यार हमें सहमति को नज़रंदाज़ करने की अनुमति देता है, नहीं, भले ही बॉलिवुड ऐसा कहे! Read More »